इंदिरा ने राजीव गांधी को दी थी ये चेतावनी, कहा था- अमिताभ बच्चन को…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कई नेताओं ने देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को उनकी जयंती पर मंगलवार को नमन किया एवं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कई नेताओं ने देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को उनकी जयंती पर मंगलवार को नमन किया एवं उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

इंदिरा गांधी ने देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया पर अपनी अमिट छाप छोड़ी है। इंदिरा प्रियदर्शिनी गांधी एक ऐसा नाम है, जिन्हें उनके निर्भीक फैसलों और दृढ़निश्चय के चलते ‘लौह महिला’ कहा जाता है। जवाहरलाल नेहरू और कमला नेहरू के घर 19 नवंबर,1917 को जन्मी इंदिरा को उनके दादा मोतीलाल नेहरू ने यह नाम दिया।

यह भी पढ़ें…संसद में प्रदूषण पर चर्चा: गंभीर बोले- वायू प्रदूषण से हर 3 मिनट में 1 बच्चे की मौत

इसके बाद पिता जवाहर लाल नेहरू ने उनके सलोने रूप के कारण उनके नाम प्रियदर्शिनी भी जोड़ दिया। इंदिरा गांधी ने लगातार तीन बार और कुल चार बार देश की बागडोर संभाली और वह देश की पहली और एकमात्र महिला प्रधानमंत्री रहीं।

यह भी पढ़ें…सरकार-सरकार-सरकार: आखिर कब बनेगी महाराष्ट्र सरकार? चल रहा मीटिंग का दौर

इंदिरा गांधी के कुछ फैसलों को लेकर विवाद भी हुआ। जून 1984 में अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में सैन्य कार्रवाई, आपातकाल लगाने जैसे उनके फैसलों की आलोचना हुई।

यह भी पढ़ें…पाकिस्तान की उड़ा रहे थे धज्जियां, तभी बीजेपी नेता के साथ की गई बदसलूकी

कुछ रिपोर्टो में कहा जाता है कि इंदिरा गांधी ने अमिताभ बच्चन को राजनीति में लाने को लेकर राजीव गांधी को चेताया था। इंदिरा ने एक मीटिंग बुलाई थी जिसमें राजीव गांधी में शामिल थे। उन्होंने इस मीटिंग में कहा था कि तेजी के बेटे को राजनीति मत लेकर आना। अमिताभ की मां का नाम तेजी बच्चन था।