Top

मेहुल चोकसी हुआ कंगालः ED ने दिया तगड़ा झटका, 14 करोड़ की संपत्ति जब्त

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में देश छोड़ कर भागे कारोबारी मेहुल चोकसी की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने कारोबारी मेहुल चोकसी की 14.45 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। ईडी ने ये कार्रवाई चोकसी की गीतांजलि ग्रुप पर की है।

Ashiki

AshikiBy Ashiki

Published on 4 Feb 2021 5:40 PM GMT

मेहुल चोकसी हुआ कंगालः ED ने दिया तगड़ा झटका, 14 करोड़ की संपत्ति जब्त
X
मेहुल चोकसी हुआ कंगालः ED ने दिया तगड़ा झटका, 14 करोड़ की संपत्ति जब्त
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में देश छोड़ कर भागे कारोबारी मेहुल चोकसी की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने कारोबारी मेहुल चोकसी की 14.45 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। ईडी ने ये कार्रवाई मेहुल चोकसी की गीतांजलि ग्रुप पर की है। चौकसी 13 हजार करोड़ के पीएनबी लोन फ्रॉड केस के मुख्य आरोपियों में से एक हैं। इन प्रॉपर्टी को एंटी मनी लॉन्ड्रिंग कानून के तहत जब्त किया गया है।

ये भी पढ़ें: Newstrack: एक क्लिक में पढ़ें आज शाम 7 बजे तक की देश और दुनिया की बड़ी खबरें

PMLA के तहत जब्त की गई संपत्ति

इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने एक बयान में कहा कि इनमें मुंबई के गोरेगांव क्षेत्र में स्थित ओ2 टावर में 1,460 स्क्वायर फुट का फ्लैट, गोल्ड और प्लेटिनम ज्वैलरी, डायमंड स्टोन, चांदी और पर्ल के बने नेकलेस, घड़ियां और एक मर्सिडीज बेंज कार शामिल हैं। आपको बता दें कि प्रोविजनल ऑर्डर मनी लॉन्ड्रिंग प्रिवेंशन एक्ट (PMLA) के तहत संपत्ति कुर्क की गयी है।

देश छोड़ कर भाग चुका है चौकसी

सीबीआई और प्रत्यर्पण निदेशालय (ईडी) को मेहुल चोकसी की तलाश है। जानकारी के लिए बता दें कि 61 वर्षीय कारोबारी मेहुल चोकसी भगोड़ा नीरव मोदी का मामा है। नीरव भी 13,000 करोड़ रुपये से अधिक के इस कथित धोखाधड़ी मामले में एक अन्य मुख्य आरोपी है। ज्वैलर मेहुल चोकसी पीएनबी से 13 हजार करोड़ का घोटाला कर भारत से भाग गया है। जांच एजेंसियों के मुताबिक वह एंटीगुआ और बारबुडा में रह रहा है। वहीं, नीरव मोदी लंदन की एक जेल में बंद है। उसे ब्रिटेन में 2019 में गिरफ्तार किया गया था। वह भारत प्रत्यर्पित किये जाने के मुकदमे का सामना कर रहा है।

ये भी पढ़ें: इंटरनेट सेवा बैनः सरकार का बड़ा एलान, इन जिलों में रहेगी पाबंदी, जानें कब तक

Ashiki

Ashiki

Next Story