×

महिला को बेरहमी से पीटा, फिर शरीर में लगा दी आग, पीड़िता स्कूटी से पहुंची थाने

संजीता किसी तरह से वहां से बचकर निकली और स्कूटी से थाने पहुंची। गांधीनगर थाने में उसने पुलिस को अपनी आप बीती बताई। उस वक्त उसके शरीर पर जलने और चोट के निशान थे।

Newstrack

By Newstrack

Published on 26 Dec 2020 11:38 AM GMT

महिला को बेरहमी से पीटा, फिर शरीर में लगा दी आग, पीड़िता स्कूटी से पहुंची थाने
X
ये घटना अंबिकापुर शहर के भगवानपुर इलाके में हुई है। यहां 36 वर्षीय संजीता विश्वास उर्फ डॉली अपने घर में अकेली रहती है। पति नरोत्तम ने दूसरी शादी कर ली थी।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अंबिकापुर: छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर में एक दिलदहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां जमीन विवाद को लेकर तीन महिलाओं ने एक महिला के ऊपर मिट्टी तेल छिड़ककर आग लगाकर उसे जान से मारने का प्रयास किया। महिला किसी तरह से खुद को बचाते हुए गांधीनगर थाने पहुंची।

उस वक्त भी वह पूरी तरह मिट्टी तेल से नहाई हुई थी, उसके शरीर पर जलने और चोट के निशान भी नजर आ रहे थे। महिला को इस हाल में देखकर पुलिस दंग रह गई।

उसे आनन-फानन में नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने 3 महिला आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें अरेस्ट कर लिया है।

Crime Scene क्राइम सीन( फोटो-सोशल मीडिया)

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर एम्स के निदेशक डॉ. गुलेरिया ने कही ये बड़ी बात

क्या है ये पूरा मामला

ये घटना अंबिकापुर शहर के भगवानपुर इलाके में हुई है। यहां 36 वर्षीय संजीता विश्वास उर्फ डॉली अपने घर में अकेली रहती है। उनके पति नरोत्तम विश्वास ने दूसरी शादी कर ली थी। संजीता का पड़ोस में ही रहने वाली मीनाक्षी व ज्योति के साथ जमीन लेकर विवाद चल रहा है।

गुरुवार को घर में ताला बंद कर संजीता फैमिली कोर्ट में पेशी के लिए आई थी। पेशी होने के बाद वह तीन बजे घर पहुंची। ताला खोलकर घर के अंदर गई तो सब सामान्य था।

जब घर के पीछे गई तो बाउंड्रीवाल को ढहा दिया गया था और पास में मीनाक्षी व ज्योति व अन्य लोग मौजूद थे। इसी बात को लेकर उन लोगों में कहासुनी हो गई।

MP में भीषण हादसा: चार लोगों की मौत, परिवार में मचा कोहराम

Police Team पुलिस ( फोटो: सोशल मीडिया)

महिला की हालत देख पुलिस के उड़े होश

उनके बीच बहस इतनी ज्यादा बढ़ गई कि मीनाक्षी, ज्योति और रंजीता मिट्टी तेल से भरे जरकिन को संजीता के ऊपर उड़ेलकर आग लगा दी। इस दौरान इसके साथ मारपीट भी की गई।

संजीता किसी तरह से वहां से बचकर निकली और स्कूटी से थाने पहुंची। गांधीनगर थाने में उसने पुलिस को अपनी आप बीती बताई। उस वक्त उसके शरीर पर जलने और चोट के निशान थे। पुलिस ने उसे फौरन अस्पताल में भर्ती कराया।

गांधीनगर थाने की पुलिस ने बताया कि शुक्रवार को संजीता ने थाने में आकर रिपोर्ट लिखाई है। जमीनी विवाद को लेकर उसके साथ मीनाक्षी, ज्योति व अन्य एक महिला ने मारपीट की थी। उसे जलाकर मारने का प्रयास भी किया गया। इस मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

अलर्ट मोड में सैनिक: तवांग सेक्टर में मुस्तैद जवान, चीन को सिखाएंगे सबक

Newstrack

Newstrack

Next Story