×

गणतंत्र दिवस: पाकिस्तान ने भारत के साथ की नापाक हरकत, और बढ़ेगी दुश्मनी

देश आज 71 गणतंत्र दिवस मना रहा है। राजपथ पर भारतीय सेना अपने शौर्य और पराक्रम का प्रदर्शन कर रही है। वहीं आकाश में वायुसेना के लड़ाकू विमान और हेलीकॉप्टर अपना करतब दिखा रहे हैं।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 26 Jan 2020 12:01 PM GMT

गणतंत्र दिवस: पाकिस्तान ने भारत के साथ की नापाक हरकत, और बढ़ेगी दुश्मनी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

जम्मू: देश आज 71 गणतंत्र दिवस मना रहा है। राजपथ पर भारतीय सेना अपने शौर्य और पराक्रम का प्रदर्शन कर रही है। वहीं आकाश में वायुसेना के लड़ाकू विमान और हेलीकॉप्टर अपना करतब दिखा रहे हैं। हमारी महिला शक्ति भी किसी मुकाबले में कम नहीं है, इस बात का गवाह भी राजपथ बना।

दुनिया उभरते भारत की शक्ति और शौर्य की गवाह बनी। लेकिन अनुच्छेद 370 हटने के बाद से भारत-पाक में तल्खी बरकरार है। तभी तो स्वतंत्रता दिवस के बाद अब गणतंत्र दिवस पर दोनों देशों के बीच मिठाईयों का आदान-प्रदान नहीं किया गया। अटारी-वाघा बॉर्डर पर सीमा सुरक्षा बल और पाकिस्तानी रेंजरों ने एक-दूसरे को मिठाई नहीं दी।

ये भी पढ़ें...सदमे में पाकिस्तान: भारत ने सात दिन के अंदर किया दो मिसाइलों का सफल परीक्षण

मिठाई का नहीं किया गया आदान-प्रदान

अटारी बॉर्डर पर हजारों की भीड़ मौजूद है। देशभक्ति के नारे लग रहे हैं। सुबह रिट्रीट समारोह के दौरान तिरंगा झंडा ऊपर चढाया गया। वहीं शाम पांच बजे रिट्रीट सेरेमनी का आयोजन किया गया।

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में लगातार सीजफायर का उल्लघंन कर रहा है। भारतीय सेना भी पाक की हर हरकत का मुंहतोड़ जवाब देती है। इसी गर्मागर्मी के बीच इस बार अटारी-वाघा बार्डर पर मिठाई का आदान-प्रदान नहीं किया गया।

भारत सरकार ने एक एतिहासिक फैसला लेते हुए जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा दिया। इसके बाद से ही पाकिस्तान पूरी दुनिया में हाथ-पैर मार रहा है लेकिन उसे कोई खास सफलता मिलती नहीं दिख रही है। पाक की इस हाताशा को भी एक कारण माना जा रहा है। तभी तो पाक पीएम दुनिया भर में भारत के खिलाफ भड़काऊ बयानबाजी कर रहे हैं।

बता दें कि भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की वतन वापसी अटारी-वाघा बॉर्डर से हुई थी। इस दौरान भी उनके स्वागत पर हजारों की संख्या में लोग यहां पहुंचे थे। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने रिट्रीट समारोह को रद्द कर दिया था। हालांकि यह फैसला प्रशासनिक कारणों से लिया गया था।

ये भी पढ़ें...पाकिस्तान की बेटी ने लहराया भारत की राजनीति में परचम, जीता चुनाव

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story