गहलोत का बड़ा दावा: पायलट सरकार गिराने के लिए कर रहे थे ऐसा, मेरे पास हैं प्रूफ

राजस्थान में उठे सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी पर कांग्रेस के विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया है।

जयपुर: राजस्थान में उठे सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी पर कांग्रेस के विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया है। सीएम ने यह भी कहा कि खुद हमारे उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट सरकार गिराने के लिए डील कर रहे थे। हमारे विधायकों को पैसे का लालच दिया जा रहा है। इसके मेरे पास प्रूफ हैं। लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश हो रही है।

यह भी पढ़ें: आपके काम की बात: जानें गृह विज्ञान का महत्त्व, इन चीजों के लिए लाभदायक

मानेसर वाला खेल यहां होने वाला था

अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर हमला करते हुए बोला कि हमें पहले भी अपने विधायकों को दस दिनों तक होटल में रखा पड़ा। अगर हम ऐसा ना करते तो मानेसर वाला खेल उस समय होने वाला था। रात के दो बजे लोगों को भेजा जा रहा था। साजिश में शामिल नेता सफाई दे रहे थे। उन्होंने कहा कि जयपुर में खरीद-फरोख्त की तैयारी हुई। मेरे पास इसके पर्याप्त सुबूत हैं।

यह भी पढ़ें: तबाही का नया मंजर: चीन के बाद अमेरिका हुआ शिकार, पहले ही हो चुकी लाखों मौते

दिल्ली में बैठे लोग सरकार गिराने की रच रहे साजिश

उन्होंने कहा कि हमारे उप मुख्यमंत्री और PCC चीफ से जब खरीद-फरोख्त की जानकारी मांगी गई तो वो सफाई दे रहे हैं। वह खुद इस साजिश में शामिल थे। दिल्ली में बैठे लोगों सरकार गिराने की साजिश रच रहे हैं। देश में लोकतंत्र को खत्म करने के लिए साजिश रची जा रही है। उन्होंने कहा कि यहां पर कर्नाटक और एमपी जैसे राजनीति की साजिश हो रही है।

यह भी पढ़ें: मणि मंजरी राय केस: परिजनों ने की सरकार से मांग, जल्द हो सीबीआई जांच

मुझे नई पीढ़ी से प्यार है

गहलोत ने कहा कि मैं 40 साल से राजनीति में हूं। हम नई पीढ़ी को तैयार करते हैं। मुझे नई पीढ़ी से प्यार है। वो भविष्य हैं। उन्होंने सचिन पायलट पर निशाना साधते हुए कहा कि लोग कहते हैं हम नई पीढ़ी को पसंद नहीं करते हैं। मैं उन्हें पसंद करता हूं। जब भी मीटिंग होती है तो मैं युवाओं और एनएसयूआई के लिए लड़ाई लड़ता हूं।

यह भी पढ़ें: हो जाएंगे मालामालः अब शुरू करें इसकी खेती, देगी लागत से दोगुना से अधिक मुनाफा

केवल अच्छी अंग्रेजी बोलना और हैंडसम होना काफी नहीं

उन्होंने कहा कि इनकी बिना रगड़ाई हुए केंद्रीय मंत्री और पीसीसी चीफ बन गए, इसलिए यह समझ नहीं पा रहे हैं। अगर ऐसा हुआ होता तो आज ये अच्छा काम करते। उन्होंने कहा कि अच्छी अंग्रेजी बोलना, मीडिया से अच्छे से बात करना और हैंडसम हो जाना ही सब कुछ नहीं होता है। आपके दिल में देश के लिए क्या है, आपकी विचारधारा, सिद्धांत और कमिटमेंट बहुत मायने रखता है।

यह भी पढ़ें: भारत हो जाएगा अमीर: यहां खदान में लाखों टन सोना, अब जल्द होगी नीलामी

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App