ट्रंप का भारत दौरा ऐसा: इन बड़े मुद्दों पर दुनिया की रहेगी नजर…

Published by Shivani Awasthi Published: January 15, 2020 | 1:27 pm
Modified: January 15, 2020 | 1:29 pm

दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप फरवरी में भारत के दौरे पर आ सकते हैं। राष्ट्रपति ट्रंप का यह दौरा बेहद ख़ास माना जा रहा है। दरअसल, अमेरिका और ईरान के बीच इन दिनों तनाव बढ़ा हुआ है, वहीं राष्ट्रपति ट्रंप पर चल रहे महाभियोग पर अंतिम फैसला भी आने वाला है। ऐसे में उनका ये दौरा अमेरिका के लिए बाहरी और आंतरिक राजनीति के तौर पर अहम है।

खास है ट्रंप का दौरा:

डोनाल्ड ट्रंप को प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी ने कई बार भारत आने के लिए न्योता दिया। पहले जून 2017 में अमेरिकी यात्रा के दौरान पीएम मोदी ने ट्रंप को भारतीय गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया था। बाद में यह निमंत्रण 2019 गणतंत्र दिवस परेड के आमं‍त्रण के रूप में बदल दिया गया था।

ये भी पढ़ें: बड़ा हादसा: उड़ते विमान से गिरा जेट फ्यूल, बच्चों समेत 60 घायल

हालांकि ट्रम्‍प ने इसमें आने से मना कर दिया था। आखिरी बार अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा ने 2015 में भारत का दौरा किया था। वह पहले ऐसे अमेरिकी राष्‍ट्रपति थे जिन्‍होंने भारत के गणतंत्र समारोह में शिरकत की थी।

महाभियोग पर फैसले से पहले ट्रंप का बड़ा दौरा:

यहीं वजह है कि ट्रंप का दौरा ख़ास है। दरअसल, राष्ट्रपति ट्रंप पर महाभियोग लगाया गया है। राष्ट्रपति ट्रंप के खिलाफ अमेरिकी संसद में चल रहे महाभियोग पर अंतिम फैसले के चलते भारत यात्रा का भी निर्णय लिया गया है। ऐसे में यह उनका राष्ट्रपति रहते भारत का पहला और आखिरी दौरा हो सकता है।

ये भी पढ़ें: नेपाल में भी नागरिकता पर घमासान

वहीं अमेरिका में नवंबर में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होना है। चुनाव प्रचार में व्यवस्तता के चलते भी वह भारत दौरे पर पहले ही आ सकते हैं। अगर फरवरी-मार्च तक उनकी भारत यात्रा नहीं हो पाती है, तो शायद ट्रंप के लिए इस कार्यकाल में भारत आना संभव नहीं हो सकेगा

मोदी-ट्रम्प साथ! कांप उठा झूठा पाकितान, होगी ये बड़ी घोषणाएँ

अमेरिका-ईरान तनाव के बीच भारत दौरे पर सबकी नजर:

गौरतलब है कि ईरान के कमांडर जनरल पर ड्रोन हमला करने के बाद अमेरिका के साथ ईरान के रिश्ते तनावपूर्ण हो गये हैं। दोनों देशों में लगातार मिसाइल हमले हो रहे हैं। ईरान ने ईराक में स्थित अमेरिका दूतावास में हमला किया था। ऐसे में ट्रंप का भारत दौरा उनकी कूटनीति से भी जोड़कर देखा जा रहा है। पीएम मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप के बीच इस दौरान वैश्विक संबंधों को मजबूत करने और शांति सुरक्षा को लेकर बातचीत होगी। पूरी दुनिया की नजर भारत और अमेरिका के बीच की बातचीत पर होगी।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में आर्मी चीफ बाजवा ने PM इमरान का किया तख्तापलट! ये है बड़ा सबूत

ट्रंप से पहले ये राष्ट्रपति कर चुके भारत की यात्रा

बता दें कि ट्रंप से पहले भी कई राष्ट्रपति भारत दौरे पर आ चुके हैं। इनमें पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा को नाम भी शामिल हैं। उन्होंने अपने दोनों ही कार्यकाल में भारत की यात्रा की। अपने कार्यकाल के अंतिम वर्ष 2016 में वह भारत के गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि थे। उनसे पहले जॉर्ज बुश ने साल 2006 में भारत आये थे, वहीं बिल क्लिंटन साल ने भी 2000 में भारत की यात्रा की थी।

ये भी पढ़ें: मात्र 1132 रुपये में बिक रहा है पति, बोलिए क्या आप खरीदेंगे…