Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

गृह मंत्री शाह का चीन को कड़ा जवाब: हमारी एक इंच जमीन भी कोई नहीं छीन सकता

केंद्रीय गृह मंत्री ने एक साक्षात्कार में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश में मजबूत सरकार काम कर रही है और हमारी सेना देश की संप्रभुता और सीमा की सुरक्षा में पूरी तरह सक्षम है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 18 Oct 2020 2:59 AM GMT

गृह मंत्री शाह का चीन को कड़ा जवाब: हमारी एक इंच जमीन भी कोई नहीं छीन सकता
X
सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारी सभा स्थल और रोड शो की जगह पर कार्यक्रम से पहले नियमित रूप से रेकी और रिहर्सल करेंगे। स्थानीय पुलिस को निर्देश दिया गया है कि वह इलाके के अंदर लॉ एंड ऑर्डर को मेनटेन कर लें।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली: लद्दाख में चीन के साथ पिछले कई महीनों से जारी सैन्य गतिरोध के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने साफ तौर पर कहा है कि मोदी सरकार देश की एक-एक इंच जमीन की सुरक्षा के लिए सतर्क है और कोई हमारी एक इंच जमीन भी नहीं छीन सकता। उन्होंने कहा कि लद्दाख गतिरोध को सुलझाने के लिए सरकार की ओर से हर मुमकिन सैन्य और कूटनीतिक विकल्प आजमाए जा रहे हैं मगर इसके साथ ही यह बात भी स्पष्ट है कि हम देश की एक इंच भी जमीन के साथ कोई समझौता नहीं कर सकते।

एक-एक इंच जमीन को लेकर सजग

केंद्रीय गृह मंत्री ने एक साक्षात्कार में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश में मजबूत सरकार काम कर रही है और हमारी सेना देश की संप्रभुता और सीमा की सुरक्षा में पूरी तरह सक्षम है।

यह पूछे जाने पर कि क्या चीन ने हमारी जमीन पर घुसपैठ की है, केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि हम अपने एक-एक इंच भूभाग को लेकर पूरी तरह सतर्क हैं और कोई भी ताकत इस पर कब्जा नहीं जमा सकती। उन्होंने कहा कि हमारी सेना लद्दाख में पूरी मजबूती के साथ डटी है और विरोधी सेना को मुंहतोड़ जवाब देने में जुटी हुई है।

ये भी पढ़ें...केंद्रीय मंत्री के साथ बड़ा हादसा: हेलीकॉप्टर हुआ दुर्घटनाग्रस्त, लैंडिंग में मचा कोहराम

पश्चिम बंगाल में भाजपा बनाएगी सरकार

शाह ने कहा कि भाजपा पश्चिम बंगाल में पूरी मजबूती से चुनाव लड़ेगी और सरकार बनाने में कामयाब होगी। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था की स्थिति काफी गंभीर हो चुकी है और भाजपा सहित अन्य राजनीतिक दलों को वहां राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग करने का पूरा अधिकार है। इस बाबत राज्यपाल की ओर से भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर केंद्र सरकार उचित फैसला लेगी।

गृह मंत्री ने कहा भाजपा राज्य में पूरी मजबूती के साथ जमीन पर काम कर रही है और यही कारण है कि हमें पूरी उम्मीद है कि विधानसभा चुनाव में भाजपा को जीत हासिल होगी।

Amit Shah

सीटें ऑफर करने पर भी लोजपा ने तोड़ा गठबंधन

उन्होंने कहा कि एनडीए में लोजपा को बनाए रखने के लिए हमारी ओर से भरपूर कोशिश की गई और हमने लोजपा को सीटें भी ऑफर की थीं।

इस बाबत लोजपा मुखिया चिराग पासवान के साथ कई दौर की बातचीत हुई मगर वे नहीं माने। हमें बिहार में लोजपा के साथ गठबंधन टूटने का दुख है, लेकिन अब एनडीए में जदयू, भाजपा, वीआईपी और हम का मजबूत गठबंधन है। हम मजबूत सामाजिक समीकरणों के साथ चुनाव मैदान में उतरे हैं और हमें पूरा भरोसा है कि एनडीए दो तिहाई बहुमत के साथ सरकार बनाने में कामयाब होगा।

ये भी पढ़ें...BJP का योगी पर दांव: एकलौते CM जो बने बिहार चुनाव के स्टार प्रचारक, आखिर क्यों

लोजपा को ऑफर सीटों का खुलासा नहीं

हालांकि साक्षात्कार के दौरान मुख्यमंत्री ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि भाजपा की ओर से लोजपा को कितनी सीटों का ऑफर दिया गया था।

चुनाव के बाद लोजपा को एनडीए में बनाए रखने के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसका फैसला चुनाव के बाद ही होगा। फिलहाल लोजपा हमारे खिलाफ चुनाव मैदान में उतरी है और भाजपा के कार्यकर्ता एनडीए को जिताने में जुटे हुए हैं।

ये भी पढ़ें...मरेगी चीनी सेना: भारत लाया ये खतरनाक हथियार, अब युद्ध को तैयार हमारी सेना

डबल इंजन की सरकार करेगी विकास

बिहार में भाजपा के अकेले चुनाव न लड़ने के सवाल पर गृह मंत्री ने कहा कि नीतीश कुमार हमारे पुराने साथी हैं। गठबंधन चलाने के लिए कुछ चीजों का पालन करना होता है और हम भी गठबंधन धर्म निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि केवल पार्टी के विस्तार के लिए गठबंधन तोड़ कर अकेले चुनाव लड़ना उचित नहीं है। ऊपर पीएम मोदी और नीचे मुख्यमंत्री के रूप में नीतीश कुमार मिलकर डबल इंजन की सरकार के सहारे बिहार को विकसित राज्य बनाने में कामयाब होंगे।

उन्होंने कहा कि एनडीए को दो तिहाई बहुमत हासिल होगा और यदि चुनाव में भाजपा को जदयू से ज्यादा सीटें मिलेंगी तो भी राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही होंगे।

लालू-राबड़ी राज का भ्रष्टाचार सबने देखा

शाह ने कहा कि बिहार के लोगों ने लालू-राबड़ी राज के 15 साल देख लिए हैं। इस दौरान राज्य का विकास पूरी तरह ठप हो गया था और फिरौती की घटनाओं ने उद्योग का रूप ले लिया था।

ये भी पढ़ें...सेना के बड़ा एक्शन: थरथर कांपे आतंकी, किसी ने किया सरेंडर, कहीं उड़े इनके चीथड़े

यहां तक कि गाय के चारे तक की लूट हुई। उस दौरान बेपनाह भ्रष्टाचार था और लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बेहद खराब थी। अब वह दौर खत्म हो चुका है और पिछले 15 सालों के दौरान बिहार में काफी बदलाव आया है।

जदयू को भी मिलेगा मोदी लहर का लाभ

उन्होंने कहा कि मोदी जी के पीएम बनने के बाद बिहार में विकास की रफ्तार तेज हुई है और उसे और विकसित करना हम सबकी जिम्मेदारी है। इस संबंध में मोदी सरकार प्राथमिकता के आधार पर काम कर रही है और चुनाव के बाद नीतीश कुमार के साथ मिलकर बिहार को और विकसित राज्य बनाया जाएगा। उन्होंने दावा किया कि मोदी लहर का लाभ जदयू को भी मिलेगा और राज्य में जदयू-भाजपा की राज्य में सरकार बनना तय है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story