Top

दिल्ली में छाएगा अंधेरा! सिख फॉर जस्टिस ने दी धमकी, आज और कल करेंगे बिजली गुल

दिल्ली में 25 और 26 जनवरी को खालिस्तान समर्थक संगठन सिख फॉर जस्टिस ने सोशल मीडिया पर बिजली गुल करने की धमकी दी है। जिसको देखते हुए गणतंत्र दिवस और किसानों की ट्रैक्टर रैली के मौके पर राजधानी और आसपास की सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 25 Jan 2021 6:07 AM GMT

दिल्ली में छाएगा अंधेरा! सिख फॉर जस्टिस ने दी धमकी, आज और कल करेंगे बिजली गुल
X
दिल्ली में छाएगा अंधेरा! सिख फॉर जस्टिस ने दी धमकी, आज और कल करेंगे बिजली गुल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: किसानों का कृषि क़ानून के विरोध में चल रहा प्रदर्शन अब एक नए मोड़ पर आ पहुंचा है। दिल्ली में 25 और 26 जनवरी को खालिस्तान समर्थक संगठन सिख फॉर जस्टिस ने सोशल मीडिया पर बिजली गुल करने की धमकी दी है। जिसको देखते हुए गणतंत्र दिवस और किसानों की ट्रैक्टर रैली के मौके पर राजधानी और आसपास की सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गई है। इन सभी तैयारियों के बीच दिल्ली पुलिस को इनपुट मिला है कि प्रतिबंधित संगठन दिल्ली में बिजली गुल करने की साजिश रच रहा है।

पावर ग्रिड और पावर सब-स्टेशन खालिस्तान समर्थक संगठनों के निशाने पर

बता दें कि दिल्ली पुलिस का कहना है कि खुफिया एजेंसियों द्वारा जब से ये सूचना मिली है तब से अधिक अलर्ट हैं। बताया जा रहा है कि डिस्कॉम, पावर ग्रिड और पावर सब-स्टेशन को निशाना बनाया जा सकता है। पुलिस का कहना है कि ऐसा करने के लिए नौजवानों को भड़काया जा रहा है। खुफिया एजेंसिंयों की सिख फॉर जस्टिस संगठन पर नजर है।

republic day 2021 tractor rally alert-2

दिल्ली, अयोध्या व बोधगया में आतंकी हमले के इनपुट्स

आतंकी संगठन 26 जनवरी के मौके पर व उसके बाद दिल्ली, अयोध्या व बोधगया में आतंकी हमला करने की फिराक में हैं। रोंहिग्या घुसपैठियों का एक ग्रुप दिल्ली समेत इन जगहों पर फिदायनी हमला कर सकता है। देश के कई उग्रवादी संगठनों ने आतंकी संगठनों से हाथ मिला लिया है। ऐसे में आतंकी संगठन दिल्ली समेत देश में कहीं भी टारगेट किलिंग करवा सकते हैं।

ये भी देखें: बॉर्डर पर खूनी झड़प: 20 चीनी सैनिक बुरी तरह घायल, भारत ने मार भगाया सभी को

बताया जा रहा है कि आतंकी संगठन किसान आंदोलन का भी आड़ ले सकते हैं। इस बार आतंकी हमले के बहुत गंभीर इनपुट्स मिले हैं। आतंकी हमले के सीरियस इनपुट़्स मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ी हुई है। केंद्रीय गृह मंत्रालय दिल्ली समेत कई राज्य सरकार व उनके पुलिस प्रमुखों के संपर्क में हैं।

इस बार आतंकी हमले के बहुत ही सीरियस इनपुट्स

दिल्ली पुलिस के आतंक निरोधी दस्ते यानि स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस बार आतंकी हमले के बहुत ही सीरियस इनपुट्स हैं। आतंकी संगठन दिल्ली, अयोध्या और बोधगया समेत कई जगहों पर आतंकी हमला करवा सकते हैं।

रोंहिग्या के एक ग्रुप को इसके लिए प्रशिक्षण दिया जा चुका है। ये ग्रुप दिल्ली समेत देश में फिदायनी बनकर हमला कर सकते हैं। इसके अलावा खालिस्तान, उत्तर-पूर्वी राज्यों के उग्रवादी संगठन व जम्मू कश्मीर के कुछ आतंकी ग्रुप एक हो गए हैं। दिल्ली दंगों में बड़ी भूमिका निभाने वाली एक संस्था द्वारा आतंकी संगठनों के साथ देने के लिए भी इनपुट्स हैं। ये इनपुट्स पिछले सप्ताह मिले हैं।

republic day 2021 tractor rally alert-3

राममंदिर निर्माण आतंकी संगठनों के टारगेट पर

इनपुट्स में कहा गया है कि जम्मू कश्मीर में धारा 370 व 35ए हटाने के विरोध व राममंदिर बनने के विरोध में आतंकी संगठन टारगेट किलिंग करवा सकते हैं। इनपुट्स में ये भी कहा गया है कि आतंकी किसान आंदोलन का भी फायदा उठा सकते हैं।

ये भी देखें: गणतंत्र दिवस परेड में DRDO की दो झांकियां, इस खास मिसाइलों की दिखेगी झलक

ऐसे में सुरक्षा एजेंसियों के लिए किसान आंदोलन सिरदर्द बना हुआ है। दिल्ली में हाईअलर्ट कर दिया गया है। सुरक्षा एजेंसियों को किसानों के सभी धरना स्थल, गणतंत्र परेड व भीड़-भाड़ वाले इलाकों में अर्लट कर दिया है। इन जगहों पर सीनियर पुलिस अधिकारियों को तैनात किया गया है।

रोंहिग्या ग्रुप द्वारा आतंकी हमले के इनपुट्स

दिल्ली पुलिस अधिकारियों के अनुसार रोंहिग्या ग्रुप द्वारा आतंकी हमला करने के पहली बार इनपुट्स मिले हैं। दिल्ली में अवैध रूप से घुसे आठ रोंहिग्या घुसपैठियों को उत्तम नगर व पूर्वी दिल्ली से पकड़ा है। इस तरह पहली बार रोंहिग्या घुसपैठिए पकड़े गए हैं।

आतंकी संगठनों में एकजूटता

इनपुट्स में ये भी कहा गया है कि ज्यादातर आतंकी संगठन एक हो गए हैं। इन्होंने देश के उग्रवादी संगठनों को मिला लिया है। ये किसी न किसी सूरत में आतंकी हमला करना चाहते हैं। देश के कई राज्यों में खुफिया एजेंसियों ने आतंकी हमले के इनपुट्स भेजे हैं। ड्रग्स सप्लाई कर आतंकी हमलों के लिए पैसा एकत्रित किया गया है।

ये भी देखें:मस्जिद के लिए चंदा लेने कश्मीर से MP आए युवक लापता, मचा हड़कंप

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story