Top

क्या वाकई में गिरने वाली है राजस्थान सरकार? CM गहलोत ने क्यों दिया ऐसा बयान

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के इस आरोप पर बीजेपी की तरफ से प्रतिक्रिया आई है। प्रदेश अध्यक्ष सतीश पुनिया ने कहा कि इनकी सरकार में इतना झगड़ा है कि यह बीजेपी के नेताओं को दोष दे कर अपना झगड़ा छुपाना चाहते हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 5 Dec 2020 12:56 PM GMT

क्या वाकई में गिरने वाली है राजस्थान सरकार? CM गहलोत ने क्यों दिया ऐसा बयान
X
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत (फोटो : सोशल मीडिया)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर: राजस्थान में जल्द ही मंत्रिमंडल का विस्तार होना है। इससे पूर्व राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज एक बार फिर से ऐसा बयान दे दिया है। जिससे सियासी पारा गरमाने लगा है। माना जा रहा है कि आगे चलकर ये मामला और भी ज्यादा तूल पकड़ सकता है।

दरअसल अशोक गहलोत ने आरोप लगाया है कि फिर से सरकार गिराने का खेल शुरू होने वाला है। अशोक गहलोत ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि राजस्थान में सरकार गिराने का फिर से खेल शुरू होने वाला है। महाराष्ट्र में भी सरकार गिराने की चर्चाएं हैं।

उन्होंने नाम न लेते हुए इशारों ही इशारों में कांग्रेस नेता और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट और बीजेपी पर एक साथ हमला बोला है। जिसके अब सियासी मायने निकाले जा रहे हैं।

Ashok Gehlot and Sachin Pilot राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत और सचिन पायलट (फोटो: सोशल मीडिया)

किसानों के समर्थन में उतरे राहुल गांधी, पीएम मोदी पर बोला जोरदार हमला

बीजेपी ने लगाया ये गंभीर आरोप

गहलोत ने कहा कि बीजेपी की तरफ से इससे पहले सरकार गिराने की कोशिश की जा चुकी है। इस बात के गवाह कांग्रेस नेता अजय माकन रहे हैं।

उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन भी इस कार्यक्रम में जुड़े हुए थे। इस घटना के दौरान माकन 34 दिन होटल में हमारे विधायकों के साथ रहे थे।

अशोक गहलोत यहीं पर नहीं रूके बल्कि आगे कहा कि देश के गृहमंत्री अमित शाह हमारे विधायकों को बैठाकर चाय-नमकीन खिला रहे थे और बता रहे थे कि पांच सरकार गिरा दी है, छठी भी गिराने वाले हैं।

धर्मेंद्र प्रधान भी इस खेल में शामिल थे और वे लगातार उनका मनोबल बढ़ाने के लिए जजों से बातचीत करने की बातें कर रहे थे। गहलोत ने कहा कि अमित शाह ने हमारे विधायकों से एक घंटे मुलाकात की थी और पांच सरकारें गिराने के बाद छठी भी गिरा देने की बात शाह ने कही थी।

गहलोत ने कहा कि इस घटनाक्रम के दौरान कांग्रेस नेता अजय माकन, रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडे यहां आकर बैठ गए। इन्होंने नेताओं को बर्खास्त करने का फैसला किया, तब जाकर सरकार बची।

गह्लोत ने कहा कि पूरे राजस्थान की जनता चाहती थी कि सरकार गिरनी नहीं चाहिए। प्रदेश के लोग कांग्रेस विधायकों को फोन कर कह रहे थे कि सरकार गिरनी नहीं चाहिए। लोग कह रहे थे कि चाहे दो महीने लग जाए लेकिन सरकार नहीं गिरनी चाहिए। उसे किसी भी तरह से बचाना होगा।

BJP flag बीजेपी का चुनाव चिन्ह (फोटो: सोशल मीडिया)

हैदराबाद चुनाव नतीजे: बजा BJP का डंका, अमित शाह ने कही ये बात..

बीजेपी ने गहलोत के बयान पर दिया ये जवाब

वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के इस आरोप पर बीजेपी की तरफ से प्रतिक्रिया आई है। प्रदेश अध्यक्ष सतीश पुनिया ने कहा कि अशोक गहलोत सरकार गिराने को लेकर रोज़ भेड़िया आया- भेड़िया आया की तरह नई- नई कहानियां लेकर आ जाते हैं। इनकी सरकार में इतना झगड़ा है कि यह बीजेपी के नेताओं को दोष दे कर अपना झगड़ा छुपाना चाहते हैं।

सीएम गहलोत ने आरोप लगाया कि बीजेपी भारी पैसा ख़र्च कर कार्यालय बना रही है और हम तो कह रहे हैं कि इतने साल से सत्ता में रहे कार्यालय बनाने के बजाय के नेताओं ने अपने घर बनाए।

उन्होंने ये भी कहा कि अशोक गहलोत शासन चला पाने में अक्षम हैं इसलिए झूठा और तथ्यहीन आरोप लगा रहे हैं। कांग्रेस के अंदर घर में अंदरूनी झगड़ा है जिसकी वजह से वह परेशान है ,इसके लिए बीजेपी पर बिना कोई सुबूत के आरोप लगाकर हमला बोल रहे हैं।

बीजेपी के इस बड़े नेता ने ममता बनर्जी के लिए किया आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story