BJP के कब्जे में कांग्रेस के MLA: 25 करोड़ में हो रही बिक्री, दिग्विजय सिंह का आरोप

विधायकों की खरीद-फरोस्त आम हो गयी है। इसी मामले में अब मध्य प्रदेश की सियासत गरमा गयी है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर उनके विधायकों को जबरन होटल में रखने का आरोप लगाया है।

BJP luring Congress MLA in MP alleges Digvijaya Singh

भोपाल: विधायकों की खरीद-फरोस्त आम हो गयी है। इसी मामले में अब मध्य प्रदेश की सियासत गरमा गयी है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर उनके विधायकों को जबरन होटल में रखने का आरोप लगाया है। वहीं कहा कि सात/आठ विधायकों को भाजपा के चंगुल से छुडवा लिया गया है।

भाजपा ने कांग्रेस के विधायकों को होटल में छुपाया:

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को अस्थिर करने का आरोप भाजपा पर लगा है। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और राज्‍यसभा के सदस्‍य दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर आरोप लगाया कि उन्होंने पार्टी के 10 से 11 विधायकों को गुरुग्राम के एक होटल में छुपा कर रखा है। उन्होंने ये भी दावा किया कि भाजपा के कब्जे से कांग्रेस ने 6 से 7 विधायकों को मुक्त करा लिया।

ये भी पढ़ें: इस BJP नेता ने दिया विवादित बयान, स्वतंत्रता सेनानी को बताया पाकिस्तानी एजेंट

भाजपा के कब्जे में अब भी कांग्रेस के चार विधायक:

वहीं दिग्विजय सिंह के मुताबिक, भाजपा के कब्जे में अब सिर्फ चार विधायक हैं। मामले में बीती मंगलवार रात से ही सियासी ड्रामा चला। बताया जा रहा है कि गुरुग्राम के ITC होटल में नरोत्‍तम मिश्रा पांच विधायकों के साथ होटल में रुके थे।

पुलिस ने होटल के कुछ हिस्सों में जाने से रोका, मैनेजमेंट से भी बहस:

जिनमें से सिर्फ रमा देवी को कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और मंत्री जयवर्धन सिंह के साथ लौटते हुए देखा गया। जानकारी के मुताबिक़, पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को होटल के मुख्‍य हिस्‍से में जाने ही नहीं दिया था। इस दौरान दिग्विजय सिंह की होटल मैनेजमेंट से भी बहस हो गयी। हालाँकि हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद दिग्विजय सिंह, जयवर्धन सिंह और जीतू पटवारी वहां से वापस लौट गए।

ये भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा: फरार ताहिर का नया पैतरा, गिरफ्तार से बचने की लगाई तरकीब 

digvijay singh, congress leader

शिवराज और भाजपा कांग्रेस के विधायकों को दे रहे 25 से 35 करोड़:

दिग्विजय सिंह का आरोप है कि शिवराज और नरोत्तम में सहमति बन गई है। एक मुख्यमंत्री और दूसरा डिप्टी सीएम बनने का सपना देख रहे हैं। शिवराज सिंह चौहान और नरोत्तम मिश्रा कांग्रेस विधायकों को फोन कर रहे हैं और खुलेआम कांग्रेस के विधायकों को 25 से 35 करोड़ का ऑफर दे रहे हैं।

5 करोड़ अभी ले लो, दूसरी किश्त राज्यसभा चुनाव में और तीसरी किस्‍‍‍त सरकार गिराने (फ्लोर टेस्ट) के बाद दी जाएगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के लगाए गए आरोप को सही ठहराया।

ये भी पढ़ें: बड़ी खबर: भाजपा को घेरने वाले इस दिग्गज कांग्रेस नेता के घर पर हमला, कई घायल