×

सिलाई मशीन से करोड़ों का सफर! महिला ने खड़े किए कई ब्रांड,स्टोरी कर देगी भावुक

अनीता ने 2 सिलाई मशीनों से अपना बिज़नेसशुरू किया था और आज उन्हीं दो सिलाई मशीन के बदौलत वो ऐसे मुकाम पर पहुंच चुकी हैं कि वह किसी परिचय की मोहताज नहीं है. अपनी प्रतिभा तथा कौशल के दम पर उन्होंने अपना फैशन बिजनेस खड़ा कर लिया ।

suman
Updated on: 26 Nov 2019 5:40 AM GMT
सिलाई मशीन से करोड़ों का सफर! महिला ने खड़े किए कई ब्रांड,स्टोरी कर देगी भावुक
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

जयपुर: फैशन डिजाइनर अनीता डोंगरे आज दुनियाभर में चर्चित नाम है। अनीता ने 2 सिलाई मशीनों से अपना बिज़नेस शुरू किया था और आज उन्हीं दो सिलाई मशीन के बदौलत वो ऐसे मुकाम पर पहुंच चुकी हैं कि वह किसी परिचय की मोहताज नहीं है। अपनी प्रतिभा तथा कौशल के दम पर उन्होंने अपना फैशन बिजनेस खड़ा कर लिया है। उनके डिजाइन किए परिधान 4 ब्रांड्स 'एंड', 'ग्लोबल देसी', 'अनीता डोंगरे' तथा 'अनीता डोंगरे ग्रासरूट' दुनियाभर में बिकते हैं।

यह पढ़ें..OMG: ये खास पर्स सिंगर की है जान, जानें क्या-क्या रखती हैं इसमें

लगभग 30 सालों से फैशन जगत में सक्रिय अनीता ने हाल ही में अपने ब्रांड के 2 दशक भी पूरे कर लिए हैं। देश में बिजनेस की दुनिया में अरबों की डील करने के साथ ही नए बिजनेस शुरू कर रही हैं। वे कंपनियों का अधिग्रहण कर रही हैं और ब्रांडों का निर्माण कर रही हैं। अनीता 2017 की सबसे ताकतवर बिजनेस वीमेन में शामिल हैं।

अनीता ने अपना ब्रांड करीब 20 साल पहले शुरू किया था लेकिन फैशन बिजनेस में 30 सालों से है। सबसे पहले घर से काम किया था। शुरूआत बहुत छोटी थी। मुंबई के एसएनडीटी बुमन्स यूनिवर्सिटी से डिजाइनिंग की पढ़ाई पूरी की।

यह पढ़ें..अगर हैं मोटे तो पिएं ये जूस, वजन कम करने में करेगा मदद

कॉलेज में पढ़ते वक्त ही अनीता 2 फैशन एग्जीबिशन कर चुकी थी। जिसके बाद उनके पिता ने उन्हें कुछ पैसे दिए।तब वो 5000 रुपए से एक कलेक्शन बना पा, जिसे मुंबई के एक बुटीक को भेज दिया गया। वह कलेक्शन एक ही हफ्ते में सारा बिक गया। उनका मानना है कि जब उन्होंने खुद का फैशन बिजनेस शुरू करने का फैसला किया तो अपने घर की बालकनी में अपनी छोटी-बहन के साथ मिलकर 2 सिलाई मशीनों से काम शुरू किया था।

अनीता को डिजाइनों से प्यार था। वे 30 साल पहले एक मास्टर जी और दो टेलरों के साथ बैठकर किसी नए डिजाइन पर सोच-विचार किया करती थी। और आज भी। बस फर्क यह है कि आज वे लगभग 2000 लोगों के साथ काम कर रही है।

यह पढ़ें..बंपर वैकेंसी: IBPS SO के लिए जल्द करें आवेदन, अंतिम मौका आज

पहले फैशन लेबल का नाम था 'मास'. इसे अपनी छोटी बहन के नाम पर रखा था लेकिन उस वक्त कोई भी स्टोर मेरे लेबल के नाम पर कपड़े नहीं बेच रहा था। वास्तव में पहला ब्रांड 1999 में लांच हुआ था। तब अनीता ब्रांड पहला था, जिसने सिंपल ट्राऊजर जैसी ड्रैसेज महिलाओं के लिए तैयार करनी शुरू की। ये परिधान उन महिलाओं के लिए थे जो कामकाजी थी, सफर करती थी।अनिता कहती है नई-नई डिजाइन्स के कपड़े तैयार करना और लोगों को आपके कपड़े पहने हुए देखना एक अलग ही अहसास है।

suman

suman

Next Story