शिवराज के सीएम बनते ही स्पीकर ने दिया इस्तीफा, नई सरकार ने बुलाई विधानसभा

सत्ता संभालते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा सत्र बुला लिया है। आज हालाँकि उनके सीएम बनते ही स्पीकर ने नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने इस्तीफा दे दिया।

भोपाल: शिवराज सिंह चौहान की 16 महीने बाद मध्य प्रदेश की सत्ता में दोबारा वापसी हो गयी। सोमवार रात 9 बजे भाजपा के शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के नए मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। वहीं सत्ता संभालते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विधानसभा सत्र बुला लिया है। आज हालाँकि उनके सीएम बनते ही स्पीकर ने नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने इस्तीफा दे दिया।

भाजपा सरकार के आते ही आज से विधानसभा सत्र शुरू:

कांग्रेस की कमलनाथ सरकार को राज्य की सत्ता से हटाने के बाद सीएम बने शिवराज सिंह एक्टीव हो गए हैं। उन्होंने मंगलवार को विधानसभा सत्र बुलाया है। नई सरकार के बनने के बाद आज से विधानसभा सत्र शुरू हो रहा है। बता दें कि इसके पहले विधानसभा को 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गयी थी।

ये भी पढ़ें: चौथी बार मुख्यमंत्री बनने के बाद शिवराज ने सिंधिया और कांग्रेस के बागियों को कहा शुक्रिया

आज पेश करेंगे विश्वासमत

सत्र के पहले ही दिन बीजेपी की नई सरकार सदन में विश्वास मत पेश करेगी। यह सत्र 27 मार्च तक चलेगा। 4 दिन चलने वाले इस सत्र में कुल 3 बैठकें होंगी। इस दौरान वित्तीय वर्ष 2020-21 का लेखानुदान भी पेश किया जाएगा

ये भी पढ़ें: MP के चौथी बार मुख्यमंत्री बनें शिवराज, ली CM पद की शपथ

शिवराज के सीएम बनते ही विधानसभा स्पीकर ने दिया इस्तीफा:

जहां एक तरफ आज से विधानसभा की कार्यवाही शुरू होनी है, तो दूसरी ओर विधनासभा स्पीकर नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने सत्र शुरू होने से पहले ही स्तीफा दे दिया।

ये भी पढ़ें: बिना चर्चा पास हुआ वित्त विधेयक, लोकसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

विधानसभा स्पीकर ने शिवराज के शपथ ग्रहण के बाद बीती आधी रत अपना इस्तीफा उपाध्यक्ष को भेज दिया। इस्तीफा के पीछे का आधार उन्होंने नैतिकता बताया।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।