×

राज ठाकरे- चुनाव में जीत के लिए पुलवामा की तरह की एक और घटना घट सकती है

महाराष्ट्र नव निर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने कहा, चुनाव में जीत के लिए ‘पुलवामा की तरह की एक और घटना' निकट भविष्य में घट सकती है। ठाकरे ने दावा किया कि जैसे ही चुनाव नजदीक आएगा आने वाले दिनों में पुलवामा की तरह एक और घटना आने वाले महीनों में घट सकती है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 10 March 2019 5:29 AM GMT

राज ठाकरे- चुनाव में जीत के लिए पुलवामा की तरह की एक और घटना घट सकती है
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मुंबई: महाराष्ट्र नव निर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने कहा, चुनाव में जीत के लिए ‘पुलवामा की तरह की एक और घटना' निकट भविष्य में घट सकती है। ठाकरे ने दावा किया कि जैसे ही चुनाव नजदीक आएगा आने वाले दिनों में पुलवामा की तरह एक और घटना आने वाले महीनों में घट सकती है।

ये भी देखें : राजस्थान में भारतीय सेना ने मार गिराया पाकिस्तानी ड्रोन

ठाकरे ने आरोप लगाया कि पुलवामा हमले से पहले खुफिया एजेंसियों की चेतावनियों को नजरअंदाज किया गया। पुलवामा हमले में 40 जवान शहीद हो गए। क्या हमें सवाल भी नहीं पूछना चाहिए। दिसंबर में, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल बैंकाक में पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार से मिले थे। इस बैठक की पारदर्शिता के बारे में हमें कौन बताएगा।

ये भी देखें : आदर्श ग्राम योजना के तहत होगा विकास, 74 करोड़ रुपए का बजट मिला

उन्होंने कहा, अगर पीएम स्वयं कहते हैं कि देश में राफेल जेट होता तो परिणाम और बेहतर होता, यह हमारे जवानों का अपमान है। मनसे सुप्रीमो ने कहा, झूठ बोलने की भी कोई सीमा होती है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story