राष्ट्रपति ने किया सैनिकों का सम्मान, इन्हें मिला कीर्ति चक्र

इससे पहले राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने 14 मार्च को राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में भी सैनिकों को सम्मानित किया था। यहां पर जनरल विपिन रावत को विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया था।

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को राष्ट्रपति भवन में जम्मू कश्मीर में आतंकवाद रोधी अभियानों में शामिल आज सशस्त्र सेना कार्मिकों को विशिष्ट वीरता, अदम्य साहस और कर्तव्य के प्रति अत्यधिक समर्पण प्रदर्शित करने के लिए सम्मानित किया। देश के रक्षा सिपहसालारों को उन्होने पदक देकर सम्मानित किया। इस दौरान इस कार्यक्रम में पीएम मोदी और तीनों सेनाओं अध्यक्ष भी मौजूद रहे।

लेफ्टिनेंट जनरल अनिल भट्ट को मिला युध्य सेवा पदक

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने लेफ्टिनेंट जनरल अनिल भट्ट को जम्मू-कश्मीर में उनके आतंकवाद-रोधी अभियानों के सफल संचालन के लिए युध्य सेवा पदक प्रदान किया गया है।

ये भी पढ़ें— यूपी के इस डीएम ने मतदाताओं को जागरूक करने के लिए खुद का वीडियो किया वायरल

दो सैनिकों को मिला मरणोपरांत कीर्ति चक्र

राष्ट्रपति जम्मू-कश्मीर में विभिन्न आतंकवाद विरोधी अभियानों के लिए सीआरपीएफ के कांस्टेबल प्रदीप कुमार पांडा को मरणोपरांत कीर्ति चक्र प्रदान किया। यह पुरस्कार प्रदीप कुमार पांडा की पत्नी को मिला। इसी कड़ी में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद जम्मू—कश्मीर में विभिन्न आतंकवाद रोधी अभियानों के तहत ही भारतीय सेना के सिपाही विजय कुमार को भी मरणोपरांत कीर्ति चक्र प्रदान किया गया। यह पुरस्कार विजय कुमार की पत्नी को दिया गया।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने जम्मू-कश्मीर के इरफ़ान रमज़ान शेख को 2017 में उनके घर पर तीन आतंकवादियों पर हमले के लिए शौर्य चक्र पुरस्कार प्रदान किया। इस हमले के वक्त उनकी उम्र मात्र 14 साल की थी।

ये भी पढ़ें— CRPF स्थापना दिवस: NSA अजीत डोभाल बोले- पुलवामा हमले को नहीं भूलेगा देश

जनरल विपिन रावत को भी किया था सम्मानित

इससे पहले राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने 14 मार्च को राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक कार्यक्रम में भी सैनिकों को सम्मानित किया था। यहां पर जनरल विपिन रावत को विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया था। इसके साथ—साथ यहां तीन कीर्ति चक्र, 15 शौर्य चक्र व 25 विशिष्ट सेवा पदक प्रदान किये गये थे।