सेना पर आरोप पड़ा भरी! इन मोहतरमा पर लगा देशद्रोह का केस

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) की पूर्व छात्रा और कश्मीरी नेता शेहला रशीद के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है। शेहला रशीद पर सेना के खिलाफ भ्रम फैलाने का आरोप है। उसने भारतीय सेना को लेकर झूठी खबर फैलाई है।

शेहला रशीद

शेहला रशीद

नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) की पूर्व छात्रा और कश्मीरी नेता शेहला रशीद के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है। शेहला रशीद पर सेना के खिलाफ भ्रम फैलाने का आरोप है। उसने भारतीय सेना को लेकर झूठी खबर फैलाई है। बता दें कि शेहला ने बीती 18 अगस्त को कई ट्वीट किए थे, जिसमें भारतीय सेना पर कश्मीरियों के साथ अत्याचार करने का आरोप लगाया था। इन आरोपों को सेना ने झूठा बताया था।

यह भी देखें… पाकिस्तान की गंदी हरकत! हिन्दू लड़कियों को इस तरह कर रहा इस्तेमाल

 भारतीय सेना लोगों के साथ कर रही जबरदस्ती

आपको बता दें कि शेहला रशीद ने अपने ट्विटर में दावा किया था कि भारतीय सेना जम्मू-कश्मीर में लोगों के साथ जबरदस्ती कर रही है। शेहला ने लिखा था कि सेना लोगों के घरों में जबरदस्ती घुसकर घर में रहने वाले लड़कों को उठा रही है लेकिन भारतीय सेना ने शेहला के इस आरोप को नकार दिया था और कहा था कि आपराधिक तत्व झूठी खबरें फैला रहे हैं।

भारतीय सेना की तरफ से कहा गया कि शेहला ने जो आरोप लगाए हैं वे आधारहीन है और सेना उन्हें नकारती है। सेना ने कहा कि ऐसी असत्यापित और झूठी खबरें आसामाजिक तत्वों और संगठनों द्वारा अनसुनी आबादी को भड़काने के लिए फैलाई जाती हैं।

यह भी देखें… हिट एंड रन! परिवार ने खोया सॉफ्टवेयर इंजीनियर,तड़प-तड़प कर गई जान

जानकारी के लिए बता दें कि शेहला ने कश्मीर के मौजूदा हालात पर अगस्त के एक के बाद एक 10 ट्वीट किए थे, जिसमें नौवें और दसवें नंबर पर कुछ आपत्तिजनक चीजें लिखी थीं। जिसे लेकर वकील अलख ने शिकायत दर्ज कराई है। सिर्फ यही नहीं शेहला रशीद के ट्वीट पर भारतीय सेना ने भी जवाब दिया था।

भारतीय सेना ने इस पर ट्वीट किया था, ‘शेहला रशीद द्वारा लगाए गए आरोप बेबुनियाद और खारिज हैं। ऐसी असत्यापित और फर्जी खबरें असामाजिक तत्वों और संगठनों द्वारा अनसुनी आबादी को भड़काने के लिए फैलाई जाती हैं।’

यह भी देखें… पाकिस्तान के जवानों के पास हथियार हैं, लेकिन हौसला नहीं: शाहनवाज हुसैन