Top

केजरीवाल का 5-T प्लान: देगा कोरोना को मात, ऐसी तैयार की गई रणनीति

राजधानी को कोरोना मुक्त बनाने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 5-T प्लान तैयार किया है। इस 5-T प्लान से केजरीवाल सरकार दिल्ली से कोरोना को दूर भगाएगी।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 7 April 2020 8:52 AM GMT

केजरीवाल का 5-T प्लान: देगा कोरोना को मात, ऐसी तैयार की गई रणनीति
X
केजरीवाल का 5-T प्लान: देगा कोरोना को मात, ऐसी तैयार की गई रणनीति
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: दिल्ली में तेजी से कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ रहा है। अब तक राजधानी में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 525 पहुंच गई है। वहीं अब राजधानी को कोरोना मुक्त बनाने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 5-T प्लान तैयार किया है। इस 5-T प्लान से केजरीवाल सरकार दिल्ली से कोरोना को दूर भगाएगी। आइए जानते हैं क्या है अरविंद केजरीवाल का 5-T फार्मूला?

अरविंद केजरीवाल का 5-T फार्मूला

पहला T: कोरोना की बड़े पैनामे पर टेस्ट

दूसरा T: कोरोना संक्रमितों की ट्रेसिंग

तीसरा T: कोरोना पीड़ितों का ट्रीटमेंट

चौथा T: कोरोना के खिलाफ टीम वर्क

पांचवां T: ट्रैकिंग एंड मॉनिटरिंग

टेस्टिंग

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम कोरोना की बड़े पैमाने पर टेस्टिंग करेंगे। उन्होंने कहा कि पहले टेस्टिंग किट की समस्या थी, लेकिन अब समस्या सुधरी है। दिल्ली सरकार की तरफ से 50 हजार लोगों के टेस्ट के लिए रैपिड टेस्टिंग किट का ऑर्डर दिया जा चुका है। शुक्रवार से हम कोरोना वायरस की टेस्टिंग शुरु करेंगे। अगले कुछ दिनों में 1 लाख टेस्ट किए जाएंगे। केंद्र सरकार से हमें शुक्रवार तक टेस्टिंग किट मिल जाएंगी।

यह भी पढ़ें: लालू के कारगर उपाय: कोरोना को हराने के लिए सभी को दिया ये संदेश

ट्रेसिंग

CM अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना से संक्रमित संदिग्ध लोगों की पहचान की जा रही है। कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोगों को ट्रेस किया जा रहा है। इसी के साथ सभी को क्वारंटाइन के लिए भेजा जा रहा है। पुलिस की मदद से हम ऐसे लोगों को ट्रेस करेंगे, जो होम क्वारनटीन हैं। पुलिस को अब तक 27202 लोगों के मोबाइल नंबर दिए गए हैं, ताकि पता लगाया जा सके कि लोग क्वारंटाइन में नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं।

ट्रीटमेंट

CM अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अब दिल्ली में अब तक कोरोना के कुल 525 मामले सामने आ चुके हैं। दिल्ली में लगभग 3 हजार बेड तैयार कर लिए हैं, जिसमें केवल कोरोना से संक्रमित मरीजों को ही रखा जाएगा। हमेन योजना तैयार कर ली है, अगर दिल्ली में 30 हजार तक मरीज भी हो जाते हैं तो भी हमारे पास पूरे इंतजाम हैं। दिल्ली के एलएनजेपी, जीबी पंत, राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल को कोरोना हॉस्पिटल घोषित किया गया है। इसके अलावा जैसे-जैसे मामले बढ़ते जाएंगे, वैसे-वैसे अस्पताल को भी कोरोना हॉस्पिटल में तब्दील कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना महामारी: केन्द्र का फार्मूला यूपी में भी लागू करने की तैयारी

टीम वर्क

CM केजरीवाल ने कहा कि कोरोना के खिलाफ अकेले लड़कर जंग नहीं जीती जा सकती। ऐसे में सभी को टीम वर्क के साथ काम करना होगा। सभी राज्य सरकारों को मिलकर काम करना होगा। सभी को एकजुट होकर एक टीम की तरह काम करना होगा। हम एक-दूसरे से सीखकर भी काम कर सकते हैं। इस टीम का सबसे अहम हिस्सा डॉक्टर और नर्स हैं, जिनकी सुरक्षा और रक्षा करनी होगी। सबको लॉकडाउन का सख्त पालन करना होगा।

ट्रैकिंग

योजना का क्रियान्यवयन कैसे हो रहा है? साथ ही इसकी ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग होगी।

दिल्ली में अब तक कोरोना से 525 संक्रमित

बता दें कि राजधानी में अब तक कोरोना के 525 मामले सामने आए हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय ने सोमवार को इसकी सूचना दी। इन 525 मामलों में 329 मामले मरकज मस्जिद से जुड़े हैं। इसके अलावा 168 लोग विदेश से यात्रा करके लौटे हैं। जबकि इस महामारी के चलते अब तक 7 लोगों की मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: यूपी में महामारी का ये दर्दनाक इतिहास, यात्रा करना इन पर पड़ा भारी

Shreya

Shreya

Next Story