Top

राज्यसभा में PM मोदी ने CAA और NPR पर विपक्ष को दिखाया आईना

राष्ट्रपति के अभिभाषण प्रस्ताव पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर पीएम मोदी ने राज्यसभा में कांग्रेस और विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नए दशक में, नए कलेवर की जो अपेक्षा थी, उससे मुझे निराशा मिली है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 6 Feb 2020 1:29 PM GMT

राज्यसभा में PM मोदी ने CAA और NPR पर विपक्ष को दिखाया आईना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: राष्ट्रपति के अभिभाषण प्रस्ताव पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर पीएम मोदी ने राज्यसभा में कांग्रेस और विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि नए दशक में, नए कलेवर की जो अपेक्षा थी, उससे मुझे निराशा मिली है। आप जहां थे, वहीं ठहर गए हैं। वही पुरानी बातें करते रहे।

पीएम मोदी ने कहा कि गुलाम नबी आजाद ने ये आरोप लगाया कि संसद में अनुच्छेद 370 हटाने के मामले पर चर्चा नहीं हुई। पीएम ने कहा कि गुलाम नबी आजाद को ये कहने से पहसे उस दौर का याद करना चाहिए जब तेलंगाना बनाने के लिए संसद में चर्चा हो रही थी। संसद के दरवाजे बंद कर दिए गए थे। लाइव प्रसारण रोक दिया गया था।

राज्यसभा में अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने लाल बहादुर शास्त्री के वक्तव्य का हवाला दिया और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा।पीएम मोदी ने कहा कि शास्त्री जी ने संसद में 3 अप्रैल 1964 को दिया था कि जहां तक ईस्ट पाकिस्तान का ताल्लुख है, उसका ये फैसला मालूम होता है कि वहां से नॉन मुस्लिम जितने हैं, सब निकाल दिए जाएं, वो एक इस्लामिक स्टेट है, इस्लामिक स्टेट के नाते वो सोचता है कि वहां इस्लाम को मामने वाले ही रह सकते हैं। गैर इस्लामी लोग नहीं रह सकते हैं। वहां से हिंदू-ईसाई निकाले जा रहें। बौद्ध भी वहां से निकाले जा रहे हैं। ये शब्द उस महापुरुष के हैं जो देश के प्रिय प्रधानमंत्री रहे हैं, ये श्रद्धेय लाल बहादुर शास्त्री जी के हैं। अब आप उन्हें भी कम्युनल कह देंगे, उन्हें भी आप डिवाडर कह देंगे।



यह भी पढ़ें...इस सुपरस्टार के घर छापेमारी, रोकी गई शूटिंग और निकले नोट ही नोट

पीएम मोदी ने कहा कि राम मनोहर लोहिया जी ने कहा था कि हिंदुस्तान का मुसलमान जिए और पाकिस्तान का हिंदू जिए, मैं इस बात को बिल्कुल ठुकराता हूं कि पाकिस्तान के हिंदू, पाकिस्तान के नागरिक हैं इसलिए हमें उनकी परवाह नहीं करनी है। पाकिस्तान का हिंदू चाहे कहीं का भी नागरिक हो, उसकी रक्षा करना हमारा उतना ही कर्तव्य है, जितना हिंदुस्तान के किसी हिंदू या मुसलमान का। हमारे समाजवादी साथी हमें माने न माने, लेकिन अब लोहिया जी को नकारने का काम न करे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में कहा कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार जम्मू कश्मीर के गरीब सामान्य वर्ग को आरक्षण का लाभ मिला, पहली बार पहाड़ी भाषी लोगों को आरक्षण का लाभ मिला, पहली बार महिलाओं का ये अधिकार मिला कि वो अगर राज्य के बार विवाह करती हैं तो उनकी संपत्ति का अधिकार छीना नहीं जाएगा।



यह भी पढ़ें...मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, आपके रास्ते पर चलते तो कुछ न कर पाते

उन्होंने कहा कि पहली बार जम्मू-कश्मीर में एंटी करप्शन ब्यूरो की स्थापना हुई, पहली बार वहां अलगाववादियों के सत्कार की परंपरा समाप्त हो गई। पहली बार जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ पुलिस और सेना मिलकर निर्णायक कार्रवाई कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आतंकवादियों को सीमापार से हो रही फंडिग पर नियंत्रण लगा। पहली बार जम्मू-कश्मीर के पुलिस कर्मियों को वो भत्ते मिल रहे हैं जो अन्य राज्य के पुलिस कर्मियों को मिल रहे हैं। जम्मू-कश्मीर में पीएम पैकेज समेत अन्य कई योजनाओं को तेजी से आगे बढ़ाया जा रहा है। पीएम ने कहा कि 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 का हटना, आतंक और अलगाव को बढ़ावा देने वालों के लिए ब्लैक डे सिद्ध हो चुका है।



पीएम मोदी ने कहा कि ब्रू जनजाति की समस्याओं को अपने खत्म कर दिया है। उन्होंने कहा कि नार्थ ईस्ट अभूतपूर्व शांति के साथ आज भारत की विकास यात्रा का एक अग्रिम भागीदार बना है। उन्होंने कहा कि 40-50 वर्षों से नॉर्थ ईस्ट में हिंसक आंदोलन चलते थे, लेकिन आज वो आंदोलन समाप्त हुए हैं और शांति की राह पर नॉर्थ ईस्ट आगे बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें...मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला, आपके रास्ते पर चलते तो कुछ न कर पाते

उन्होंने कहा कि यहां अर्थव्यवस्था के विषय में चर्चा हुई। देश में निराश होने का कोई वजह नहीं है। पीएम ने कहा कि अर्थव्यवस्था के जो बेसिक मानदंड है, उनमें आज भी देश की अर्थव्यवस्था सशक्त है, मजबूत है और आगे जाने की ताकत रखती है।

पीएम मोदी ने कहा कि निराशा देश का भला कभी नहीं करती, इसलिए 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी की बात का सुखद परिणाम यह हुआ कि जो विरोध करते हैं, उन्हें भी 5 ट्रिलियन डॉलर की बात करनी पड़ती है। मानसिकता तो बदली है हमने।



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में जीएसटी पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि अगर विपक्ष को जीएसटी पर ज्यादा ज्ञान था तो इतने साल तक लटकाए क्यों रखा? पीएम ने कहा कि विपक्ष को भ्रम नहीं फैलाना चाहिए। अगर जीएसटी की दरें बार-बार बदली है तो ये अच्छी बात है।

यह भी पढ़ें...इनको मिली राम मंदिर की जिम्मेदारी, जानें कौन हैं ये शख्स…

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जीएसटी भारत के फेडरल स्ट्रक्चर की एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि अब राज्यों की भावनाओं का उसमें प्रकटीकरण होता है। हमारा मत है कि जहां समयानुकूल परिवर्तन आवश्यक हैं, परिवर्तन होना चाहिए।

पीएम मोदी ने कहा कि आज छोटे स्थानों पर डिजिटल ट्रांजैक्शन सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है और आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर के निर्माण में भी टियर-2, टियर-3 शहर आगे बढ़ रहे हैं। पीएम ने कहा कि उड़ान स्कीम के तहत हाल ही में 250वां रूट शुरू हुआ है, इस क्षेत्र में बदलाव की गति तेज है। हमारे पास पहले 65 कार्यरत एयरपोर्ट थे आज इनकी संख्या 100 पहुंच गई है।



नागरिकता संशोधन कानून पर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हिंसा को प्रदर्शन का नाम दे दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में कांग्रेस की मजबूरी उन्हें समझ में आती है।

यह भी पढ़ें...भारत मेडागास्कर के बीच समुद्री सुरक्षा सहयोग पर बनी सहमति

पीएम मोदी ने कहा कि केरल के सीएम कहते हैं कि सीएए के खिलाफ प्रदर्शन में चरमपंथी तत्वों का हाथ है। उन्होंने इनके खिलाफ कार्रवाई की बात भी कही है, लेकिन आश्चर्य होता है कि वे केरल में जिस चीज का विरोध करते हैं दिल्ली में उसका समर्थन करते हैं।

पीएम ने कहा कि क्या देश को भ्रमित और गलत सूचना देना सही है। क्या कोई इस मुहिम का हिस्सा हो सकता है। सीएए पर कई विरोधी पार्टियों का रुख दुर्भाग्यपूर्ण है। पीएम ने कहा कि लोगों को डराने की बजाय सही जानकारी दीजिए। उन्होंने कहा कि विपक्ष के कुछ साथी जो साइलेंट थे अब वाइलेंट हो गए हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story