×

6 घंटे में आतंकी हमले: दहशत में कश्मीर के लोग, आगे आतंकियों की नई साजिश

गुरुवार को सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे के अंदर करीब तीन बार अलग-अलग जगहों पर आतंकी हमले हुए। लेकिन आतंकियों की इन नापाक हरकतों से किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ।

Newstrack
Updated on: 17 Dec 2020 1:34 PM GMT
6 घंटे में आतंकी हमले: दहशत में कश्मीर के लोग, आगे आतंकियों की नई साजिश
X
आतंकियों की इन नापाक हरकतों से किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ। साथ ही भारतीय सुरक्षाबलों ने करारा जवाब देते हुए घायल आतंकी को अपनी हिरासत में ले लिया।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद के चुनावों में कश्मीरी लोगों की भागीदारी से तिलमिलाए हुए आतंकी लगातार ताबड़तोड़ हमले करने में लगे हुए हैं। ऐसे में आज गुरुवार को सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे के अंदर करीब तीन बार अलग-अलग जगहों पर आतंकी हमले हुए। लेकिन आतंकियों की इन नापाक हरकतों से किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ। साथ ही भारतीय सुरक्षाबलों ने करारा जवाब देते हुए हिजबुल के घायल आतंकी को अपनी हिरासत में ले लिया।

ये भी पढ़ें... सेना पर आतंकी हमला: बिछ गई जवानों की लाशें ही लाशे, मौतों से दहला ये देश

सीआरपीएफ जवानों पर ग्रेनेड हमला

ऐसे में सबसे पहले आतंकी घटना घाटी के अनंतनाग जिले के गुंडबाबा इलाके में हुई। यहां दोपहर 12 बजे के करीब कुछ आतंकियों ने अवंतीपोरा के बिजबेहाड़ा अस्पताल के नजदीक सीआरपीएफ जवानों पर ग्रेनेड हमला किया।

फिर इसके बाद तीन बजे के करीब अवंतीपोरा के ही कदलबल इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ(CRPF) और जम्मू-कश्मीर पुलिस(J&K Police) के संयुक्त दल पर पहले तो ग्रेनेड फेंका उसके बाद गोलीबारी कर वहां से फरार हो गए।

मिली जानकारी के अनुसार, पहला हमला दक्षिण कश्मीर के जिला अनंतनाग के गुंडबाबा इलाके में उस दौरान हुआ जब सुरक्षाकर्मी आतंकी देखे जाने की सूचना के बाद वहां सर्च ऑपरेशन चला रहे थे।

indian army फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...LAC पर गोला-बारूद: भारतीय सेना ने अब युद्ध की तैयारी की तेज, पहुंच रहे हथियार

आतंकी को घायल अवस्था में पकड़ लिया

भारतीय सुरक्षाबलों व आतंकियों के बीच चली संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने हिजबुल के आतंकी को घायल अवस्था में पकड़ लिया। इस स्थानीय आतंकी की पहचान जहीर अब्बास लोन निवासी पुलवामा के तौर पर हुई। लेकिन मुठभेड़ के दौरान उसे आत्मसमर्पण करने का मौका भी दिया गया था।

आतंकी हमले के बारे में पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि आतंकवादी कश्मीर में बदलते हालात को देख अब बौखला गए हैं। इस तरह के हमले कर वे लोगों में अपनी दहशत बढ़ाना चाहते हैं। सुबह से अब तक हुए हमलों में सुरक्षाबलों को खासा नुकसान नहीं हुआ है। सीआरपीएफ का जवाब भी खतरे से बाहर बताया जा रहा है। जल्द ही इन हमलों को अंजाम देने वाले आतंकवादियों को मार गिराया जाएगा। फिलहाल घाटी में अलर्ट जारी है।

ये भी पढ़ें...सेना की बड़ी कार्रवाई: 15 आतंकी ढेर, भारी हथियार बरामद, कांपे दहशतगर्द

Newstrack

Newstrack

Next Story