भारत में ‘कोरोना का नया गढ़’: होगा पूरा सील, हर घर के बाहर पुलिसकर्मी तैनात

कई राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन एक ऐसा क्षेत्र, जो कि न राज्य है और न जिला, फिर भी अकेले ही 100 लोगों के कोरोना से संक्रमित मामलों के सामने आने के बाद इस किलर ‘वायरस का गढ़’ बन गया है।

जयपुर: भारत में कुछ राज्यों में कोरोना वायरस के मामले सबसे अधिक हैं। महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली और यूपी के अलावा कई राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन एक ऐसा क्षेत्र, जो कि न राज्य है और न जिला, फिर भी अकेले ही 100 लोगों के कोरोना से संक्रमित मामलों के सामने आने के बाद इस किलर ‘वायरस का गढ़’ बन गया है।

कोरोना का नया हॉट स्पॉट रामगंज

दरअसल, राजस्थान में जयपुर का रामगंज इलाका कोरोना वायरस हॉटस्पॉट बन गया है। जहां एक ओर जयपुर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 110 है, तो वहीं अकेले रामगंज इलाके में ही 100 लोगों में कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

ये भी पढ़ेंःइस मुख्यमंत्री ने की मांग, देश में दो हफ्ते का और बढ़े लॉकडाउन

राजस्थान सरकार की बढ़ी मुश्किलें

इतनी ज्यादा संख्या में क्षेत्र से कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद पूरे राज्य में हड़कंप मच गया। वहीं राजस्थान सरकार की मुश्किलें भी बढ़ गयी है। जल्द ही रामगंज को सरकार सील करने की तैयारी में है। इसके संकेत देते हुए प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि रामगंज में एक-एक घर में बड़ी संख्या में लोग रह रहे हैं। इस इलाके में एक बिल्डिंग में 20-25 लोग रह रहे हैं। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग की समस्या हो रही है।

हर घर के बाहर पुलिसकर्मी की तैनाती

क्षेत्र को पूरी तरीके से सील करने के बाद सरकार की कोशिश रहेगी कि यहां जरूरत की हर चीज प्रशासन मुहैया कराये, हालाँकि राशन और दूध या दवा की दुकानें खुल रह सकती हैं। आदेश दिए गए कि जरूरत पड़ने पर सख्ती भी की जाएँ। सरकार हर घर के बाहर एक एक पुलिसकर्मी की तैनाती भी कर सकती है।

ये भी पढ़ेंःजिसे देश नहीं मानती दुनिया, उसने दी कोरोना को सबसे बड़ी टक्कर

क्वारनटीन में हर शख्स पर ऐसे रखी जा रहे नजर :

बता दें कि सरकार कोरोना वायरस पर नियत्रंण को लेकर बेहद गंभीर है। इस बाबत क्वारनटीन के दौरान लोगों के आपस में मिलने-जुलने पर रोक लगा दी गयी है और वहीं सख्ती से लॉकडाउन के पालन का आदेश दिया है। सभी पर निगरानी की जा रही है। ये नियम लागू किया गया कि क्वारंटीन में लिए गए लोग हर दो घंटे में अपनी सेल्फी प्रशासन को भेजेंगे।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।