कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए सोनिया-राहुल ने उठाया ये बड़ा कदम, ये 3 नाम आए सामने

अध्यक्ष के चुनाव को लेकर शनिवार को दिल्ली में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई। इस बैठक में सभी नेताओं ने एक सुर में राहुल गांधी से अध्यक्ष पद पर बने रहने की अपील की। नेताओं ने कहा कि राहुल गांधी के बिना पार्टी कैसे चलेगी? लेकिन राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर बने रहने से एक बार फिर इंकार कर दिया।

नई दिल्ली: अध्यक्ष के चुनाव को लेकर शनिवार को दिल्ली में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई। इस बैठक में सभी नेताओं ने एक सुर में राहुल गांधी से अध्यक्ष पद पर बने रहने की अपील की। नेताओं ने कहा कि राहुल गांधी के बिना पार्टी कैसे चलेगी? लेकिन राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर बने रहने से एक बार फिर इंकार कर दिया।

बैठक में राहुल गांधी ने कहा कि, ‘मैंने तय कर लिया है, अब मैं अध्यक्ष पद पर नहीं रहना चाहता, मेरा फैसला अडिग है, आप लोग नए अध्यक्ष का चुनाव करिए। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के बीच हुई बैठक में ज्यादातर नेताओं ने राहुल गांधी का ही नाम दिया। वहीं कुछ नेताओं ने राहुल गांधी के मना करने के बाद प्रियंका गांधी का नाम भी आगे बढ़ाया।

यह भी पढ़ें…जानिए, मोदी की कामयाबी के पीछे प्राणों की आहुति किस-किस ने दी

मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि पार्टी के नेताओं से अध्यक्ष पद के लिए अब तक की रायशुमारी में तीन नाम निकलकर सामने आए हैं। इन तीन नामों में राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और मुकुल वासनिक के नाम शामिल हैं। लेकिन पूर्व केंद्रीय मंत्री वासनिक का नाम बहुत कम नेताओं ने लिया है, लेकिन राहुल और प्रियंका के अलावा सिर्फ उनका ही नाम लिया गया है।

बैठक में कांग्रस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि आप यह मच सोचिए कि मैं अध्यक्ष नहीं रहूंगा तो सक्रिय नहीं रहूंगा। आप लोग गलत समझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं पहले से कई गुना ज्यादा सक्रिय रहूंगा। जनता के बीच ज्यादा रहूंगा। वक्त भी मेरे पास ज्यादा रहेगा। इसलिए आप लोग नया अध्यक्ष चुन लीजिए।

यह भी पढ़ें…24 घंटे रेड अलर्ट: मौत बनकर आई बारिश ने ले ली 45 लोगों की जान

इससे पहले मीटिंग के बाद कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने जानकारी दी कि मौजूदा हालात के मद्देनजर एक मजबूत विपक्ष की जरूरत है और इसका नेतृत्व करने के लिए राहुल गांधी ही एक मजबूत व्यक्ति हैं। उन्होंने यह भी बताया कि सभी ने राहुल गांधी से अध्यक्ष बने रहने की अपील की, लेकिन उन्होंने अपना इस्तीफा वापस लेने से मना कर दिया।