इस चाइनीज ऐप से अलग हुए PM मोदी, अकाउंट किया डिलीट

चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चाइनीज ऐप Weibo से अपना अकाउंट डिलीट कर दिया है। PM मोदी इस ऐप से साल 2016 में जुड़े थे।

नई दिल्ली: चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चाइनीज ऐप Weibo से अपना अकाउंट डिलीट कर दिया है। PM मोदी इस ऐप से साल 2016 में जुड़े थे। बता दें कि चाइनीज ऐप Weibo भी उन 59 चीनी ऐप्स की लिस्ट में शामिल हैं, जिन्हें भारत सरकार ने बैन कर दिया है। इन चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाने के बाद अब PM मोदी ने भी चाइनीज ऐप Weibo से खुद को अलग कर लिया है, साथ ही इस पर अपलोड किए गए सभी वीडियोज को भी डिलीज कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल में आया नया पेंचः शिवराज और संगठन इन्हें लेकर है खींचतान

ऐप की तरफ से अनुमति देने में की जा रही थी देरी

अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीनी ऐप से अपना अकाउंट डिलीज करने में इतना समय क्यों लगा दिया। इसकी वजह ये है कि Weibo ऐप पर वीआईपी अकाउंट (VIP Account) हटाने के लिए कुछ खास नियम बनाए गए हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि इस ऐप पर वीआईपी अकाउंट को हटाने के लिए ऐप की तरफ से अनुमति देने में देरी की जा रही थी। जिस वजह से अकाउंट डिलीट करने में वक्त लगा। इस अकाउंट पर पीएम मोदी के 2 लाख 44 हजार फॉलोवर हैं।

यह भी पढ़ें: खतरे में कुर्सीः कांग्रेस अध्यक्ष व विधायक दल नेता की उठापटक और उपचुनाव

115 वीडियो में से 113 पोस्ट किए गए डिलीट

वहीं अब तक इस ऐप पर प्रधानमंत्री मोदी ने 115 वीडियो पोस्ट किए थे। इन वीडियो को भी आपसी सहमति के बाद डिलीट करना तय हुआ था, लेकिन कई कोशिशों के बाद भी अब तक केवल 113 वीडियो ही डिलीट किए जा सके हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि जिन दो पोस्ट को डिलीट नहीं किया गया है, उनमें पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की तस्वीर है और ऐप के लिए अपने राष्ट्रपति की तस्वीर को डिलीट कर पाना संभव नहीं है। इसीलिए अब तक ये दोनों पोस्ट डिलीट नहीं हुए हैं।

यह भी पढ़ें: प्रतापगढ़ के डीएम डॉ रूपेश कुमार कोरोना पॉजिटिव, 14 दिन के लिए हुए होम क्वॉरेंटाइन

सरकार ने लगाया 59 चाइनीज ऐप पर बैन

गौरतलब है कि भारत सरकार ने अहम फैसला लेते हुए सोमवार को 59 चाइनीज ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया है। अब इंडिया का कोई भी व्यक्ति बैन किए गए ऐप को डाउनलोड नहीं कर सकता। कहा जा रहा है कि सरकार ने सुरक्षा के लिहाज से ये फैसला लिया है। वहीं इन ऐप के भारत में बैन होने से चीन को तगड़ा झटका तो लगा ही है, साथ ही उसे काफी नुकसान भी हुआ है। हालांकि सरकार के इस फैसले से भारतीयों में खुशी की लहर है।

यह भी पढ़ें: चाइल्ड लाइन बच्चों के लिए कर रही ये अच्छा काम, वजह जान करेंगे तारीफ

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App