Top

असम में सबने झोंकी ताकत, मोदी-राहुल ने एक दूसरे पर साधा निशाना

पीएम मोदी ने टूलकिट केस का जिक्र किया और कहा कि एक टूलकिट सर्कुलेट किया गया जिसमें असम और हमारे योग को बदनाम करने की कोशिश की गई। कांग्रेस पार्टी इन टूलकिट तैयार करने वालों का समर्थन करती है और अब भी असम में वोट मांगने का दुस्साहस रखती है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 20 March 2021 12:40 PM GMT

असम में सबने झोंकी ताकत, मोदी-राहुल ने एक दूसरे पर साधा निशाना
X
असम के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और भाजपा ने पूरी ताकत लगा दी है। आज राहुल गांधी और पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्य में सभाओं को संबोधित किया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: असम के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और भाजपा ने पूरी ताकत लगा दी है। आज राहुल गांधी और पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्य में सभाओं को संबोधित किया। असम में भाजपा अपनी सरकार रिपीट करने के लिए तत्पर है वहीं कांग्रेस खोई ताकत वापस पाने के लिए जूझ रही है।

असम के चबुआ में रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से भावनात्मक अपील करते हुए कहा कि एक चायवाला आपके दर्द को नहीं समझेगा तो कौन समझेगा। पीएम ने कहा- मैं आपको यह आश्वस्त करता हूं कि एनडीए सरकार चाय बागान में काम करने वाले श्रमिकों के जीवन को बेहतर बनाने का प्रयास करेगी। मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने उन पार्टियों के साथ हाथ मिला लिया है जो असम की संस्कृति और विरासत के लिए खतरा हैं। मोदी का इशारा शायद एआईयूडीएफ की ओर था।

पीएम मोदी ने टूलकिट केस का जिक्र किया और कहा कि एक टूलकिट सर्कुलेट किया गया जिसमें असम और हमारे योग को बदनाम करने की कोशिश की गई। कांग्रेस पार्टी इन टूलकिट तैयार करने वालों का समर्थन करती है और अब भी असम में वोट मांगने का दुस्साहस रखती है।

Narendra Modi

ये भी पढ़ें...राहुल का एलान: फ्री बिजली, रोजगार समेत दी ये 5 गारंटी, असम से किए बड़े वादे

हम दो और हमारे दो के लिए काम कर रही सरकार: राहुल गांधी

इसके पूर्व राहुल गांधी असम में दो दिन के चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे। उन्होंने आज डिगबोई और मारियानी में रैली को संबोधित किया और असम के लोगों के लिए कांग्रेस की तरफ से पांच गारंटी वाले काम भी बताए। राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा कि यह सरकार सिर्फ हम दो और हमारे दो के लिए काम कर रही है।।इसमें गरीबों, किसानों, छोटे व्यापारियों के लिए नहीं सोचा जा रहा है। आम जनता की जेब से पैसा निकलकर पूंजीपतियों की जेब में दिया जा रहा है।

ये भी पढ़ें...RSS में बड़ा बदलाव: दत्तात्रेय होसबोले बने सरकार्यवाह, ली भैय्याजी जोशी की जगह

Rahul Gandhi

पांच गारंटी

राहुल गांधी ने कहा कि असम क्या पूरे देश में सीएए नहीं लागू होने देंगे।।उन्होंने कहा कि चाय मजदूरों को हम 365 रुपये मजदूरी देंगए। हर परिवार को दो सौ यूनिट बिजली मुफ्त मिलेगी, महिलाओं को कांग्रेस सरकार हर महीने दो हजार रुपये देगी और पांच लाख रोजगार देगी।

उन्होंने कहा कि असम में फिर से कांग्रेस की सरकार आएगी और राज्य में शांति होगी और असम विकास की राह पर लौट आएगा। पीएम मोदी ने कांग्रेस की 5 गारंटी को खोखले वादे करार दिया है।

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story