कालाधन: आ गई स्विस बैंक की पहली लिस्ट, जानिए पूरी डिटेल

विदेश में बैंको में कालाधन छुपाकर रखने वालों की खैर नहीं है। विदेशों में कालेधन को लेकर देश की मोदी सरकार को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। स्विट्जरलैंड की सरकार ने भारत सरकार को बैंक खातों से जुड़ी पहली जानकारी दे दी है।

नई दिल्ली: विदेश में बैंको में कालाधन छुपाकर रखने वालों की खैर नहीं है। विदेशों में कालेधन को लेकर देश की मोदी सरकार को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। स्विट्जरलैंड की सरकार ने भारत सरकार को बैंक खातों से जुड़ी पहली जानकारी दे दी है।

स्विट्जरलैंड ने स्विस बैंक में खुले भारतीय खातों की जानकारी सरकार को दी है। भारत कुछ चुनिंदा देशों में से एक है जिन्हें ये जानकारी दी जा रही है।

यह भी पढ़ें…केंद्र ने गांधी परिवार के SPG नियमों को किया सख्त, तोड़ा तो रद्द होगी सुरक्षा

स्विट्जरलैंड के टैक्स विभाग के मुताबिक इसके बाद भारत सरकार को अगली जानकारी 2020 को दी जाएगी। जानकारी के मुताबिक स्विट्जरलैंड में दुनिया के 75 देशों के करीब 31 लाख खाते हैं जो रडार पर हैं इनमें भारत के कई खाते भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें…ऐसे हुआ खुलासा! रची गई थी सुखबीर सिंह बादल की हत्या की साजिश

स्विट्जरलैंड से जानकारी मिलने के बाद सरकार के सूत्रों ने बताया है कि जो जानकारी सामने आई है उसमें सभी खाते गैरकानूनी नहीं हैं। सरकारी एजेंसियां अब इस मामले में जांच शुरू करेंगी, जिसमें खाताधारकों के नाम, उनके खाते की जानकारी को इकट्ठा किया जाएगा और कानून के हिसाब से ऐक्शन लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें…दशहरा स्पेशल: भगवान राम के लिए रावण ने किया था यज्ञ, जानिए क्यों

2018 के आंकड़ों के मुताबिक भारतीयों का अब 6757 करोड़ रुपये स्विस बैंकों में जमा है।

मोदी सरकार के लिए विदेशों से कालाधन वापस लाना बहुत बड़ा मुद्दा है। अब मोदी सरकार को काले धन के खिलाफ बड़ी कामयाबी मिली है।