मुख्तार अब्बास नकवी का बड़ा बयान:कहा- तबलीगी जमात का ‘तालिबानी जुर्म..

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।कहा कि तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज की गतिविधियों में शामिल हुए कई लोग कोरोना  संक्रमण का शिकार हो गए है इस पर केंद्रीय मंत्री नराजगी जाहिर है। इधर तबलीगी जमात पर आरोप लग रहे हैं

Published by suman Published: March 31, 2020 | 9:28 pm
Modified: March 31, 2020 | 10:08 pm

नई दिल्ली  केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।कहा कि तबलीगी जमात के निजामुद्दीन मरकज की गतिविधियों में शामिल हुए कई लोग कोरोना  संक्रमण का शिकार हो गए है इस पर केंद्रीय मंत्री नराजगी जाहिर है। इधर तबलीगी जमात पर आरोप लग रहे हैं कि उसकी लापरवाही से सैकड़ों लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा पैदा हो गया है। नकवी ने तबलीगी जमात की आलोचना करते हुए कहा कि उसने ‘तालिबानी गुनाह’ किया है और ‘उसके पाप माफी के लायक नहीं’ हैं।

यह पढ़ें..कोरोना के खिलाफ जंग में पीएम मोदी की मां भी हुईं शामिल, केयर्स फंड में दिए इतने रुपये

 

नकवी ने ट्वीट किया, तबलीगी जमात का तालिबानी जुर्म‘. यह लापरवाही नहीं, ‘गंभीर आपराधिक हरकतहै। जब पूरा देश एकजुट होकर कोरोना से लड़ रहा है तो ऐसे गम्भीर गुनाहको माफ नहीं किया जा सकता। नकवी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर मुस्लिम मजहबी नेताओं के संदेशों को भी पोस्ट किया है। इन संदेशों में मजहबी नेता लोगों से अपील कर रहे हैं कि वे वायरस को काबू में करने के लिए लॉकडाउन और दूसरे दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करें।

 

 

गृह मंत्रालय के मुताबिक इस साल जनवरी से लेकर अब तक 2100 के करीब विदेशियों ने तबलीगी गतिविधियों के सिलसिले में भारत का दौरा किया। इनमें से सभी ने जमात के हेडक्वॉर्टर दिल्ली के निजामुद्दीन में रिपोर्ट किया।

 

यह पढ़ें..मरकज मामले की जांच करेगी क्राइम ब्रांच, आयोजकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

मुख्तार अब्बास नकवी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए अपनी सांसद निधि ने 1 करोड़ रुपये दिए हैं। बीजेपी ने अपने सभी सांसदों से अपील की है कि वे सांसद निधि के तौर पर मिले 5-5 करोड़ रुपये के फंड में से 1-1 करोड़ रुपये कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में सहयोग के रूप में दें।