Top

आई तबाही वाली परमाणु मिसाइल, कांप उठा सबसे ताकतवर देश अमेरिका

रूसी सुखोई Su-57 लड़ाकू विमान से अमेरिका में भी खौफ बना हुआ है। ऐसे में  इस बात की बानगी अमेरिकी मीडिया में जबरदस्त तरीके से देखने को मिल रही है। सामने आई कई अमेरिकी रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रूस के इस अत्याधुनिक लड़ाकू विमान से अमेरिका के ही नहीं, बल्कि नाटो के भी कई सैन्य ठिकानों को खतरा हो सकता है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 13 Dec 2020 7:56 AM GMT

आई तबाही वाली परमाणु मिसाइल, कांप उठा सबसे ताकतवर देश अमेरिका
X
सामने आई द नेशनल इंटरेस्ट मैगजीन की रिपोर्ट में कहा गया है कि रूस के पांचवी पीढ़ी के पहले स्टील्थ लड़ाकू विमान सुखोई Su-57 का मास प्रोडक्शन शुरू हो गया है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: रूस के सैन्य अभ्यास से पूरी दुनिया चौकन्नी है। रूसी सुखोई Su-57 लड़ाकू विमान से अमेरिका में भी खौफ बना हुआ है। ऐसे में इस बात की बानगी अमेरिकी मीडिया में जबरदस्त तरीके से देखने को मिल रही है। सामने आई कई अमेरिकी रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रूस के इस अत्याधुनिक लड़ाकू विमान से अमेरिका के ही नहीं, बल्कि नाटो के भी कई सैन्य ठिकानों को खतरा हो सकता है। इसके साथ ही रूस के सुखोई Su-57 को हर हिसाब से अमेरिकी F-35 से बेहतर भी बताया गया है। वहीं रूस का यह फाइटर जेट परमाणु मिसाइल ही नहीं, बल्कि एडवांस हाइपरसोनिक मिसाइल को भी फायर करने में समर्थ है।

ये भी पढ़ें... रूस में मचा हड़कंप: चोरी हुआ विमान का उपकरण, खासियतों से है भरपूर

रूसी एयरफोर्स में भी शामिल

सामने आई द नेशनल इंटरेस्ट मैगजीन की रिपोर्ट में कहा गया है कि रूस के पांचवी पीढ़ी के पहले स्टील्थ लड़ाकू विमान सुखोई Su-57 का मास प्रोडक्शन शुरू हो गया है। जल्द ही इसे रूसी एयरफोर्स में भी शामिल कर लिया जाएगा।

आज से कुछ साल बाद इसे अंतरराष्ट्रीय हथियारों के बाजार में भी उतारा जाएगा। साथ ही मैगजीन ने आगे लिखा है कि साफ पता है कि यह खबर अमेरिका के लिए अच्छी नहीं है, क्योंकि इससे नाटो के कई सामरिक ठिकाने असुरक्षित हो जाएंगे।

america plane फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...चीन की नहीं चलेगी दादागिरी: भारत-अमेरिका साथ, रूस ने दी ये चेतावनी

एयर सुपिरियरिटी वाला लड़ाकू विमान

मैगजीन रिपोर्ट में द नेशनल इंटरेस्ट ने रूस की सुखोई Su-57 को अपने क्लास में सर्वश्रेष्ठ एयर सुपिरियरिटी वाला लड़ाकू विमान करार दिया है। आगे कहा गया है कि किसी भी अन्य विमानों के मुकाबले डॉगफाइट के दौरान इस लड़ाकू विमान को बढ़त मिलेगी। ये भविष्य में नाटो देशों का मुख्य लड़ाकू विमान बनने वाले अमेरिका के पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान F-35 को भी कड़ी टक्कर देते हुए हरा सकता है।

बता दें, रूस का Su-57 लड़ाकू विमान खर्च के मामले में भी लॉकहीड मॉर्टिन के F-35 से सस्ता है। इस विमान की डिजाइन और एवियोनिक्स भी ज्यादा एरोडॉयनामिक्स हैं। यह ऑफ्टरबर्नर का उपयोग किए बिना ही 2 मैक (लगभग 2500 किमी प्रति घंटे) की स्पीड पकड़ सकता है। यहां तक कि इसकी सबसोनिक रेंज 3500 किलोमीटर से भी अधिक है।

ये भी पढ़ें...GSVM मेडिकल कॉलेज को मिला बड़ा मौका, रूस की कोरोना वैक्सीन का होगा ट्रायल

Newstrack

Newstrack

Next Story