इस दिवाली होगी खास जब बनाएंगे रंगोली आप, रंग-बिरंगी खुशियों से महकेगा आशियाना

जयपुर: दfवाली का त्योहार आते ही कुछ दिन पहले से दिल में रौशनी के दीप जलने लगते हैं। दीवाली पर लोग घरों की सफाई तो करते हैं। साथ ही, इस दिन घर को सजाने की भी परंपरा है। रंगोली बनाने का रिवाज है। रंगोली बनाने का अर्थ है जीवन में खुशियों के रंगों को आमंत्रित करना। इस बार रंगोली कुछ इस अंदाज में बनाएं कि आपके साथ दूसरों के जीवन में खुशियों के रंग बिखरे।पर आपको रंगोली बनाना नहीं आता है तो निराश ना हो, क्योंकि मार्केट में ना केवल रंग उपलब्‍ध है, बल्कि डिजाइन की बहुत सारी  किताबें भी उपलब्ध हैं,  जिसकी मदद से चंद मिनटों में लुभावनी रंगोली बनाई जाती है। वैसे तो ज्‍यादातर लोग रंगोली को रंग पाउडर से बनाते हैं । लेकिन फूलों की रंगोली, जरी पाउडर से बनी रंगोली, ककड़ी के बुरादे से बनी रंगोली और चावल से बनी रंगोली काफी प्रचलित है।

 

अरे ये क्या कह दिया! अखिलेश यादव ने सीएम योगी को

रंगोली बनाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान
*
रंगोली केवल डिजाइन से नहीं बनती, बल्कि कई स्टेप्स को ध्यान में रखकर बनती है। तब खूबसूरत डिजाइन में रंगोली बनाकर आप वाहवाही बटोर सकते हैं। सबसे पहले अपने घर की जगह को ध्यान में रखें, फिर उसके मुताबिक रंगोली की डिजाइन सिलेक्ट करें।
*फिर जो डिजाइन आपने सिलेक्ट की है उसे चॉक की मदद से रफ वे में जमीन पर ड्रॉ कर लें। अब आपको रंगोली जिन मटेरियल से तैयार करना है, उन्हें इकट्ठा कर लें। जैसे चोकर, चावल, रंग, फूल वगैरह।

 


*अब बनाई हुई डिजाइन के मुताबिक रंगों को भरें। जलते हुए दीये, पान या आम के पत्तों के साथ आप अपनी रंगोली को डेकोरेट कर सकते हैं। अलग-अलग रंग के फूलों को पहले इकट्ठा कर लें और फिर इनसे आप अपने मनमुताबिक रंगोली बना सकते हैं।आप चाहें तो गुलांल या मार्केट में मिलने वाले रंगों से रंगोली बना सकते हैं।

क्या आप भी ब्रेकअप के बाद इस चीज से हैं परेशान, तो पढ़ लें ये खबर
*चावल को अलग-अलग रंगों से रंग कर भी रंगोली बनाई जा सकती है। चोकर या मौरंग को अलग-अलग रंगों में रंग कर भी रंगोली बना सकते हैं। इसके लिए चोकर और मौरंग को एक दिन पहले रंग में भिगो कर सुखाना पड़ता है। छन्नी की मदद से रंगोली में असानी से रंग भर सकते हैं। आउटलाइन बनाने के लिए एक प्लास्टिक कोन में रंगों को भर कर रंगोली बनाएं।

 


रंगोली के बेहतरीन डिजाइन

क्‍या आप जानते है कि साबूदाने को अलग-अलग रंगो से रंग कर भी रंगोली के लिये प्रयोग किया जाता है। आप रंगोली चाहे जैसे बनाए, लेकिन उसके बीच में दिया सजाना बिल्‍कुल मत भूलियेगा, वरना वह अधूरी रह जाएगी। यदि आप डिजाइन को लेकर चिंता में हैं तो हम आपको नई-नई रंगोली के डिजाइन दिखा रहे हैं, जिसकी मदद से आप खूबसूरत डिजाइन में रंगोली बना कर अपने घरों को सजा सकते हैं और लोगों की वाहवाही पा सकते हैं। देखिए आपके लेकर आए है बेहतरीन रंगोली..

 

 

महिला की ऐसी हरकत! हो गए सब हैरान, जब एयरपोर्ट पर सबके सामने किया ये…