SC खोलेगी शाहीन बाग़ का रास्ता: कब तक प्रदर्शन, सरकार और पुलिस देगी जवाब

शाहीन बाग़ प्रदर्शन और धरने के कारण बंद रास्ते को लेकर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा। इस दौरान प्रदर्शन खत्म करने पर फैसला आ सकता है।

दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के खिलाफ लगभग दो महीने से ज्यादा समय से दिल्ली के शाहीन बाग़ में प्रदर्शन हो रहा है। इसी मामले में सोमवार को सुप्रीम कोर्ट प्रदर्शन खत्म कराने और कालिंदी कुंज-शाहिन बाग सड़क को खुलवाने को लेकर सुनवाई करेगा। इस दौरान कोर्ट केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार और पुलिस से जवाब तलब करेगा। वहीं शाहीन बाग़ प्रदर्शनकारी महिलाएं भी अपना पक्ष रखेंगी।

शाहीन बाग़ प्रदर्शन पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई:

शाहीन बाग़ प्रदर्शन और धरने के कारण बंद रास्ते को लेकर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा। इस दौरान प्रदर्शन खत्म करने पर फैसला आ सकता है। बता दें कि प्रशासन और पुलिस शाहीन बाग़ के विरोध प्रदर्शन को खत्म कराने और कालिंदी कुंज-शाहिन बाग सड़क को खुलवाने की कई बार कोशिश की गईम लेकिन नाकाम रहे। जिसके बाद मामला कोर्ट में पहुंच गया है।

ये भी पढ़ें: निर्भया के दोषियों की किस्मत आज होगी तय: तीसरा डेथ वारंट हो सकता है जारी

शाहीन बाग लंगर पड़ा भारी: ऐसे हुए बर्बाद कि बिक गया पूरा मकान

केंद्र-दिल्ली सरकार और पुलिस से जवाब तलब:

जानकारी के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान केंद्र, दिल्ली और पुलिस अपना जवाब दाखिल कर सकती है। कोर्ट ने इस बारे में सरकार और पुलिस से जवाब तलब किया था।

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र गठबंधन खतरे में! गिर सकती है ठाकरे की सरकार, अहम बैठक आज

प्रदर्शनकारी महिलाएं भी रखेंगी अपना पक्ष:

वहीं, इस सुनवाई के दौरान शाहीन बाग की प्रदर्शनकारी महिलाएं भी अपना पक्ष रखने की तैयारी में हैं। बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारी महिलाओं में से कुछ वॉलंटियर बनाई गयीं हैं जो सुनवाई के लिए कोर्ट में शाहीनबाग़ का पक्ष रखेंगी। गौरतलब है कि शाहीनबाग़ का प्रदर्शन फेसलेस है।

ऐसे में मिल कर तय किया गया कि शाहीन बाग़ का एक लीगल पैनल कोर्ट में अपनी दलील पेश करेंगा। जिसका नेतृत्व धरने पर बैठी कुछ चयनित दादियाँ करेंगी। वहीं शाहीनबाग़ की दलील वकील अनस तनवीर सिद्दीकी पेश करेंगे।

ये भी पढ़ें: BJP में जश्न आज: 14 साल बाद मिलेगा इस दिग्गज का साथ, शाह करायेंगे पार्टी ज्वाइन