×

शरजील इमाम के बोल कन्हैया कुमार से भी ज्यादा खतरनाक: अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह सेंट्रल जोनल काउंसिल (CZC) की बैठक में शामिल होने के लिए मंगलवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंचे। इस बैठक में सुरक्षा और इन्फ्रास्ट्रक्चर समेत विभिन्न मुद्दों पर राज्यों और केंद्र के बीच विचारों का आदान-प्रदान हुआ।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 28 Jan 2020 1:59 PM GMT

शरजील इमाम के बोल कन्हैया कुमार से भी ज्यादा खतरनाक: अमित शाह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: गृह मंत्री अमित शाह सेंट्रल जोनल काउंसिल (CZC) की बैठक में शामिल होने के लिए मंगलवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंचे। इस बैठक में सुरक्षा और इन्फ्रास्ट्रक्चर समेत विभिन्न मुद्दों पर राज्यों और केंद्र के बीच विचारों का आदान-प्रदान हुआ।

बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह ने रायपुर में बीजेपी कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया। इस दौरान अमित शाह ने पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार की योजनाओं की जमकर तारीफ की। साथ ही सीएए-एनआरसी के मुद्दे पर विपक्ष पर हमला बोला। शाह ने राजद्रोह के आरोप में बिहार के जहानाबाद से गिरफ्तार जेएनयू के छात्र नेता शरजील इमाम का भी जिक्र किया।

अमित शाह ने कहा कि शरजील इमाम का वीडियो आप सभी ने देखा होगा, उन्होंने कहा कि कन्हैया कुमार से भी ज्यादा खतरनाक बोले हैं। चिकन नेक को काट दो, असम भारत से कट जाएगा। अरे सात पुश्तें लग जाएंगी भैया, असम ऐसे नहीं कटेगा। आज दिल्ली पुलिस ने उन्हें धर लिया है और आज उन्हें जेल की हवा खाने दिल्ली लाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें...देशद्रोह का आरोपी शरजील इमाम गिरफ्तार, दिया था देश को तोड़ने वाला बयान

उन्होंने कहा कि जेएनयू में देश विरोधी नारे लगे, मोदी जी ने उनको जेल में डालने का निर्णय किया, लेकिन केजरीवाल सरकार ने उनके खिलाफ अभियोग चलाने की अनुमति नहीं दी है। इसके अलावा अमित शाह ने कहा कि मैं बहुत कम आयु से भाजपा का कार्यकर्ता बना हूं। बचपन से लेकर आज तक हमेशा, पार्टी का संगठन, पार्टी का निर्णय, पार्टी के सिद्धांत, पार्टी की कार्यपद्धति इसको समझने का और इसके अनुसार जीने का मैंने प्रयास किया है।

उन्होंने कहा कि ढेर सारी पार्टियां तो परिवार की पार्टियां बन गई हैं, इनकी कोई विचारधारा नहीं है। भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जिसका 1950 से लेकर 2020 तक का हमारा रास्ता न कभी भटका है और न कभी हमने बदला है। विचारधारा के आधार पर भाजपा चली।



यह भी पढ़ें...NCC की रैली में बोले पीएम मोदी- पाकिस्तान को हराने में 10 दिन भी नहीं लगेंगे

उन्होंने कहा कि हम वो पार्टी हैं जिसकी संसद में 2 सीटे हो गई थीं। राजीव गांधी ने हमारा मजाक उड़ाया था, हम दो, हमारे दो। पूरा 400 कांग्रेस के सांसदों का टोला वहां हंसा था और आज कांग्रेस की ये स्थिति हो गई है उनको विपक्ष में बैठने लायक सांसद भी नहीं मिले हैं।

उन्होंने कहा कि जय-पराजय जीवन का हिस्सा है। जब विजय मिलती है तो राजीव गांधी की तरह अहंकारी नहीं होना है। जब पराजय मिलती है तो हताशा में नहीं डूबना है। भाजपा विचारधारा के आधार पर आगे बढ़ने वाली पार्टी है। चुनाव की जय-पराजय भाजपा का भाग्य तय नहीं कर सकती। भाजपा का भाग्य हमारे कार्यकर्ताओं की निष्ठा, परिश्रम, पराक्रम तय कर सकता।



यह भी पढ़ें...निर्भया के दोषी मुकेश का जेल प्रशासन पर आरोप- मेरे साथ हुई ये अश्लील हरकत

अमित शाह ने कहा कि 2019 में मोदी जी की सरकार बनी, देश की जनता ने विपक्ष के झूठे प्रचार के सामने एक मुश्त होकर मोदी जी को 303 सीटों के साथ फिर से एक बार प्रधानमंत्री बनाया। इसका कारण 5 साल तक भाजपा सरकार ने देश को बदलने का प्रयास किया। देश की समस्याओं को समझा, उनको सुलझाया।

उन्होंने कहा कि देश के करोड़ों कार्यकर्ताओं का लक्ष्य था कि देश का मुकुटमणि कश्मीर इस देश का अभिन्न हिस्सा बने। मोदी जी को दोबारा बहुमत मिला उन्होंने 5 अगस्त, 2019 को तनिक भी देर करे बगैर अनुच्छेद 370 और 35A को उखाड़ फेका।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story