×

यूपी: योगी कैबिनेट की बैठक में हुए बड़े फैसले, किए ये ऐलान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को यूपी कैबिनेट बैठक हुई। इस बैठक में कैबिनेट ने कई प्रस्तावों पर मुहर लगाई। इसमें गोवंश सहभागिता योजना' के संबंध में प्रस्ताव पास हुआ।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 6 Aug 2019 9:44 AM GMT

यूपी: योगी कैबिनेट की बैठक में हुए बड़े फैसले, किए ये ऐलान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को यूपी कैबिनेट बैठक हुई। इस बैठक में कैबिनेट ने कई प्रस्तावों पर मुहर लगाई। इसमें गोवंश सहभागिता योजना' के संबंध में प्रस्ताव पास हुआ। इसके साथ ही इलेक्ट्रानिक मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर की ग्रेटर नोएडा में स्थापना के लिए राज्य बजट से यूपीडेस्को को स्वीकृत धनराशि पर समस्त ब्याज माफ करने का भी प्रस्ताव पास किया गया।

इसके अलावा उप्र सहकारी ग्राम विकास बैंक लखनऊ द्वारा नाबार्ड से ऋण लिये जाने के लिए शासकीय गारंटी की अवधि बढ़ाई गई।

यह भी पढ़ें...अमित शाह ने PoK को लेकर दिया बड़ा बयान, बोले- इसके लिए तो दे देंगे जान

-इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर के ग्रेटर नोएडा में स्थापना हेतु उत्तर प्रदेश शासन द्वारा राज्य बजट से यूपी डेस्को को स्वीकृत अवमुक्त धनराशि पर आरोपित समस्त ब्याज माफ किए जाने हेतु प्रस्ताव हुआ पास।

-आयुक्त ,सहारनपुर मंडल ,सहारनपुर के कार्यालय भवन के निर्माण हेतु ग्राम विकास विभाग की भूमि राजस्व विभाग के पक्ष में हस्तांतरित किए जाने के संबंध में प्रस्ताव हुआ पास।

-6 करोड़ 99 लाख रुपये की ब्याज को माफ किया गया। यूपी का पहला और भारत का सबसे बड़ा फ्लोटिंग सोलर पॉवर प्लांट स्थापित होगा।

यह भी पढ़ें...जम्मू-कश्मीर का सच: मुस्लिम राज्य में हिंदू शासक की ऐसी थी कहानी

-उत्तर प्रदेश जल विद्युत निगम की रिहंद जल विद्युत परियोजना क्षेत्र में एस ई सी आई के माध्यम से रिहंद जलाशय की वाटर सरफेस पर 150 मेगावाट क्षमता की फ्लोटिंग सोलर पावर प्लांट विकसित किए जाने के संबंध में प्रस्ताव हुआ पास।

-750 करोड़ का आएगा निवेश, प्रदेश की तरफ से कोई इन्वेस्टमेंट नही है ।

-निराश्रित, बेसहारा गोवंश को रखने के इच्छुक किसानों को पशुपालकों को या अन्य व्यक्तियों को सुपुर्द करने के संबंध में प्रस्ताव पास। मुख्यमंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना के तहत दिए जाएंगे पशु। डीएम और मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी की देखरेख में 30 रुपये प्रतिदिन प्रति गोवंश गौपालक-किसान को दिया जाएगा। इस योजना के प्रथम चरण में 1 लाख गोवंश को सुपुर्द किया जाना है। इस पर 109 करोड़ 50 लाख का खर्च अनुमानित।

यह भी पढ़ें...जम्मू-कश्मीर से अलग हुआ करगिल, बनेगा लद्दाख का हिस्सा

-उत्तर प्रदेश सहकारिता ग्राम विकास बैंक लिमिटेड लखनऊ द्वारा नाबार्ड से ऋण आहरित करने हेतु शासन द्वारा नाबार्ड के पक्ष में स्वीकृत शासकीय गारंटी की अवधि दिनांक 30.06.2020 तक बढ़ाए जाने के संबंध में प्रस्ताव हुआ पास।

-उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रॉनिक वाहन मैन्युफैक्चरिंग नीति 2019 के संबंध में प्रस्ताव पास हुआ।

-40 हज़ार करोड़ के निवेश की संभावना, 50 हज़ार लोगो को रोजगार मिलने की उम्मीद।

-मृदा में सूक्ष्म तत्वों की कमी को दूर करने के लिए भूमि सुधार हेतु जिप्सम वितरण की योजना के क्रियान्वयन के संबंध में प्रस्ताव पास।

यह भी पढ़ें...आर्टिकल 370 हटने के बाद कुछ ऐसा होगा नया जम्मू-कश्मीर

-आयुक्त ,सहारनपुर मंडल ,सहारनपुर के कार्यालय भवन के निर्माण हेतु ग्राम विकास विभाग की भूमि राजस्व विभाग

के पक्ष में हस्तांतरित किए जाने के संबंध में प्रस्ताव पास।

-उत्तर प्रदेश जल विद्युत निगम की रिहंद जल विद्युत परियोजना क्षेत्र में एसईसीआई के माध्यम से रिहंद जलाशय की वाटर सरफेस पर 150 मेगावाट क्षमता की फ्लोटिंग सोलर पावर प्लांट विकसित किए जाने के संबंध में प्रस्ताव पास।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story