Top

बंगाल में डूबेगी TMC: ममता को फिर बड़ा झटका, कई नेता भाजपा में होंगे शामिल

सियासी जानकारों का कहना है कि मुर्मू भाजपा का दामन थामने की तैयारी में है। इसका आधिकारिक एलान आज देर शाम तक किया जा सकता है। उनके साथ टीएमसी के 14 अन्य नेताओं के भी भाजपा में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 8 March 2021 11:35 AM GMT

बंगाल में डूबेगी TMC: ममता को फिर बड़ा झटका, कई नेता भाजपा में होंगे शामिल
X
बंगाल में डूबेगी TMC: ममता को फिर बड़ा झटका, कई नेता भाजपा में होंगे शामिल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में भाजपा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक और बड़ा झटका देने की तैयारी की है। मालदा जिले की हबीबपुर विधानसभा सीट से टीएमसी की प्रत्याशी घोषित की गईं। सरला मुर्मू ने सोमवार को अपने समर्थकों के साथ पार्टी छोड़ दी। सरला मुर्मू का टीएमसी छोड़ना ममता के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि पिछले दिनों जारी टीएमसी के 291 प्रत्याशियों की सूची में सरला मुर्मू का नाम भी शामिल था।

सियासी जानकारों का कहना है कि मुर्मू भाजपा का दामन थामने की तैयारी में है। इसका आधिकारिक एलान आज देर शाम तक किया जा सकता है। उनके साथ टीएमसी के 14 अन्य नेताओं के भी भाजपा में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है।

ममता को लग रहे लगातार झटके

पश्चिम बंगाल में सियासी जंग शुरू होने के बाद से ही भाजपा लगातार टीएमसी को झटके देने में जुटी हुई है। शुभेंदु अधिकारी और राजीव बनर्जी समेत टीएमसी के कई नेताओं ने पार्टी छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया है और ये सभी अब भाजपा के चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं। शुभेंदु तो नंदीग्राम में ममता बनर्जी से दो-दो हाथ करने के लिए तैयार हैं।

यह भी पढ़ें: बंगाल: हमलावरों ने बीजेपी नेता का सीना गोलियों से किया छलनी, टीएमसी पर आरोप

SARLA MURMU (फोटो- सोशल मीडिया)

दूसरी सीट से टिकट चाहती थीं मुर्मू

टीएमसी को झटका देने वाले नेताओं में अब ताजा नाम सरला मुर्मू का भी जुड़ गया है जिन्हें ममता बनर्जी ने मालदा की हबीबपुर विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा था। जानकार सूत्रों का कहना है कि मुर्मू ममता से पुराना मालदा विधानसभा सीट से टिकट मांग रही थीं मगर ममता ने उन्हें हबीबपुर से चुनाव मैदान में उतारने की घोषणा की थी। इस कारण वे ममता से नाराज बताई जा रही थीं।

मनोवांछित विधानसभा सीट न मिलने से नाराज होकर मुर्मू ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। मालदा में मुर्मू के साथ कई अन्य टीएमसी नेता भी भाजपा में जाने के लिए तैयार हैं। इनमें मालदा जिला परिषद के अध्यक्ष गौर चंद्र मंडल और टीएमसी के कोआर्डिनेटर अमलान भादुड़ी का नाम भी शामिल है।

समर्थकों समेत भाजपा में जाने की तैयारी

जानकार सूत्रों का कहना है कि मुर्मू समेत टीएमसी छोड़ने वाले सभी नेताओं की भाजपा से बातचीत हो चुकी है और इन सभी नेताओं के सोमवार को ही देर शाम तक पार्टी में शामिल किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक इसके लिए कोलकाता में भाजपा के चुनाव कार्यालय में कार्यक्रम आयोजित करने के लिए तैयारियां हैं।

टीएमसी ने हबीबपुर से बदला प्रत्याशी

सरला मुर्मू के टीएमसी छोड़ने के बाद टीएमसी नेतृत्व ने डैमेज कंट्रोल करते हुए तत्काल हबीबपुर विधानसभा सीट से प्रदीप बास्के को चुनाव मैदान में उतारने की घोषणा की है। पार्टी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पार्टी ने हबीबपुर विधानसभा सीट से अपना उम्मीदवार बदलने का फैसला किया है क्योंकि यहां की प्रत्याशी सरला मुर्मू का स्वास्थ्य ठीक नहीं है।

यह भी पढ़ें: ज्योतिषाचार्यों की बड़ी भविष्यवाणी, जानिए पश्चिम बंगाल में किसकी होगी जीत

वैसे सरला मुर्मू का टिकट घोषित होने के बाद पार्टी छोड़ने का फैसला ममता बनर्जी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि टीएमसी में इस तरह का यह पहला मामला सामने आया है।

pm modi (फोटो- सोशल मीडिया)

टीएमसी के बयान पर भाजपा का तंज

उधर भारतीय जनता पार्टी ने खराब स्वास्थ्य के कारण हबीबपुर से विधानसभा प्रत्याशी बदलने के टीएमसी के बयान पर तंज कसा है। भाजपा का कहना है कि सरला मुर्मू ने पार्टी नेतृत्व से नाराज होकर टीएमसी से इस्तीफा दिया है और टीएमसी नेतृत्व की ओर से झूठा बयान दिया जा रहा है।

जानकार सूत्रों का कहना है कि सरला मुर्मू रविवार को पीएम मोदी की रैली में भी पहुंची थीं और उन्होंने कुछ टीवी चैनलों से बातचीत भी की थी। ऐसे में माना जा रहा है कि उनके खराब स्वास्थ्य की बात कह कर टीएमसी नेतृत्व की ओर से फेस सेविंग की जा रही है।

मालदा में हो गया था सूपड़ा साफ

मालदा जिले में पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान भी तृणमूल कांग्रेस को भारी झटका लगा था। तृणमूल कांग्रेस मालदा में एक भी सीट जीतने में कामयाब नहीं हो पाई थी, जबकि भाजपा ने यहां से दो सीटें जीती थीं। कांग्रेस सबसे ज्यादा 8 सीटें जीतने में कामयाब हुई थी। माकपा और निर्दलीय उम्मीदवारों के हिस्से में एक एक सीट आई थी।

अब इस जिले में सरला मुर्मू के भी पार्टी छोड़ देने से पार्टी को भारी झटका लगा है। जानकारों का कहना है कि सरला मुर्मू भाजपा से अपनी मनपसंद सीट पाने की कोशिश में जुटी हुई हैं और अब ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि भाजपा इस बाबत क्या फैसला करती है।

यह भी पढ़ें: बंगाल में चुनावी संग्राम, PM मोदी के हमलों पर ममता की ‘खेला होबे’ की चुनौती

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story