×

खिसकी पूरी धरती: यहां फंसे दर्जनभर लोग, भारी भूस्खलन ने मचाया कहर

SDRF की टीम ने यहां सुरक्षा की दृष्टि और वैकल्पिक मार्ग बनाने के लिए मोर्चा सम्भाल लिया है। आज SDRF की टीम ने यमुनोत्री की तरफ फंसे कुल 13 यात्रियों को सकुशल सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

Newstrack
Published on: 7 July 2020 10:25 AM GMT
खिसकी पूरी धरती: यहां फंसे दर्जनभर लोग, भारी भूस्खलन ने मचाया कहर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तरकाशी: भारी बारिश के कारण यमुनोत्री धाम को जाने वाले मुख्य सड़क मार्ग पर भारी भूस्खलन हुआ है। जिसके कारण धरासू-फूल चट्टी राष्टीय राजमार्ग NH94 में राना चट्टी के पास लम्बे समय के लिए बंद कर दिया गया है।

30 मीटर सड़क तो गहरी खाई में तब्दील हो गई

राना चट्टी के पास जर्जर गाड में मानसून की पहली ही बारिश ने ही अपना रौद्र रूप दिखा दिया है जिसमे मुख्य सड़क का 100 मिनट हिस्सा भूस्खलन की जद से क्षतिगस्त हो गया और करीब 30 मीटर सड़क तो गहरी खाई में तब्दील हो गई।

SDRF की टीम ने यहां सुरक्षा की दृष्टि और वैकल्पिक मार्ग बनाने के लिए मोर्चा सम्भाल लिया है। आज SDRF की टीम ने यमुनोत्री की तरफ फंसे कुल 13 यात्रियों को सकुशल सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

ये भी देखें: चीन पर शुरू ऑपरेशन: भारत की ताकत से पगलाया ड्रैगन, ऐसे राखी जा रही नजर

5 यात्रा वाहन यमुनोत्री की तरफ फंसे हुए हैं

सड़क मार्ग भूस्खलन से गीठ पट्टी के आठ गांव तहसील और जिला मुख्यालय से बिल्कुल अलग-थलग पड़ गए हैं। यह भी बताया जा रहा है कि यमुनोत्री धाम की यात्रा अगले कुछ दिनों के लिए ठप हो गई है। सड़क टूटने से अब भी 5 यात्रा वाहन यमुनोत्री की तरफ फंसे हुए हैं।

यमुनोत्री की तरफ़ फंसे यात्रियों में एक बुजुर्ग भी थे, जिनका ध्यान पुलिस और एसडीआरफ़ ने सबसे ज़्यादा रखा। यहां पानी शोर करता हुआ बह रहा है और एसडीआरएफ़ के जवान लगातार वैकल्पिक मार्ग तैयार करने की कोशिशों में जुटे हुए हैं।

ये भी देखें: बारिश की चेतावनी: मौसम विभाग ने जारी किया हाई अलर्ट, रहें सावधान

Newstrack

Newstrack

Next Story