×

मुसलमानों को खुशखबरी: हज यात्रा की इजाजत, इस शर्त पर जा सकेंगे मक्का मदीना

सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. तौफिग बिन फवाजान अल रबिया ने सरकार से सिफारिश की है कि हज यात्रा की इजाजत दी जाएं। इसके लिए उन्होने शर्त रखी है।

Shivani Awasthi
Published on 4 March 2021 7:34 AM GMT
मुसलमानों को खुशखबरी: हज यात्रा की इजाजत, इस शर्त पर जा सकेंगे मक्का मदीना
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: कोरोना वायरस के संकट के दौरान सऊदी अरब ने दुनियाभर के हज यात्रियों को लेकर बड़ा फैसला लिया था। भारत समेत तमाम देशों के हज तीर्थ पर रोक लगा दी थीं हालंकि अब यात्रियों के लिए खुशखबरी है। सऊदी अरब ने तीर्थ यात्रियों को हज की अनुमति दे दी है लेकिन इसके लिए कोरोना वैक्सीन का डोज लिया जाना अनिवार्य कर दिया है। यानी वैक्सीनेशन वाले लोग ही हज यात्रा पर जा सकेंगे।

सऊदी अरब सरकार देगी हज यात्रा की इजाजत

दरअसल, सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. तौफिग बिन फवाजान अल रबिया ने सरकार से सिफारिश की है कि हज यात्रा की इजाजत दी जाएं। इसके लिए उन्होने शर्त रखी कि उन्ही तीर्थ यात्रियों को इजाजत मिलें जिन्होंने कोरोना वैक्सीन की खुराक ली हो।

तीर्थ यात्रियों के लिए कोरोना वैक्सीन का डोज लेना अनिवार्य

बताया जा रहा है कि इसके लिए सऊदी अरब में एक विशेष समिति गठित करने की भी सिफारिश की गई, जो उमरा और हज यात्रियों को टीका लगाने पर काम करेगी। बता दें कि हज यात्रा की शुरूआत इस साल जुलाई में होगी। हालांकि कोरोना वायरस के मद्देनजर अब तक सऊदी अरब सरकार ये निर्णय नहीं ले सकी है कि हज के लिए कितने तीर्थयात्रियों को अनुमति दी जाएगी।

ये भी पढ़ेँ-अलवर में मिला संदिग्ध कबूतर: सुरक्षा एजेंसियां हुईं अलर्ट, पंख पर लिखा ‘बैक टू लाहौर’

हालांकि सऊदी के इस फैसले से भारत में केरल के हजयात्रियों को मुश्किल हो सकती है। क्योंकि यह तय है कि तमाम देशों को दिए गए हज कोटा को पहले की तुलना में कम कर दिया जाएगा।

कई देशों के तीर्थयात्रियो पर लगा हुआ है प्रतिबंध

गौरतलब है कि बीते साल भी कोरोना के चलते पहले लाॅकडाउन लग गया, ऐसे में सिर्फ सऊदी के ही एक हजार लोगों को हज की अनुमति दी गई थी। बाकि अन्य देशों के तीर्थ यात्रियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। निर्धारित कम संख्या में घरेलू हजयात्रियों और देश के भीतर रहने वाले विदेशियों को हज करने की इजाजत मिली थी।

ये भी पढ़ेँ-पहाड़ के हो गए दो टुकड़े, यहां मलबा जमा होने से भूखे-प्यासे फंसे रहे हजारों लोग

हर साल लगभग 20 लाख तीर्थयात्री हज यात्रा पर जाते हैं

उमरा तीर्थयात्रा को तो पिछले साल मार्च में दी प्रतिबंधित कर दिया गया था। बाद में 4 अक्टूबर 2020 को फिर से यात्रा शुरू हुई। इसके पहले हर साल सऊदी अरब कई देशों के लगभग 20 लाख तीर्थयात्री हज यात्रा के लिए आते थे। हर साल धु अल-हिज्जा के महीने में दुनिया भर के मुसलमान मक्का जाते हैं।

हज 2021

इन 20 देशों पर सऊदी ने लगा रखी है रोक

वर्तमान में कोरोना के चलते सऊदी अरब ने भारत समेत 20 देशों के लोगों पर अस्थायी प्रतिबंध लगाया है, जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका, जर्मनी, यूएई, अर्जेंटीना, इंडोनेशिया, आयरलैंड, इटली, पाकिस्तान, ब्राजील, पुर्तगाल, ब्रिटेन, तुर्की, दक्षिण अफ्रीका, स्वीडन, स्विट्जरलैंड, फ्रांस, लेबनान, मिस्र, जापान का नाम शामिल है।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story