Top

भारत-बांग्लादेश के बीच होंगे ये अहम समझौतें, मोदी-शेख हसीना की वार्ता आज

पाकिस्तान से 1971 युद्ध में जीत के 50 साल पूरे होने और बांग्लादेश के अस्तित्व में आने के बाद आज दिल्ली और ढाका अपने साझेदारी का एक न्य रोडमैप तैयार करेंगे।

Shivani

ShivaniBy Shivani

Published on 17 Dec 2020 4:40 AM GMT

भारत-बांग्लादेश के बीच होंगे ये अहम समझौतें, मोदी-शेख हसीना की वार्ता आज
X
PM Modi-Sheikh Hasina
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश के प्रधानमंत्री शेख हसीना गुरुवार को डिजिटल शिखर सम्मेलन में शामिल होने जा रहे हैं। इस दौरान दोनों देशों के प्रमुखों के बीच अलग अलग क्षेत्रों से संबंधित कई समझौते होने की संभावना है। दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों के बीच आज होने वाली रणनीतिक वार्ता में कनेक्टिविटी से लेकर कारोबारी और आर्थिक सहयोग की परियोजनाओं का आगाज करेंगे।

डिजिटल शिखर सम्मेलन आज

पाकिस्तान से 1971 युद्ध में जीत के 50 साल पूरे होने और बांग्लादेश के अस्तित्व में आने के बाद आज दिल्ली और ढाका अपने साझेदारी का एक न्य रोडमैप तैयार करेंगे। दोनों देशों के प्रमुखों के बीच आज डिजिटल शिखर सम्मेलन होना है। शिखर सम्मेलन में वार्ता के दौरान पीएम मोदी और शेख हसीना हल्दीबाड़ी-चिल्हाटी रेल लिंक का भी उद्घाटन करेंगे।

ये भी पढ़ेंः करोड़ों कर्मचारियों को खुशखबरी: इस अकाउंट में आएगा पैसा, लोगों में खुशी की लहर

नरेंद्र मोदी और शेख हसीना के बीच वार्ता

विदेश मंत्री ए के अब्दुल मोमेन ने दोनो देशों के बीच होने वाले समझौतों की भी जानकारी दी। वहीं इससे पहले बांग्लादेश विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने भी बताया था कि दोनों पक्षों के बीच चार सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर होंगे।

भारत-बांग्लादेश के बीच 22 समझौतों पर मुहर, मोदी-हसीना ने कहा- करीब आएंगे, तभी होगा विकास

भारत-बांग्लादेश के बीच होंगे अहम समझौते

भारत-बांग्लादेश शिखर वार्ता के दौरान संस्कृतिक और ऐतिहासिक संबंधों से लेकर नई कनेक्टिविटी और आर्थिक साझेदारी की योजनाओं पर चर्चा करेंगे। वहीं दोनों देशों के बीच 1965 से पहले की सभी रेल परियोजनाएं 2022 तक काम करने लगेंगी। शिखर वार्ता में दोनों प्रधानमंत्री हल्दीबाड़ी-चिल्हाटी रेल लिंक को हरी झंडी दिखाएंगे। साथ ही पूर्वोत्तर में त्रिपुरा को बांग्लादेश से जोड़ने वाली अखूरा- अगरतला रेल लिंक के कामकाज की भी समीक्षा होगी जिसे 2021 तक शुरु किया जाना है।

ये भी पढ़ेंः स्वदेशी मिसाइल का अटैक: घर में घुस कर मारेगी पृथ्वी-2, चीन के लिए बनेगी कहर

जानकारी के मुताबिक, डिजिटल बैठक के दौरान अलग-अलग क्षेत्रों में करीब नौ सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर होने की संभावना है. लेकिन इन्हें अभी अंतिम रूप नहीं दिया गया है क्योंकि वे अब भी इस पर काम कर रहे हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story