शिवसेना बोली, मोदी और उद्धव भाई-भाई, राउत ने फडणवीस पर कही ये बड़ी बात

महाराष्ट्र में शिवसनेा-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन की सरकार बन चुकी है। उद्धव ठाकरे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली। प्रदेश की कमान संभालने के बाद उद्धव ठाकरे ने कई फैसलों का ऐलान किया।

नई दिल्ली: महाराष्ट्र में शिवसनेा-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन की सरकार बन चुकी है। उद्धव ठाकरे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली। प्रदेश की कमान संभालने के बाद उद्धव ठाकरे ने कई फैसलों का ऐलान किया।

महाराष्ट्र की जनता से किए वादों को पूरा ने करने के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को केंद्र सरकार की मदद की जरूरत होगी। इसलिए अब उनकी निगाहें केंद्र सरकार पर है।

यह भी पढ़ें…ये सवाल सुनकर आगबबूला हुए CM उद्धव ठाकरे, लिया ये बड़ा फैसला

‘मोदी-उद्धव भाई-भाई’

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में कहा कि महाराष्ट्र की राजनीति में बीजेपी-शिवसेना में अन-बन है, लेकिन नरेंद्र मोदी और उद्धव ठाकरे का रिश्ता भाई-भाई का है। इसलिए महाराष्ट्र के छोटे भाई को प्रधानमंत्री के रूप में साथ देने की जिम्मेदारी मोदी की है।

प्रधानमंत्री पूरे देश के होते हैं, सिर्फ एक पार्टी के नहीं होते। इसे स्वीकार करें तो जो हमारे विचारों के नहीं हैं, उनके लिए सरकार अपने मन में राग-लोभ क्यों रखे? महाराष्ट्र की जनता ने जो निर्णय दिया है, दिल्ली उसका सम्मान करे और सरकार की स्थिरता न डगमगाए, इसका खयाल रखे। इसके साथ ही प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर तंज कसा है। आगे कहा गया है कि महाराष्ट्र जीता-जागता पुरुषार्थ है, यह पुरुषार्थ छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रेरणा से यहां की माटी के कण-कण में दिखाई देता है।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र में आज से ठाकरे राज, ‘उद्धव’ बने CM, इन 6 मंत्रियों ने ली शपथ

फडणवीस ने 5 लाख करोड़ का कर्ज लादा

शिवसेना ने सामना में कहा कि महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार सत्य और न्याय की सारी कसौटियों पर खरी उतरकर स्थिर रहेगी। इसके अलावा बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि पांच साल में राज्य पर पांच लाख करोड़ का कर्ज लादकर फडणवीस सरकार चली गई। इसलिए नए मुख्यमंत्री ने जो संकल्प लिया है, उस पर तेजी से और सावधानीपूर्वक काम किया जाएगा।

फडणवीस पर संजय राउत का हमला

शिवसेना नेता संजय राउत ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर तंज कसा है। उन्होंने फडणवीस के विपक्ष का अस्तित्व नहीं रह जाने वाले पुराने बयान को लेकर चुटकी ली है। राउत ने ट्वीट कर कहा है कि महाराष्ट्र में विरोधी पक्ष ही नहीं रहेगा, यह दावा करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को विरोधी दल नेता चुने जाने पर हार्दिक बधाई…!’

यह भी पढ़ें…चाचा- भतीजे की राजनीति में कभी ‘चाचा’ तो कभी ‘भतीजा’ पड़ा भारी

सुराज्य का उत्सव

शिवसेना के मुखपत्र में कहा गया है कि देश की अर्थव्यवस्था मुंबई के भरोसे चल रही है। देश को सबसे ज्यादा रोजगार मुंबई जैसा शहर देता है और देश की सीमा की रक्षा तो महाराष्ट्र की परंपरा रही है। इसलिए अब महाराष्ट्र से अन्याय नहीं होगा और उसका सम्मान होगा। दिल्ली के दरबार में महाराष्ट्र चौथी-पांचवीं कतार में नहीं खड़ा होगा बल्कि आगे रहकर ही काम करेगा। महाराष्ट्र में सुराज्य का उत्सव शुरू हो चुका है।

यह भी पढ़ें…बहुत बूरे फंसी कंगना रनौत, इस दिग्गज नेता की भतीजी ने लगाया बड़ा आरोप

फडणवीस का हमला

तो वहीं फडणवीस ने उद्धव सरकार के कॉमन मिनिमम प्रोग्राम को लेकर हमला बोला है। उन्होंने भी ट्विटर के जरिए अपनी बात रखते हुए कहा, ‘महाविकास अघाड़ी ने अपने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम की घोषणा की, लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि इसमें मराठवाड़ा, विदर्भ और उत्तर महाराष्ट्र का कोई जिक्र भी नहीं किया गया। उम्मीद है कि नई सरकार इस पर गौर करेगी।’

गौरतलब है कि तीना दलों के कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में किसान, बेरोजगारी, महिला, शिक्षा, शहरी विकास, स्वास्थ्य, सामाजिक न्याय आदि मुद्दों पर कई घोषणाएं की गई हैं।