शाहजहांपुर केस, लड़की को सीधे दिल्ली लाए यूपी पुलिस: SC

खास बात यह है कि लड़की से मीडिया नहीं बात करेगी। इस पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने कहा कि हमें 2 से 3 घंटे लगेंगे। इससे पहले पीड़ित पक्ष के वकील ने मांग की थी कि लड़की को कोर्ट के समक्ष पेश किया जाए।

नई दिल्ली: शाहजहांपुर केस में आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही है। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने लड़की को दिल्ली लाने का आदेश दिया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर लगे आरोपों की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लड़की को सीधे कोर्ट के कॉन्फ्रेंस हॉल में लाया जाए।

खास बात यह है कि लड़की से मीडिया नहीं बात करेगी। इस पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने कहा कि हमें 2 से 3 घंटे लगेंगे। इससे पहले पीड़ित पक्ष के वकील ने मांग की थी कि लड़की को कोर्ट के समक्ष पेश किया जाए।

 

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। सुप्रीम कोर्ट में आज चिन्मयानंद के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली छात्रा के गायब होने के मामले पर आज सुनवाई होगी। वहीं दुसरी तरफ आरोप लगाने वाली लड़की को पुलिस ने राजस्थान से बरामद किया है।

बताते चलें कि उत्तरप्रदेश के शाहजहांपुर की एलएलएम की छात्रा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद पर उसका और कई लड़कियों का  यौनउत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही पीड़िता ने फेसबुक पर लाइव वीडियो अपलोड करके आरोप लगाया था। उसके बाद से ही पीड़िता लापता थी।

उल्लेखनीय है कि कुछ वकीलों ने इस प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट से स्वत: संज्ञान लेने का अनुरोध किया था। उन्होंने कहा कि आरोप लगाने वाली छात्रा तीन दिनों से गायब है लिहाजा सुप्रीम कोर्ट दखल दे। सुप्रीम कोर्ट ने मामले में संज्ञान लिया और जस्टिस आर बानुमति की पीठ आज सुनवाई करेगी।

 डीआईजी ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस…

बरेली रेंज डीआईजी राजेश कुमार पांडेय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि छात्रा को शाहजहांपुर लाया जा रहा है। लड़की के लापता होने और 5 करोड़ की रंगदारी मामले आपस मे जुड़े हैं। साथ ही उन्होने बताया कि लड़की का दोस्त संजय भी पकड़ा गया है। लड़की के कोर्ट में 164 के बयान कराये जाएगा। छात्रा के कोर्ट के बयान के आधार पर होगी आगे की कार्यवाही। सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का भी पालन करेगी यूपी पुलिस। छात्रा को बरामद करने में सिर्फ यूपी पुलिस की भूमिका। स्वामी चिन्मयानन्द से भी पूछताछ की जाएगी।

 

यह भी पढ़ें:  कश्मीर में पत्थरबाजी शुरू: सरकार ने लिया कड़ा एक्शन, अलर्ट पर सेना

इस मामले में आरोपी भाजपा नेता उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में लॉ कॉलेज के निदेशक हैं, वहीं लापता शिकायतकर्ता युवती एलएलएम की छात्रा है।

जारी किया था वीडियो…

खास बात यह है कि शिकायतकर्ता ने नेता से उसके और उसके परिवार के जीवन के लिए खतरा बताते हुए ने पिछले हफ्ते शुक्रवार को फेसबुक पर एक लाइव वीडियो पोस्ट करते हुए आरोप लगाया गया था कि चिन्मयानंद ने “कई लड़कियों के जीवन को नष्ट कर दिया है।”

यह भी पढ़ें:   बुरे फंसे पूर्व मुख्यमंत्री: करोड़ों की प्रोपर्टी बांट रखी थी करीबियों को

जारी हुआ पोस्टर…

इस प्रकरण में कथित रूप से लापता लड़की की तलाशी के लिए स्थानीय पुलिस ने गुरुवार को पोस्टर जारी किया है। पुलिस अधीक्षक (नगर) दिनेश त्रिपाठी ने बताया कि अपहृत के तलाश के लिए पोस्टर जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि यह एक सामान्य प्रक्रिया है।

UP पुलिस, 7 टीमों का गठन…

बता दें कि जब से पीड़िता ने शोसल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया है, उसी के बाद उसका पता नहीं चल पाया है।
मामले की गंभीरता को समझते हुए में उत्तर प्रदेश की पुलिस ने सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया है और पीड़िता को ढूंढने के लिए सात टीमों का गठन किया है।

मिली लोकेशन लेकिन…

फिलहाल आखिरी बार लापता लड़की को देश की राजधानी दिल्ली के एक होटल के बाहर देखा गया था, जहां पर पहुंची टीम ने उसके साथ गए एक लड़के का पहचान पत्र भी रिकवर किया है. हालांकि, लड़की नहीं मिली है।

बताया जा रहा है कि आखिरी बार उसने अपनी मां से बात की थी, जब वह काफी घबराई हुई थी। पुलिस पिछले तीन दिनों से लड़की की तलाश में जुटी है लेकिन कामयाबी नहीं मिल पाई है।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट में आज चिन्मयानंद के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली छात्रा के गायब होने के मामले पर आज सुनवाई होगी।