Top

कमलनाथ के विधायक तैयार, फ्लोर टेस्ट को लेकर कांग्रेस की थमी सांसें

फ्लोर टेस्ट के एक दिन पहले मध्य प्रदेश कांग्रेस के 92 विधायक जयपुर से विशेष फ्लाइट से भोपाल पहुंच चुके हैं। सभी विधायक करीब 11 बजे भोपाल स्थित राजाभोज एयरपोर्ट पहुंचे।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 15 March 2020 7:26 AM GMT

कमलनाथ के विधायक तैयार, फ्लोर टेस्ट को लेकर कांग्रेस की थमी सांसें
X
कमलनाथ के विधायक तैयार, फ्लोर टेस्ट को लेकर कांग्रेस की थमी सांसें
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भोपाल: मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन ने कांग्रेस नेता और प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को विधानसभा पटल पर बहुमत साबित करने के निर्देश दिए हैं। जिसके बाद से मध्य प्रदेश की राजनीतिक गलियारो में हलचल तेज हो गई है। इस बीच फ्लोर टेस्ट के एक दिन पहले मध्य प्रदेश कांग्रेस के 92 विधायक जयपुर से विशेष फ्लाइट से भोपाल पहुंच चुके हैं। सभी विधायक करीब 11 बजे भोपाल स्थित राजाभोज एयरपोर्ट पहुंचे हैं।

एयरपोर्ट से सीधे ले जाए गए होटल

वहीं भोपाल पहुंचे सभी कांग्रेसी विधायकों को एयरपोर्ट से सीधे होटल ले जाया गया। मिली जानकारी के मुताबिक, ये सभी विधायक शाम को कांग्रेस विधायक दल की होने वाली बैठक में हिस्सा लेंगे। बता दें कि भोपाल पहुंचे सभी 92 विधायक होटल कोर्टयार्ड मैरियट में ठहरेंगे। जिसको देखते हुए होटल की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। इसके साथ ही होटल में बाहरी लोगों की आवाजाही पर भी पाबंदी लगा दी गई है। जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री कमलनाथ इन विधायकों से मुलाकात करेंगे।

यह भी पढ़ें: हमले में मरे 3 लाख लोग: इस युद्ध ने उजाड़ दिए लाखों घर, कुछ ना बचा यहां

छावनी में तब्दील हुआ एयरपोर्ट

इससे पहले भोपाल स्थित राजाभोज एयरपोर्ट की भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई थी। साथ ही साथ एयरपोर्ट पर धारा 144 भी लागू की गई थी। एयरपोर्ट पर विधायकों के लिए सुरक्षा व्यवस्था इतनी कड़ी थी कि एयरपोर्ट छावनी जैसा लगने लगा था। इसके अलावा आम लोगों की गाड़ियों को एयरपोर्ट से पहले ही रोक दिया जा रहा था।

राज्यपाल ने बहुमत साबित करने के दिए निर्देश

बता दें कि राज्यपाल लालजी टंडन द्वारा मुख्यमंत्री कमलनाथ को विधानसभा पटल पर बहुमत साबित करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके संबंध में करीब आधी रात को राजभवन से कांग्रेस नेता और मुख्यमंत्री कमनाथ को एक पत्र जारी किया गया है।

इस दिन कमलनाथ का फ्लोर टेस्ट, MP की सत्ता में रहने के लिए देंगे अग्निपरीक्षा

अभिभाषण के तुरंत बाद होगा फ्लोर टेस्ट

राजभवन से मुख्यमंत्री कमनाथ को जारी किए गए पत्र में कहा गया है कि उनकी सरकार ने सदन का विश्वास खो दिया है और अब ये सरकार अल्पमत में है। स्थिति काफी गंभीर है और मुख्यमंत्री कमलनाथ को सोमवार 16 मार्च को सदन में बहुमत साबित करें। सदन में ये फ्लोर टेस्ट राज्यपाल के अभिभाषण के तुरंत बाद करवाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस आपदा घोषित: केंद्र सरकार ने मरीजों के लिए किया ये बड़ा एलान

16 मार्च को शुरू हो रहा विधानसभा सत्र

राज्यपाल ने अपने इस पत्र में ये भी लिखा है कि मुझे खबर मिली है कि 22 विधायकों ने विधानसभा स्पीकर को अपना इस्तीफा दिया है। उन सभी ने मीडिया को भी इसकी जानकारी दी है। मैंने इस संबंध में मीडिया कवरेज को भी देखा है। राज्यपाल ने कहा है कि 16 मार्च को उनके अभिभाषण के साथ मध्य प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र शुरू हो रहा है।

16 मार्च को ही पूरा की जाएगी उपरोक्त कार्यवाही

राज्यपाल ने कहा कि उनके अभिभाषण के तुरंत बाद ही सदन में विश्वास मत पर मतदान होगा। राज्यपाल ने ये भी स्पष्ट किया है कि 16 मार्च 2020 को ही उपरोक्त कार्यवाही पूरी की जाएगी। इस दौरान न स्थगन होगा, न देरी की जाएगी और न ही ये प्रक्रिया निलंबित की जाएगी। उन्होंने पत्र में कहा है कि सीएम ने भी अपने 13 तारीख के पत्र में फ्लोर टेस्ट के लिए सहमति जताई थी।

यह भी पढ़ें: अभी-अभी सेना ने गिराए 4 आतंकी, हमला देख थर-थर कांपा पाकिस्तान

6 कांग्रेसी विधायकों के इस्तीफे हुए स्वीकार

वहीं मध्यप्रदेश में सियासी संकट के बीच बागी हुए 22 कांग्रेसी विधायकों में छह के इस्तीफे शनिवार को स्वीकार कर लिए गए हैं। हालांकि सभी 22 विधायकों ने अपने इस्तीफे विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति को भेजे थे।

इन विधायकों के इस्तीफे किए गए स्वीकार

मगर उन्होंने यह तर्क देते हुए इन इस्तीफों को अस्वीकार कर दिया कि उन्हें खुद अध्यक्ष के सामने हाजिर होकर अपना पक्ष रखना होगा। मध्यप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष ने कांग्रेस विधायक गोविन्द राजपूत, इमरती देवी, तुलसी सिलावट, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रभुराम चौधरी और प्रद्यम्न सिंह तोमर के इस्तीफे स्वीकार किए हैं।

यह भी पढ़ें: BJP नेताओं के खिलाफ पोस्टर लगाने पर फंसी कांग्रेस, लिया गया ये एक्शन

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story