Top

BJP नेता को धमकी देना पड़ा भारी: देर रात इस MLA को उठा ले गयी पुलिस

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता को धमकी देना एक विधायक को महंगा पड़ गया। भाजपा प्रवक्ता की शिकायत पर पुलिस ने देर रात विधायक को गिरफ्तार कर लिया।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 6 Feb 2020 7:01 AM GMT

BJP नेता को धमकी देना पड़ा भारी: देर रात इस MLA को उठा ले गयी पुलिस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोवा: भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता को धमकी देना एक विधायक को महंगा पड़ गया। भाजपा प्रवक्ता की शिकायत पर पुलिस ने देर रात विधायक को गिरफ्तार कर लिया। मामला गोवा का है, जहां एक निर्दलीय विधायक पर भाजपा प्रवक्ता प्रेमानंद महाम्ब्रे को धमकी देने का आरोप लगने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

गोवा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रेमानंद महाम्ब्रे ने लगाया आरोप:

दरअसल, गोवा पुलिस ने भाजपा की राज्य इकाई के प्रवक्ता को कथित रूप से धमकाने के मामले में निर्दलीय विधायक रोहन खाउंटे को बुधवार देर रात गिरफ्तार किया है। भाजपा के राज्य प्रवक्ता प्रेमानंद म्हाम्बरे ने खाउंटे के खिलाफ पुलिस में बुधवार को शिकायत दर्ज कराते हुए विधायक पर उन्हें धमकाने का आरोप लगाया था।

ये भी पढ़ें: अभी-अभी हुआ बड़ा हादसा: दहला यूपी, बिछ गयी लाशें ही लाशें

निर्दलीय विधायक रोहन खाउंटे को पुलिस ने किया गिरफ्तार:

इस बारे में पुलिस उपाधीक्षक (पोरवोरिम) एडविन कोलाको ने बताया कि खाउंटे को बुधवार को देर रात गिरफ्तार किया गया । उन्होंने इस बारे में उन्होंने अधिक जानकारी देने से इनकार कर दिया।

ये भी पढ़ें: हिंदू नेता रणजीत बच्चन का हत्यारा चढ़ा पुलिस के हत्थे, यहां से हुई गिरफ्तारी

सूत्रों के मुताबिक़, विधायक की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने विधानसभा स्पीकर राजेश पाटेकर से इजाजत ली थी। पुलिस सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि गोवा पुलिस ने विधानसभा अध्यक्ष राजेश पाटनेकर से मुलाकात की जिसके बाद खाउंटे को गिरफ्तार किया गया। बता दें कि विधानसभा का सत्र जारी होने के कारण अध्यक्ष की अनुमति लेना अनिवार्य था।

पुलिस ने गिरफ्तारी से पहले विधानसभा स्पीकर से ली इजाजत:

पुलिस का कहना है कि आरोपी एक प्रभावशाली व्यक्ति और एक निर्वाचित प्रतिनिधि है जबकि शिकायतकर्ता एक राजनीतिक दल का प्रवक्ता है जिसके कारण दिक्कतें बढ़ सकती है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि राज्य के पूर्व राजस्व मंत्री को भारतीय दंड संहिता की धारा 341 (गलत तरीके से रोकना) और 323 (जानबूझकर कर नुकसान पहुंचाना) के तहत गिरफ्तार किया गया है।

हालांकि गिरफ्तार विधायक का कहना है कि भाजपा हताश हो गयी है, क्योंकि हम सदन में उनकी असलियत सामने ला रहे हैं। इसीलिए ध्यान भटकाने के लिए इस तरह के प्रयास कर रही हैं। उन्होंने कहा कि मैंने किसी को छुआ तक नहीं।

ये भी पढ़ें: दिल्ली चुनाव से पहले इस दिग्गज उम्मीदवार पर जानलेवा, ऐसी है हालत…

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story