किचेन में रखी ये चीज सेहत के लिए है वरदान, इसके बिना भोजन में भी ना आए स्वाद

सरसों का तेल । सरसों का तेल लगभग हर किसी के किचन में उपलब्ध होता है। सरसों का तेल स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है।

Published by suman Published: September 13, 2020 | 6:28 pm
kitchen oil

सरसों के तेल के फायदे, सोशल मीडिया से

लखनऊ: सरसों के तेल को सदियों से उपयोग में लाया जा रहा है। किचेन के जरूरी सामानों में यह एक है। क्योंकि इससे अनेक स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं। इस तेल को अधिकतर लोग सिर्फ खाना बनाने के लिए ही इस्तेमाल में लाते हैं, लेकिन यह सिर्फ भोजन बनाने तक ही सीमित नहीं है। यह तेल शरीर की कई छोटी-बड़ी समस्याओं को दूर करने में भी मदद करता है। जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती हैं। जी हां सरसों का तेल । सरसों का तेल लगभग हर किसी के किचन में उपलब्ध होता है। सरसों का तेल स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है।

दर्द से आराम

सरसों के तेल का सेवन करने से दर्द से आराम मिलता है। शरीर के अंदरुनी हिस्सों में होने वाले दर्द से आराम पाने के लिए सरसों के तेल को डाइट में शामिल करना चाहिए।

जोड़ों का दर्द

जिन लोगों को जोड़ों का दर्द होता है उनक लिए सरसों का तेल काफी फायदेमंद होता है। नियमित रूप से इस तेल से मालिश करने पर शरीर के रक्त संचार में सुधार हो सकता है। इससे जोड़ों व मांसपेशियों की समस्या को दूर रखने में मदद मिल सकती है। जोड़ों के दर्द को दूर करने के लिए रोजाना सरसों के तेल से जोड़ों की मालिश करें। नियमित रूप से मालिश करने से जोड़ों का दर्द दूर हो सकता है।

 

यह पढ़ें….लॉकडाउन ने छिनी रोजी-रोटी: गया ससुराल से मदद मांगने, कुएं में मिला शव

 

kitchen
सोशल मीडिया से

भूख  की समस्या का निदान

सरसों के तेल को बहुत पौष्टिक माना जाता है, इसलिए इसका प्रयोग खाना बनाने के लिए भी किया जाता है। है। जिन लोगों को भूख नहीं लगती है, उन्हें डाइट में सरसों के तेल को शामिल करना चाहिए। सरसों के तेल का इस्तेमाल करने से भूख नहीं लगने की समस्या दूर हो जाती है।

अस्थमा के प्रभाव को कम

इसमें पाया जाने वाला सेलेनियम अस्थमा के प्रभाव को कम करने में सहायक साबित हो सकता है। सरसों का तेल अस्थमा के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है। जो अस्थमा के मरीजों के लिए लाभदायक होता है।

मेटाबाल्जिम को बढ़ाने में मददगार

वजन कम करने के लिए भी इस तेल का इस्तेमाल  किया जा सकता है। सरसों के तेल में काफी मात्रा में विटामिन्स पाए जाते हैं जो मेटाबाल्जिम को बढ़ाने में सहायक होते हैं। वजन कम करने वाले लोगों को सरसों के तेल को डाइट में शामिल करना चाहिए।

 

यह पढ़ें…शिवसेना पर कंगना ने निकाली भड़ास,पूछा- क्या चाहते हैं, गुंडे सरेआम मुझे लिंच कर दें!

 

kitchen
सोशल मीडिया से

मसूड़ों को मजबूती

दांतों की तकलीफ में सरसों के तेल में नमक मिलाकर रगड़ने से फायदा होता है, साथ ही दांत पहले से अधिक मजबूत हो जाते हैं। सरसों के तेल का इस्तेमाल करने से दांत दर्द की समस्या भी दूर हो सकती है।

इम्यून सिस्टम मजबूत

नियमित रूप से सरसों के तेल का इस्तेमाल करने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। सरसों के तेल का सेवन रोजाना करना चाहिए। सरसों के तेल का सेवन त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। त्वचा पर सरसों का तेल लगाने से त्वचा की नमी बने रहती है और त्वचा में निखार भी आता है। आप सरसों के तेल से पूरे शरीर की मालिश भी कर सकते हैं।

बालों की ग्रोथ बढ़ाने में मददगार

बालों की जड़ों को पोषण देकर रक्तसंचार बढ़ाता है जिससे बालों का झड़ना बंद हो जाता है। इसमें ओलिक एसिड और लीनोलिक एसिड पाया जाता है, जो बालों की ग्रोथ बढ़ाने के लिए अच्छे होते हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App