Top

राहुल का उत्तर भारत विरोधी बयान, भड़की भाजपा, नड्डा-स्मृति ने बोला बड़ा हमला

राहुल गांधी के केरल में दिए गए एक बयान पर सियासी संग्राम छिड़ गया है। राहुल गांधी ने कहा है कि उत्तर भारत में सिर्फ सतही राजनीति की जाती है जबकि केरल के लोग मुद्दों की राजनीति करते हैं।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 24 Feb 2021 5:38 AM GMT

राहुल का उत्तर भारत विरोधी बयान, भड़की भाजपा, नड्डा-स्मृति ने बोला बड़ा हमला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी के केरल में दिए गए एक बयान पर सियासी संग्राम छिड़ गया है। इस बयान में राहुल गांधी ने कहा है कि उत्तर भारत में सिर्फ सतही राजनीति की जाती है जबकि केरल के लोग मुद्दों की राजनीति करते हैं।

राहुल के इस बयान के बाद भाजपा ने उन्हें घेर लिया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए इस बयान को उत्तर भारतीयों का अनादर बताया है।

उत्तर भारत में होती है सतही राजनीति

मौजूदा समय में राहुल गांधी केरल की वायनाड संसदीय सीट से ही लोकसभा में पहुंचे हैं। केरल की यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने तिरुअनंतपुरम में एक सभा को संबोधित करते हुए उत्तर भारत के बारे में बयान दिया।

उन्होंने कहा कि राजनीति में शुरुआती 15 साल मैं उत्तर भारत से ही सांसद था। इस दौरान मुझे दूसरे तरह की राजनीति का सामना करना पड़ता था। उन्होंने कहा कि उत्तर भारत में सिर्फ सतही राजनीति की जाती है मगर यहां केरल के लोग मुद्दों की राजनीति करते हैं और मुद्दों की तह तक जाने का प्रयास करते हैं।

rahul-gandhi

राहुल ने भाजपा को भी घेरा

जिन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं उनमें केरल भी शामिल है और इस कारण इन दिनों राहुल गांधी ने केरल पर खासा ध्यान देना शुरू कर दिया है। उनके यहीं से सांसद होने के कारण केरल में कांग्रेस के प्रदर्शन से बड़ा सियासी संदेश निकलेगा। यही कारण है कि राहुल हाल के दिनों में केरल पर विशेष ध्यान दे रहे हैं।

ये भी पढ़ेँ- TMC कार्यकर्ताओं पर हमलाः गोली लगने से एक की मौत, पार्टी में मचा हंगामा

सभा के दौरान उन्होंने वाममोर्चा गठबंधन के साथ ही भाजपा पर भी हमला बोला। उन्होंने सवाल किया कि भाजपा की ओर से माकपा की अगुवाई वाली केरल सरकार पर हमला क्यों नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सीबीआई और ईडी केरल सरकार के खिलाफ नरम रवैया अपनाए हुए हैं जबकि दूसरे राज्यों में कार्रवाई की जा रही है।

JP-Nadda

भाजपा की तीखी प्रतिक्रिया

उत्तर भारतीयों के संबंध में राहुल गांधी की ओर से दिए गए बयान पर भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया जताई है। भाजपा नेताओं ने राहुल गांधी को अवसरवादी बताते हुए कहा कि वह और उनके परिवार के कई सदस्य कई बार अमेठी से सांसद चुने गए मगर अब वे उत्तर भारतीयों का अपमान कर रहे हैं।

गुजरात के नतीजों से नसीहत ले कांग्रेस

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि कुछ दिनों पहले पूर्वोत्तर के दौरे के दौरान वे देश के पश्चिमी हिस्से के लोगों के खिलाफ बयान दे रहे थे। अब दक्षिण भारत में उन्होंने उत्तर भारतीयों के खिलाफ जहर उगलना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का बयान उत्तर भारतीयों का अनादर है और अब बांटो और राज करो की राजनीति कामयाब नहीं होने वाली है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को गुजरात के निकाय चुनाव के नतीजों से नसीहत लेनी चाहिए।

ये भी पढ़ेँ- जल्द तारीखों का एलान: इन राज्यों के लिए चुनाव आयोग ने बुलाई बैठक, तैयार खाका

स्मृति ईरानी ने भी राहुल को घेरा

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी राहुल गांधी के बयान पर आपत्ति जताई है। पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के गढ़ अमेठी में राहुल गांधी को हराने वाली स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गांधी अमेठी से 15 साल तक सांसद रहे हैं और अब वे उत्तर भारतीयों के खिलाफ ही जहर उगलने में जुटे हुए हैं। उन्होंने राहुल गांधी को एहसान फरामोश बताते हुए कहा थोथा चना बाजे घना।

जोशी का माकपा और कांग्रेस पर हमला

केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू में भी राहुल गांधी से अमेठी और उत्तर भारत के लोगों का अपमान न करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अमेठी के लोगों ने गांधी परिवार को कई मौके दिए। रिजिजू ने कहा कि अगर आप अच्छे हैं तो देश के हर क्षेत्र में रहने वाले लोग भी अच्छे हैं।

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी ने माकपा और कांग्रेस दोनों को पाखंडी बताते हुए कहा कि इन दोनों दलों में कोई भी नैतिकता नहीं है। उन्होंने कहा कि ये दोनों दल बंगाल और तमिलनाडु में तो साथ दिख रहे हैं मगर केरल में एक-दूसरे के खिलाफ सियासी जंग लड़ रहे हैं।

जयशंकर भी राहुल के बयान पर खफा

विदेश मंत्री एस जयशंकर को भी राहुल गांधी का यह बयान नागवार गुजरा है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि मैं दक्षिण भारत से हूं मगर पश्चिमी राज्य से सांसद चुना गया हूं। उन्होंने कहा कि मैं दुनिया के सामने पूरे भारत का प्रतिनिधित्व करता हूं। किसी भी नेता को किसी भी क्षेत्र को कभी नीचा नहीं दिखाना चाहिए। विभाजित करने की राजनीति से हमें बाज जाना चाहिए।

अंशुमान तिवारी

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story