आ रहा चक्रवाती तूफान: इन राज्यों में 3 दिन होगी मूसलाधार बारिश, IMD का हाई अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक, आंध्र प्रदेश में भी प्रमुख विभागों को तटीय एवं रायलसीमा क्षेत्रों के अधिकांश जिलों में अगले तीन दिनों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। इसके लिए हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

Cyclone

Alert: चार दिन में आने वाला है एक और बड़ा तूफान, इन 4 राज्यों में होगी भारी भारिश (फोटो:सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: देश पर एक बार फिर तूफान का खतरा मंडरा रहा है। बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव हुआ है जिसके कारण भयानक चक्रवाती तूफान 25 नवंबर को तमिलनाडु तट से टकरा सकता है। आने वाले 24 घंटे में इसके तेज चक्रवात में बदलने की संभावना है। साल 2020 के मानसून के बाद बंगाल की खाड़ी में बनने वाले इस पहले चक्रवाती तूफान को ‘निवार’ नाम दिया गया है।

वर्तमान स्थितियों को देखकर अनुमान जताया गया है कि यह 25 नवंबर को पुडुचेरी और कराईकल के बीच से लैंडफॉल कर सकता है। इस तूफान के असर के बारे में मौसम विभाग ने पूरी जानकारी दी है। इस तूफान का असर तमिलनाडु के तटीय इलाकों में रहेगा। इसके साथ ही आंध्र प्रदेश और रायलसीमा के क्षेत्रों में भी इसका असर दिखाई देगा।

मौसम विभाग ने बताया कि निवार तूफान की वजह से दक्षिण पूर्वी तेलंगाना में भारी बारिश होगी। मौसम विभाग की तरफ से अलर्ट जारी किए जाने के बाद मंगलवार से अगले आदेश तक सात जिलों में अंतर जिला बस सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। कुछ जिलों में ट्रेनें भी आंशिक या पूरी तरह निरस्‍त हो गई हैं।

ये भी पढ़ें…दिल्ली में मचा हाहाकार: कोरोना से बढ़ रहा मौतों का आंकड़ा, 23 दिनों में हुईं इतनी मौतें

Heavy Rain

मौसम विभाग ने स्थिति को देखते हुए मछुआरों को 26 नवंबर तक समुद्र के किनारे न जानें की सलाह दी है। मौसम विभाग के मुताबिक, आंध्र प्रदेश में भी प्रमुख विभागों को तटीय एवं रायलसीमा क्षेत्रों के अधिकांश जिलों में अगले तीन दिनों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। इसके लिए हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें…संविधान दिवस: सरदार पटेल की प्रतिमा के नीचे मनेगा, जाएंगे राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री

120 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

भारतीय मौसम विभाग ने कहा है कि तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटों से 25 नवंबर को दोपहर 100-110 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से टकरा सकता है। इसके साथ इसकी रफ्तार बढ़कर 120 किलोमीटर प्रति घंटे तक होने की संभावना है। चक्रवात के असर से तमिलनाडु और पुडुचेरी में तीन दिन भारी बारिश हो सकती है।

ये भी पढ़ें…प्लास्टिक से बनेगा डीजल: इस राज्य में बनेगा पहला ऐसा कारखाना, मिलेगा इतना सस्ता

खतरे से निपटने की तैयारी

तूफान के खतरे से निपटने के लिए एनडीआरएप की कई टीमें तैनात की गई हैं। सरकार की तरफ स्थितियों का जायजा लिया गया है। एनडीआरएफ के एक अधिकारी ने बताया कि चक्रवात से प्रभावित होने वाले क्षेत्रों में राहत और बचाव कार्यों के लिए 30 टीमें तैनात कर दी गई हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App