Top

गर्भवती के पेट में कैंची: अस्थियों से हुआ बड़ा खुलासा, हिल उठा परिवार

पंजाब के मोगा में डॉक्टरों की लापरवाही के चलते एक गर्भवती महिला की मौत हो गई। इस बात का खुलासा महिला की अस्थियां उठाते वक्त हुआ। अब परिजनों ने उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। 

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 12 Nov 2020 5:21 AM GMT

गर्भवती के पेट में कैंची: अस्थियों से हुआ बड़ा खुलासा, हिल उठा परिवार
X
गर्भवती के पेट में कैंची: अस्थियों से हुआ बड़ा खुलासा, हिल उठा परिवार
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चंडीगढ़: पंजाब के मोगा से एक चौंका देने वाली घटना सामने आई है। यहां पर सिविल हॉस्पिटल के डॉक्टरों की लापरवाही के चलते एक गर्भवती महिला की मौत हो गई। इस बात का खुलासा तब हुआ जब महिला के अंतिम संस्कार के बाद परिजन अस्थियां उठा रहे थे। दरअसल, महिला की अस्थियां उठाते समय परिजनों को एक कैंची और ऑपरेशन में इस्तेमाल किए जाने वाले औजारों के कुछ अंश प्राप्त हुए थे।

परिजनों ने अस्पताल के डॉक्टरों को मौत के लिए ठहराया जिम्मेदार

अस्थियों में कैंची और ऑपरेशन के औजार मिलने के बाद परिजनों ने महिला की मौत के लिए अस्पताल के डॉक्टरों को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं दूसरी ओर संबंधित डॉक्टर ने अपनी गलती मानने से इनकार कर दिया है। वहीं अब मृतिका के परिजनों के शिकायत पर संबंधित थाना सिटी साउथ की पुलिस ने अस्पताल के सीनियर मेडिकल ऑफिसर को एक पत्र लिखकर इस मामले की रिपोर्ट मांगी है।

यह भी पढ़ें: कांपे पाकिस्तान के आतंकी: इस बड़े नेता पर गिरी गाज, इमरान सरकार की उड़ी नींद

PREGNANT WOMAN (सांकेतिक फोटो- सोशल मीडिया)

डॉक्टरों के खिलाफ की गई कार्रवाई की मांग

बता दें कि गर्भवती महिला मोगा के नजदीकी गांव बुध सिंह वाला की रहने वाली थी। महिला के परिवार वालों का आरोप है कि सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों की लापरवाही के चलते उक्त मौत हुई है, जिस वजह से उन्होंने उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। वहीं इस मामले में पुलिस अधिकारी ने बताया कि परिजनों के मुताबिक, अस्‍थ‍ियों में से कैंची बरामद हुई है, जिसको पुलिस ने कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने डुबाई नैया: तेजस्वी के लिए बन गई मुसीबत, इसीलिए लगा इन्हें झटका

इससे पहले भी आया ऐसा ही मामला

गौरतलब है कि गर्भवती महिला की मौत से तीन दिन पहले मोगा के ही एक सरकारी हॉस्पिटल में बड़े ऑपरेशन से डिलीवरी की गई थी, जिसके बाद उसकी तबीयत खराब हो गई थी और फिर उसे डॉक्टरों ने फरीदकोट रेफर कर दिया। लेकिन उसके बाद महिला की मौत हो गई थी। फिलहाल इस मामले में जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें: 2020 के विमलादेवी स्मृति सम्मान की हुई घोषणा, प्रो. शम्भुनाथ को अगले साल मिलेगा ये पुरस्कार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Shreya

Shreya

Next Story