निशाने पर राहुल-प्रियंका, वरुण गांधी ने कहा- सरकार का विरोध करें, राष्ट्र का नहीं

सीएए (नागरिकता संशोधन कानून) और एनआरसी को लेकर बीजेपी नेता व सांसद वरुण गांधी ने सरकार का समर्थन किया है। वहीं उन्होंने विपक्ष को निशाने पर लिया। संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर देश में हो रहे विरोध प्रदर्शनों को वरुण गांधी ने गलत करार दिया।

file photo

नई दिल्ली: सीएए (नागरिकता संशोधन कानून) और एनआरसी को लेकर बीजेपी नेता व सांसद वरुण गांधी ने सरकार का समर्थन किया है। वहीं उन्होंने विपक्ष को निशाने पर लिया। संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर देश में हो रहे विरोध प्रदर्शनों को वरुण गांधी ने गलत करार दिया।  एक टीवी चैनल से बातचीत में वरुण गांधी ने कई मुद्दों पर बात की।  के विरोध करने के सवाल पर वरुण ने कहा कि सरकार का विरोध कीजिए, राष्ट्र का नहीं।

 

 यह पढ़ें….क्षेत्रीयता के आधार पर नहीं होना चाहिए किसी के साथ भेदभाव: मुलायम

 

 

वरुण गांधी ने कहा- एनआरसी को लेकर लोगों के मन में डर पैदा किया गया। एनआरसी की कोई प्रक्रिया अभी शुरू ही नहीं हुई है। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की हालत जानवरों से भी बुरी। सीएए कानून तीन देशों के अल्पसंख्यकों के लिए है। अमित शाह संसद में स्थिति साफ कर चुके हैं। तीन देशों में अल्पसंख्यकों की आबादी 12-21 फीसदी तक बची है। 110 देशों के पास अपना रजिस्टर ऑफ सिटीजन, नागरिकता को धर्म से जोड़ने का आरोप गलत है।विपक्ष में हर कोई खुद को बचाकर चल रहा है।

 यह पढ़ें…कई दशकों में सबसे ठंडा मौसम, अभी और आएंगे बुरे दिन, जानें क्यों पड़ रही इतनी ठंड

 

शाहीन बाग में आजादी के नारे लग रहे हैं। भीड़ हिंसा पर उतारू तो अफसर क्या करेगा?पुलिस हिंसक भीड़ को माला पहनाएगी क्या? पाक भेजने की मेरठ के एसपी की बात भी गलत है। जेएनयू में जिसने भी हिंसा की गलत किया है। मोदी-शाह दोनों 300 सीटें जीतकर लाए। नोटबंदी के बाद भी यूपी चुनाव में बहुमत मिला है। रजनीकांत हों या दीपिका, आधे घंटे बोलकर देश को बताना चाहिए था। दीपिका फोटोऑप के लिए जेएनयू पहुंची थीं। सबको विचारधारा चुनने की आजादी है। ऐसा मत कीजिए जिससे आपका लाभ हो, देश का नाश हो। आप इतिहास को जानते नहीं हैं या इसकी अनदेखी कर रहे हैं।