Top

जन्मदिन पर विशेषः मिकी माउस के जन्मदाता रॉय ओलिवर डिजनी

1966 में वॉल्ट की मृत्यु के बाद, रॉय ने डिज़नी वर्ल्ड के नाम से जाने वाले निर्माण की देखरेख के लिए अपनी सेवानिवृत्ति को स्थगित कर दिया। उन्होंने अपने भाई को श्रद्धांजलि के रूप में इसका नाम वॉल्ट डिज्नी वर्ल्ड रखा। रॉय 15 दिसंबर, 1966 से 1968 तक वॉल्ट डिज़नी प्रोडक्शंस के अध्यक्ष रहे।

राम केवी

राम केवीBy राम केवी

Published on 24 Jun 2020 6:38 AM GMT

जन्मदिन पर विशेषः मिकी माउस के जन्मदाता रॉय ओलिवर डिजनी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रामकृष्ण वाजपेयी

बच्चों को मिकी माउस का कार्टून चैनल व कॉमिक्स बहुत पसंद आते हैं लेकिन क्या आपको पता है मिक्की माउस के जन्मदाता कौन थे। मिक्की माउस के जन्मदाता थे जॉन ओलिवर डिजनी और इनके भाई वॉल्ट डिज्नी। ओलिवर डिज्नी का आज जन्मदिन है। इनका जन्म 24 जून 1893 में अमेरिका के शिकागो शहर में हुआ था यह वार्ड बिजली कंपनी के को फाउंडर थे और वॉल्ट डिज़्नी के बड़े भाई।

रॉय का जन्म शिकागो, इलिनोइस में हुआ था। 1911 में यह परिवार मार्कलाइन, मिसौरी और कैनसस सिटी चला गया। 1 जुलाई, 1911 को इलायस ने द कैनसस सिटी स्टार नामक एक समाचार पत्र का वितरण शुरू किया। रॉय और उनके भाई, वॉल्ट इस काम में हाथ बंटाया करते थे।

रॉय ने 1912 में मैनुअल ट्रेनिंग हाई स्कूल ऑफ कैनसस सिटी से स्नातक किया। उन्होंने अखबार वितरण काम छोड़ दिया और गर्मियों में एक खेत पर काम किया। उसके बाद उन्होंने पहले नेशनल बैंक ऑफ़ कैनसस सिटी में भाई रेमंड अर्नोल्ड डिज़नी के साथ एक क्लर्क के रूप में कार्य किया।

सेना व बैंक में भी किया काम

रॉय ने 1917 से 1919 तक संयुक्त राज्य की नौसेना में कार्य किया। इस बीच रॉय को तपेदिक यानी टीबी हो गई और इसलिए उन्हें सैन्य ड्यूटी से छुट्टी दे दी गई। वह लॉस एंजिल्स आ गए और अस्पताल में भर्ती रहने के दौरान बैंकर के रूप में काम करते रहे।

1923 में, भाई वॉल्ट ने रॉय को हॉलीवुड में शामिल कर लिया और दोनों ने डिज्नी ब्रदर्स स्टूडियो की शुरुआत की योजना बनाई। भाइयों ने 1928 में, लॉस फेलिज में लिरिक एवेन्यू पर अपने घरों का निर्माण किया।

रॉय और वॉल्ट की जोड़ी

वॉल्ट ने रचनात्मक पक्ष का नेतृत्व किया, जबकि रॉय ने व्यावसायिक पक्ष और वित्त का मार्गदर्शन किया। यह बात इस चीज से साबित होती है कि रॉय का छोटा भाई वॉल्ट डिज्नी ही असल में वह व्यक्ति था, जिसने मिकी माउस का पात्र गढ़ा दरअसल वॉल्ट को कार्टून बनाने का शौक था।

उन्हें जब भी मौका मिलता, वह कागज-कलम लेकर कार्टून बनाने बैठ जाते थे। वह चाहते थे कि अपने शौक को ही रोजगार का जरिया बनाएं। वह समाचार-पत्रों में छपे कार्टूनों को ध्यान से देखते थे। इसके बाद उन्होंने समाचार-पत्रों में कार्टून बनाने का बहुत प्रयास किया लेकिन सभी ने यह कहकर मना कर दिया कि उनमें प्रतिभा का अभाव है। लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और लगे रहे। उन्हें अपने लक्ष्य व कामयाबी की तलाश थी।

चर्च में जन्मा मिकी माउस

एक दिन एक चर्च के पादरी ने उन्हें कुछ कार्टून बनाने का काम दिया। उन्होंने खुशी-खुशी हामी भर दी और कहा, ‘मैं चर्च में बैठ कर ही कार्टून बनाऊंगा।’ कार्टून बनाते समय उन्हें चर्च में कुछ अजीब सी आवाजें सुनाई दीं। उन्होंने इधर-उधर देखा तो पाया कि बहुत सारे चूहे वहां पर उछलकूद मचा रहे थे।

चूहों की उछलकूद देख कर वह ध्यान से उनकी गतिविधियां देखने लगे। कुछ देर बाद उसके मन में ख्याल आया कि क्यों न चूहे का कार्टून बनाया जाए और इस तरह चर्च में मिकी माउस का जन्म हुआ। वॉल्ट डिज्नी के मिकी माउस के कार्टूनों ने कुछ ही समय में पूरे विश्व में धूम मचा दी। आज भी मिकी माउस का कार्टून बच्चों की पहली पसंद है।

रॉय और वॉल्ट ने मिलकर डिज्नी स्टूडियो को स्थापित किया, लेकिन वॉल्ट ने बाद में 1929 में रॉय का अधिकांश हिस्सा खरीद लिया। बाद में रॉय सह-निर्माता नहीं रहे हालांकि, रॉय प्रोडक्शन कंपनी के सभी पहलुओं में एक समान भागीदार थे।

पहले सीईओ रॉय

रॉय 1929 में कंपनी के पहले सीईओ बने, हालाँकि 1966 तक उन्हें आधिकारिक उपाधि नहीं दी गई थी। उन्होंने 1945 से वॉल्ट के साथ बोर्ड के अध्यक्ष की भूमिका भी साझा की। 1960 में वॉल्ट ने चेयरमैन का पद छोड़ दिया, ताकि वे कंपनी के रचनात्मक पहलुओं पर अधिक ध्यान केंद्रित कर सकें।

इसे भी पढ़ें मिनी माउस की आवाज रसी टेलर की आवाज हमेशा के लिए बंद, 75 साल की उम्र में निधन

1966 में वॉल्ट की मृत्यु के बाद, रॉय ने डिज़नी वर्ल्ड के नाम से जाने वाले निर्माण की देखरेख के लिए अपनी सेवानिवृत्ति को स्थगित कर दिया। उन्होंने अपने भाई को श्रद्धांजलि के रूप में इसका नाम वॉल्ट डिज्नी वर्ल्ड रखा। रॉय 15 दिसंबर, 1966 से 1968 तक वॉल्ट डिज़नी प्रोडक्शंस के अध्यक्ष रहे।

प्रसिद्धि से प्यार नहीं

रॉय ने अप्रैल 1925 में एडना फ्रांसिस से शादी की और मृत्यु तक वह साथ रहे। उनके बेटे, रॉय एडवर्ड डिज़नी का जन्म 10 जनवरी, 1930 को हुआ था। अपने पूरे जीवन में, रॉय ने प्रचार और प्रसिद्धि को अस्वीकार कर दिया जो वॉल्ट के भाई होने के साथ आया था। रॉय के भतीजे चार्ल्स एलियास डिज़्नी ने रॉय के सम्मान में अपने बेटे चार्ल्स रॉय डिज़नी का नाम रखा।

दोनो भाई एक ही जगह दफन

अक्टूबर 1971 में वॉल्ट डिज़नी वर्ल्ड के उद्घाटन के बाद, रॉय अंततः सेवानिवृत्त हो गए। 20 दिसंबर, 1971 को वृहद रक्तस्राव से 78 वर्ष की आयु में उनकी मृत्यु हो गई। लॉस एंजिल्स में फॉरेस्ट लॉन मेमोरियल पार्क (हॉलीवुड हिल्स) में वह दफन हैं, हालांकि उनके भाई को फॉरेस्ट लॉन मेमोरियल पार्क (ग्लेंडेल) में पांच साल पहले ही दफना दिया गया था।

वॉल्ट डिज़नी वर्ल्ड रेलरोड लोकोमोटिव का नाम रॉय के नाम पर रखा गया था। 6 जून 2002 को, उनके बेटे रॉय ई। डिज़्नी ने अपने पिता के सम्मान में इस लोकोमोटिव को फिर से शुरू किया। 2016 तक, यह लोकोमोटिव सौ साल पुराना हो गया। हांगकांग के डिज्नीलैंड रेलमार्ग इंजनों में से एक का नाम रॉय ओ. डिज्नी भी है।

इसे भी पढ़ें डिज्नी-फॉक्स के बीच हुआ बड़ा करार, जानिए क्या पड़ेंगा एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री पर असर

फ्लोरिडा के मैजिक किंगडम थीम पार्क में, मुख्य स्ट्रीट, U.S.A. के टाउन स्क्वायर सेक्शन में, मिन्नी माउस के पास एक पार्क में बेंच पर बैठी रॉय की एक प्रतिमा लगी है। इस तरह की एक अन्य प्रतिमा कैलिफोर्निया के बर्बैंक में डिज्नी के कॉर्पोरेट मुख्यालय में टीम डिज़नी भवन के बाहर स्थित है। टोक्यो डिज़नीलैंड थीम पार्क में एक तीसरी मूर्ति है। रॉय ओ। डिज़नी सुइट हांगकांग डिज़नीलैंड होटल के शीर्ष तल पर स्थित है।

2014 में, रॉय ओ. डिज़नी को जॉन हेडर की फीचर फिल्म वॉल्ट बिफोर मिकी में चित्रित किया गया था।

राम केवी

राम केवी

Next Story