सोना तस्करी मामले में NIA ने की बड़ी कार्रवाई, इन दो शख्स को किया गिरफ्तार

केरल में 30 किलोग्राम सोने की तस्करी के केस में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मुख्य आरोपियों स्वप्ना सुरेश और संदीप नायर को शनिवार को बेंगलुरु से अरेस्ट कर लिया है।

Published by Aditya Mishra Published: July 11, 2020 | 11:36 pm
Modified: July 11, 2020 | 11:44 pm

बेंगलुरु: केरल में 30 किलोग्राम सोने की तस्करी के केस में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मुख्य आरोपियों स्वप्ना सुरेश और संदीप नायर को शनिवार को बेंगलुरु से अरेस्ट कर लिया है। तस्करी के मामले में एनआईए ने स्वप्ना समेत चार आरोपियों के खिलाफ मुकदमा भी पंजीकृत कर लिया है।

ये जानकारी आधिकारिक सूत्रों के हवाले से सामने आई है। रविवार को दोनों को एनआईए के कोच्चि के ऑफिस में लाया जाएगा। इस मामले में विपक्षी पार्टियों ने केरल की लेफ्ट सरकार पर भी जमकर निशाना साधा हैं।

इस मामले में शनिवार को केरल केरल के सीएम पिनराई विजयन ने कहा कि स्वपना सुरेश के एक सरकारी परियोजना में नियुक्ति हासिल करने के लिए दिए गए कथित फर्जी डिग्री प्रमाणपत्र को लेकर मिली शिकायत की जांच कराई जाएगी।

हर तरफ सोना-सोना: दुनिया का सबसे महंगा होटल, सब कुछ यहां Gold

सीएम पिनराई विजयन ने क्या कहा?

पिनराई विजयन ने कहा, ‘पुलिस को शिकायत मिली है। इसकी जांच कराई जाएगी।’ तस्करी रैकेट में स्वपना सुरेश का नाम आने के तत्काल बाद बीजेपी केरल के अध्यक्ष के. सुरेंद्रन ने आरोप लगाया कि आईटी सचिव और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के कार्यालय ने स्वपना का नाम हटाने के लिए दबाव बनाया।

उधर आरोपों के बाद केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा था कि वह सीबीआई जांच के लिए तैयार हैं। उन्होंने अपने प्रमुख सचिव एम शिवशंकर को भी उनके पद से हटा दिया है।

बता दें कि तिरुवंतपुरम से स्वपना सुरेश, सारिथ और संदीप नायर और एर्णाकुलम के फाजिल फरीद का नाम तस्करी मामले में आरोपियों के रूप में है। त्रिवेंद्रम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर राजनयिक के सामान के जरिए 30 किलोग्राम सोने की तस्करी के मामले में एनआईए ने स्वप्ना समेत चार आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।
एनआईए समेत केन्द्रीय एजेंसियों और सीमा-शुल्क विभाग ने केरल हाई कोर्ट में स्वपना सुरेश की अग्रिम जमानत याचिका विरोध किया था।

केरल के त्रिवेंद्रम इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर 5 जुलाई को एक राजनयिक लगेज से 30 किलोग्राम सोना जब्त किया गया। तस्करी रैकेट की मुख्य संदिग्ध स्वपना सुरेश सत्ताधारी वाम लोकतांत्रिक मोर्चा की सरकार की करीबी बताई जा रही है।

 

जयपुर एयरपोर्ट पर तस्करी का भंडाफोड़, दुबई से आया 32 किलो सोना जब्त

कौन है स्वप्ना सुरेश?

मालूम हो की  स्वप्ना सुरेश का जन्म अबू धाबी में हुआ है। वही पर उसकी पढ़ाई-लिखाई हुई है।
साल 2011 में उसने तिरुवनंतपुरम में एक ट्रैवेल एजेंसी में जॉब शुरू की। फिर उसने दो साल बाद एयर इंडिया एसएटीएस ज्वाइन कर ली, लेकिन 2016 में वह वापस अबू धाबी लौट गई, सुरेश को उसके बाद यूएई कंसुलेट में नौकरी मिल गई।

दरअसल उसे अरबी लैग्वेंज बहुत ही अच्छे से आती थी, जिससे कि वह अरब के बिजनेसमैन के नजदीक आ गई और उसने केरल के लिए कई प्रतिनिधिमंडलों को लीड किया।

फौरन खरीद लें सोना, इससे सस्ता फिर नहीं मिलेगा, यहां से करे खरीदारी

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App