मुख्यमंत्री योगी ने बूथ लेवल के अध्यक्ष व कार्यकर्ता को किया सम्मानित

आदित्यनाथ का लोकसभा चुनाव में भाजपा की प्रचण्ड विजय के बाद आज पहली बार गोरखपुर में आगमन हुआ। इस अवसर पर जीत का जश्न मुख्यमंत्री ने दस हजार कार्यकर्ताओं के साथ धन्यवाद रैली के रूप में मनाया।

गोरखपुर:  आदित्यनाथ का लोकसभा चुनाव में भाजपा की प्रचण्ड विजय के बाद आज पहली बार गोरखपुर में आगमन हुआ। इस अवसर पर जीत का जश्न मुख्यमंत्री ने दस हजार कार्यकर्ताओं के साथ धन्यवाद रैली के रूप में मनाया। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर सदर लोकसभा क्षेत्र के 50 ऐसे बूथों के कार्यकर्ताओं को सम्मानित भी किया जिन बूथों पर भाजपा प्रत्याशी को सर्वाधिक वोट मिले।

यह भी पढ़ें,,, पाटलिपुत्र-चंडीगढ़ एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनें जून में रद्द

इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री योगी  आदित्यनाथ ने सदर लोकसभा के सभी पाँच विधानसभा क्षेत्रों  गोरखपुर सदर, गोरखपुर ग्रामीण, सहजनवां, पिपराइच और कम्पीयरगंज के उन पांच-पांच बूथों पर जहां बी.जे.पी. प्रत्याशी को सबसे ज्यादा वोट पड़े के बूथ कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया।

यह भी पढ़ें,,,थाईफैक्स मेला: भारतीय व्यापार प्रतिनिधिमंडल को 3 करोड़ डॉलर के ऑर्डर मिलने की उम्मीद 

साथ ही सीएम योगी ने कहा, कि नवनिर्वाचित सांसद रविकिशन को बधाई देता हूँ। हर विधानसभा के 5 बूथों को आज सम्मानित किया जाएगा। मोदीजी के नेतृत्व में हमने विकास हुआ है।” देश के अंदर विकास कहीं भी प्रारंभ हुआ है वो विगत 5 वर्ष के अंदर मोदी जी ने बढ़ाया है, वो पहले कभी नहीं हुआ है।

यह भी पढ़ें,,, सीबीआई ने एडीजी सीआईडी राजीव कुमार के कार्यालय में ‘दस्तावेज’ भेजे

मोदी जी के नेतृत्व में एक भारत श्रेष्ठ भारत का जो विकास का नारा दिया गया वो सामने दिखाई दिया। देश की जनता जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति में नहीं पड़ेगी। ये जनता ने साबित कर दिया है। जम्मू से लेकर कर्नाटक तक जो भगवा झंडा लहरा रहा है। झूठे वादे और भधनबाजी से काम नहीं चलेगा। गरीबों तक योजना का लाभ पहुंच सके। जाति, क्षेत्र और मजहब के नाम पर कोई भेदभाव नही हुआ। पूरे देश के अंदर 300 से अधिक सीटों पर जीत हुई।

यह भी पढ़ें,,, गोरखपुर पुलिस ने 15000 के ईनामी लुटेरे को किया गिरफ्तार

देश की सुरक्षा और विकास को जो नहीं मानते हैं उन्हें देश की जनता ने जवाब दिया है। गोरखपुर में लंबी-लंबी लाइन बूथ पर देखने को मिला है। बाहर से आने वाले लोगों ने भी गोरखपुर और प्रदेश के अन्य जिलों में बाहर से आकर वोट किया. किसी भी दलाल और एजेंट सरकारी योजनाओं में सेंध न लगा पाए। इसके लिए जनता को जागरूक होना होगा। विकास के लिए सकारात्मक सोच होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें,,, छावनी परिषद के CEO बतायें अवारा पशुओं को हटाने के लिए क्या किया: कोर्ट

चुनाव के पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष और मोदीजी ने एक नारा दिया था। ‘बूथ जीता, तो चुनाव जीता’ का नारा दिया था। उस मंशा के अनुरूप परिणाम देखने को मिला। एक बार फिर अपने सम्मान को पुनर्स्थापित करने का काम किया है। सम्मानित होने वाले बूथ के बीच प्रतिस्पर्धा होनी चाहिए। सबसे अधिक वोट दिलाने की प्रतिस्पर्धा होनी चाहिए। बरसात के पहले स्वच्छता का एक अभियान बूथ स्तर पर होना चाहिए।

साथ ही मंच पर बैठे रवि किशन ने कहा, कि मैं योगी महाराज जी का ऋण कभी नहीं चुकाऊंगा। ये जीत योगी महाराज और आप लोगों की वजह से हुई। मंदिर की सीट वापस ले आए। हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा। अनगिनत रविकिशन गोरखपुर की धरती से निकलेंगे।

यह भी पढ़ें,,, स्वास्थ्य विभाग में भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं: सिद्धार्थनाथ सिंह

फ़िल्म सिटी प्लान लेकर आया हूं। शपथ लेते ही उस पर काम होगा। ये कैसे संभव हो पाया कि जो रविकिशन जौनपुर से हार गया था, वो यहां से 3 लाख से अधिक वोटों से जीत गया। ये योगी महाराज जी की वजह से संभव हो पाया है ।