यात्रियों को झटका: सरकार ने हवाई सफर की नहीं दी इजाजत, बताई ये वजह

25 मई से देश में घरेलू उड़ानों की सेवा शुरू हो जाएगी। इसके लिए दिल्ली में तैयारियां पूरी हो गई हैं वहीं कोरोना संक्रमण से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र ने अभी इसे अनुमति नहीं दी है। महाराष्ट्र सरकार का कहना है वह 25 मई से विमान सेवा नहीं शुरू कर सकती।

नई दिल्ली: 25 मई से देश में घरेलू उड़ानों की सेवा शुरू हो जाएगी। इसके लिए दिल्ली में तैयारियां पूरी हो गई हैं वहीं कोरोना संक्रमण से देश में सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र ने अभी इसे अनुमति नहीं दी है। महाराष्ट्र सरकार का कहना है वह 25 मई से विमान सेवा नहीं शुरू कर सकती। दरअसल महाराष्ट्र में लॉकडाउन 31 मई तक प्रभावी है और सरकार ने अभी तक लॉकडाउन के नियमों में बदलाव नहीं किया है। इसके अलावा कई राज्यों में यात्रियों को क्वारंटीन होना होगा।

ये भी पढ़ें: जानिए पत्नी के अंगों से जुड़े राज, पति के जीवन पर पड़ता है शुभ-अशुभ प्रभाव

मुंबई और पुणे रेड जोन में…

महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को केंद्र को बताया कि उसके मुख्य शहर मुंबई और पुणे रेड जोन में हैं। इन शहरों में ट्रैफिक और लोगों की आवाजाही पर पूरी तरह से पाबंदी है। ऐसे में अभी हम विमान सेवा नहीं शुरू कर सकते। यहां की राज्य सरकार ने केंद्र को बताया कि यह भी साफ नहीं है कि ‘मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड’ ने हवाई अड्डे पर काम फिर से शुरू करने, कर्मचारियों की उपलब्धता, उनकी स्वास्थ्य स्थिति की जांच करने जैसे आवश्यकत बातों पर काम किया है या नहीं।

MIAL ने अपनी तैयारियों की नहीं दी जानकारी: महाराष्ट्र

साथ ही महाराष्ट्र सरकार ने ये भी कहा कि MIAL ने ये भी साफ नहीं किया उसके स्टाफ कंटेनमेंट जोन से आएंगे या नहीं। सरकार ने कहा एयरपोर्ट और एयरलाइन में ज्यादा स्टाफ की जरूरत होगी। ये स्टाफ एयरपोर्ट कैसे आएंगे और कैसे जाएंगे क्योंकि पब्लिक ट्रांसपोर्ट और टैक्सियों पर तो पाबंदी लगी है।

ये भी पढ़ें: विधायक ने की प्रवासी मजदूरों संग गालीगलौज: कहा- ‘बाप से रोजगार क्यों नहीं मांगते’

MIAL ने कहा- राज्य सरकार की जिम्मेदारी

वहीं MIAL (मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड) का कहना है कि हम एयरपोर्ट संचालन के लिए तैयार हैं। अगर कोई फ्लाइट लैंड करती है तो यात्री की सुविधा के लिए जो चीजें होती उसकी तैयारी हमने कर ली है। यात्री के ट्रांसपोर्ट की सुविधा राज्य सरकार की जिम्मेदारी है।

ये भी पढ़ें: विज्ञापन पर विवाद: सरकार ने अफसर पर की कड़ी कार्रवाई, जानें क्या है मामला

रेलवे का बड़ा एलानः 10 दिन में 36 लाख यात्री करेंगे सफर, RAC होगा कन्फर्म

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App