Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

महबूबा का विवादित बयान-हमारा झंडा किया जाए वापस, वरना नहीं उठाएंगे तिरंगा

महबूबा मुफ्ती को आर्टिकल 370 हटाए जाने से पहले पुलिस ने कस्टडी में ले लिया था। 434 दिन बाद महबूबा मुफ्ती को रिहा किया गया था। रिहाई के बाद महबूबा ने आते ही 370 की फिर से बहाली के लिए आवाज उठानी शुरू कर दी है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 23 Oct 2020 12:28 PM GMT

महबूबा का विवादित बयान-हमारा झंडा किया जाए वापस, वरना नहीं उठाएंगे तिरंगा
X
सज्जाद लोन के गुपकार गठबंधन छोडऩे के बाद अब महबूबा मुफ्ती पर भी इस समूह को छोड़ने का दबाव बढ़ा रहा है। पीडीपी के नेता ही यह प्रेशर बना रहे हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जम्मू: जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि जब तक हमारा झंडा वापस नहीं कर दिया जाता, हम दूसरा झंडा नहीं उठाएंगे।

उन्होंने ये बातें एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही और जम्मू कश्मीर राज्य का झंडा लहराया। मुफ्ती ने कहा कि जब तक वह (केंद्र सरकार) हमारे हक (370) को वापस नहीं करते हैं, तब तक मुझे कोई भी चुनाव लड़ने में दिलचस्पी नहीं है।

महबूबा मुफ्ती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी जमकर निशाना साधा। कहा कि आज बिहार में वोट बैंक के लिए पीएम मोदी को अनुच्छेद 370 का सहारा लेना पड़ रहा है।

फारुख अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती की फाइल फोटो जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें…यूपी में चली गोलियां: अंधाधुंध फायरिंग में तीन बदमाश घायल, यहां हुआ एनकाउंटर

बाबरी मस्जिद का किया जिक्र

जब वे चीजों पर विफल होते हैं तो वे कश्मीर और 370 जैसे मुद्दों को उठाते हैं। वास्तविक मुद्दे पर बात नहीं करना चाहते हैं। बीजेपी ने बाबरी मस्जिद के आसपास ऐसा माहौल तैयार किया जैसे मानो वह कभी मौजूद ही न हो।

मेरा संघर्ष कश्मीर समस्या के समाधान के लिए होगा। जब तक जम्मू-कश्मीर में 370 को बहाल नहीं कर दिया जाता, मेरा संघर्ष जारी रहेगा।

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जम्मू-कश्मीर कभी भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इतना प्रसिद्ध नहीं था, जितना अब है। लद्दाख का जिक्र करते हुए कहा कि चीन ने लद्दाख में 1000 वर्ग किमी से अधिक जमीन पर कब्जा कर लिया।

ये भी पढ़ें…PUBG Mobile की भारत में वापसी! हुआ जॉब ऑफर, कोरियाई डेवलपर कर रहे काम

China And Xi Jinping चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की फोटो(सोशल मीडिया)

लद्दाख और कश्मीर को लेकर चीन की वकालत

चीन ने 370 को हटाने और भारत द्वारा किए गए परिवर्तनों पर खुलकर एतराज जत्या है। वे इस बात से कभी इनकार नहीं कर सकते हैं।

यहां बता दें कि महबूबा मुफ्ती को आर्टिकल 370 हटाए जाने से पहले पुलिस ने कस्टडी में ले लिया था। 434 दिन बाद महबूबा मुफ्ती को रिहा किया गया था। रिहाई के बाद महबूबा ने आते ही 370 की फिर से बहाली के लिए आवाज उठानी शुरू कर दी है। उनके साथ इस मुहिम का हिस्सा जम्मू-कश्मीर के कई राजनीतिक दल बन गये हैं।

ये भी पढ़ें…राहुल गांधी का हेलीकॉप्टर: बिना अनुमति होगा यहां लैंड, हो सकता है विवाद…

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story