डर कर ज्यादा न करले सैनिटाइजर का यूज, नहीं तो होगा भारी नुकसान

दुनिया भर के देशों में कोरोना वायरस से लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं, जिस वजह से कई हजार लोगों ने अपनी जान गवां दी हैं। इसको देखते हुए के बढ़ते मामलों के बीच डॉक्टर और विशेषज्ञ शुरुआत से ही साफ-सफाई और हाइजीन मेंटेन करने की सलाह दे रहे हैं।

लखनऊ: दुनिया भर के देशों में कोरोना वायरस से लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं, जिस वजह से कई हजार लोगों ने अपनी जान गवां दी हैं। इसको देखते हुए के बढ़ते मामलों के बीच डॉक्टर और विशेषज्ञ शुरुआत से ही साफ-सफाई और हाइजीन मेंटेन करने की सलाह दे रहे हैं। खासकर हाथों को बार-बार धोना जरूरी बताया गया है, क्योंकि सबसे ज्यादा ये वायरस हाथों के जरिए ही फैलता है। लेकिन साबुन या हैंडवॉश से हाथ धोने के लिए पानी जरूरी है और खासकर कार्यस्थल में या सफर में बार-बार वॉशरूम जाना संभव नहीं। ऐसे में ज्यादातर लोग हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल कर रहे हैं। लेकिन अगर आपने इसका इस्तेमाल ज्यादा किया तो ये आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

ये भी पढ़ें:शो के सेट पर हुआ बड़ा हादसा, जल गईं ‘कसौटी जिंदगी के’ प्रेरणा

इस वायरस से बच ने के लिए लोग हाथ साफ़ धोने के लिए साबुन की जगह सैनिटाइजर का इस्तेमाल ज्यादा कर रहे है। हैंड सैनिटाइजर के इस्तेमाल से हमारे हाथों से बैक्टीरिया और वायरस साफ हो जाते हैं और ये इसके यूज़ के बाद हाथों में एक भीनी सी खुशबू छोड़ जाता है। लेकिन क्या आपको पता है कि ज्यादा हैंड सैनिटाइजर के यूज़ से आपकी हेल्थ खराब हो सकती है। तो आइए हम आपको बताते हैं इससे होने वाले नुकसानों के बारे में…

ट्राइक्लोसान केमिकल हाथ की त्वचा सोख लेता है

सैनिटाइजर में ट्राइक्लोसान नाम का एक केमिकल यानी रसायन होता है। इस केमिकल को हाथ की त्वचा सोख लेती है। इसके ज्यादा यूज़ से ये केमिकल हमारे ब्लड तक भी पहुंच सकता है और ब्लड में मिलने के लिए बाद यह हमारी मांसपेशियों के ऑर्डिनेशन को नुकसान पहुंचाता है।

सैनिटाइजर में बेंजाल्कोनियम क्लोराइड भी पाया जाता है, जो बैक्टीरिया और वायरस को हाथों से निकालता है। कई लोगों को सैनिटाइजर से त्वचा में जलन और खुजली जैसी समस्याएं होने की भी समस्या हो सकती हैं।

फैथलेट्स को खुशबू के लिए यूज़ किया जाता है

सैनिटाइजर में फैथलेट्स नाम का केमिकल होता है, जो खुशबू के लिए यूज किया जाता है। जिस सैनिटाइजर में इसकी मात्रा ज्यादा होती है, वो हमारे लिए नुकसानदायक हो सकता है। ज्यादा खुशबू वाले सैनिटाइजर लीवर, किडनी, फेफड़े और हमारे प्रजनन तंत्र पर असर करता हैं।

ये भी पढ़ें:कांग्रेस छोड़ BJP में शामिल हुए सिंधिया, शिवराज ने कह दिया ‘विभीषण’

सैनिटाइजर के ज्यादा इस्तेमाल से हमारी स्किन ड्राई हो जाती है। वहीं बहुत सी कंपनियों के सैनिटाइजर में अल्कोहल की मात्रा ज्यादा होती है। ऐसे में बच्चों द्वारा इसका इस्तेमाल करने के दौरान मुंह में जाने से और ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।