ISI के नाम से मिला रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी भरा पत्र

 सिटी व कैंट स्टेशन को उड़ाए जाने की धमकी भरे मिले पत्र के बाद रेल प्रशासन व खुफिया एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। फिरोजपुर रेल मंडल द्वारा पठानकोट सहित जम्मूतवी तक सभी स्टेशनों की सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है।

पठानकोट:  सिटी व कैंट स्टेशन को उड़ाए जाने की धमकी भरे मिले पत्र के बाद रेल प्रशासन व खुफिया एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। फिरोजपुर रेल मंडल द्वारा पठानकोट सहित जम्मूतवी तक सभी स्टेशनों की सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है। पत्र मिलने के बाद सिटी व कैंट रेलवे स्टेशन पर RPF व GRP ने संयुक्त रुप से अभियान चलाकर स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

यह भी पढ़ें,,, करारी हार के बाद कांग्रेस में इस्तीफे का दौर जारी, इन नेताओं ने भेजा अपना इस्तीफा

इस दौरान स्टेशन पर काम करने वाले वेंडरों, कुलियों, आटो चालकों व टैक्सी ड्राइवरों से मीटिंगें कर उन्हें कहा गया कि अगर कोई शक वाला व्यक्ति दिखे तो उसकी सूचना तुरंत GRP, RPF व रेलवे अधिकारी को दे ताकि समय रहते उसका पता लगाया जा सके। बता दें, बीते शनिवार को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ की ओर से GRP पटियाला मुख्यालय को पत्र भेजा गया था। पत्र में कैंट व सिटी स्टेशन को उडा़ाने की बात कही गई है। पत्र मिलने के बाद GRP व RPF पूरी तरह से मुस्तैद हो गई है।

यह भी पढ़ें,,, अमेठी हत्याकांडः पुलिस ने 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार, 2 अब भी फरार

RPF पठानकोट सिटी व कैंट की ओर से चलाए गए चेकिंग अभियान संबंधी जानकारी देते हुए अधिकारियों ने बताया कि स्टेशन परिसर में आने वाले प्रत्येक यात्री पर पैनी निगाह रखी जा रही है। सादे कपड़ों में भी जवानों की तैनाती की गई है, ताकि कोई अप्रिय घटना घटित न हो सके। अधिकारियों ने बताया कि वेटिंग हाल व लोको शेड में खड़े होने वाले वाहनों पर पैनी नज़र रखी जा रही है।

यह भी पढ़ें,,, मेरठ: बंद फ्लैट में मिला महिला का शव, पति पर हत्या का शक

अधिकारियों से कहा गया है कि किसी भी बाहरी व्यक्ति का यहां वाहन नही लगना चाहिए। चेकिंग अभियान के बाद रेलवे परिसर में काम करने वाले वेंडरों, कुलियों, टैक्सी चालकों व आटो चालकों से कहा गया कि जिस तरह सुरक्षा एजेंसियां स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था को यकीनी बनाने का काम करती है। उसी प्रकार सुरक्षा व्यवस्था को यकीनी बनाने में आप लोग भी उनकी पूरी सहायता कर सकते हैं।

कई बार ऐसा होता है कि शरारती तत्व स्टेशन पर आने की बजाय बाहर से ही घटना को अंजाम देने की फिराक में होते हैं। ऐसे लोग पुलिस से बच-बचाकर कई बार आगे पीछे हो जाते हैं जिनके बारे में आप लोगों को थोड़ी बहुत जानकारी होती है। लेकिन, जानकारी देने के डर से वह बात छुपा देते हैं।

यह भी पढ़ें,,, बांग्लादेश में इस्लामिक स्टेट के धमाके में तीन घायल

लोग यदि रेलवे परिसर में ऐसे किसी व्यक्ति को देखें जिसकी हरकते ठीक नहीं है ओर उसकी बातों से आपको शक पड़ता है कि यह खतरनाक हो सकता है तो उसके बारे में डयूटी पर तैनात पुलिस जवान, रेलवे अधिकारी को दे ताकि समय रहते उसका पता लगाया जा सके। GRP के कार्यकारी प्रभारी सब इंसपेक्टर कुलदीप सिंह ने कहा GRP मुख्यालय में आए पत्र के बाद पठानकोट सहित आस-पास के लगते सभी स्टेशनों पर तैनात जवानों को हथियार सहित डयूटी करने के लिए कहा गया है।