Top

लॉकडाउन अलावा कोरोना के खिलाफ ये उपाय: सरकार कर सकती है बड़ा एलान

14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म हो जायेगा और फिलहाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी अवधि बढ़ाने को कोई संकेत नहीं दिए हैं। अब ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद सरकार कोरोना वायरस से निपटने के लिए और क्या-क्या कर सकती है।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 3 April 2020 5:48 PM GMT

लॉकडाउन अलावा कोरोना के खिलाफ ये उपाय: सरकार कर सकती है बड़ा एलान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्लीः कोरोना वायरस से निपटने के लिए मोदी सरकार ने पहले एक दिन कर्फ्यू लगाया और फिर 21 दिनों का लॉकडाउन। हालाँकि इसके बावजूद भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। 14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म हो जायेगा और फिलहाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी अवधि बढ़ाने को कोई संकेत नहीं दिए हैं। अब ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहा है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद सरकार कोरोना वायरस से निपटने के लिए और क्या-क्या कर सकती है।

14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म

कहा जा रहा है कि 14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म होने के बाद केंद्र सरकार बड़ा फैसला ले सकती है। इन्हे कोरोना वायरस से निपटने के लिए उपाय के तौर देखा जा सकता है।

ये भी पढ़ेंः 80 एकड़ में कब्रिस्तान बना डाला, पाकिस्तान का ऐसा भयावह माहौल

लॉकडाउन के बाद सरकार कर सकती है ये एलान

-इसके तहत मोदी सरकार देशभर में लागय लॉकडाउन की बढ़ा सकती है, ताकि इसे पूरी तरीके से खत्म किया जा सके। हालाँकि सरकार की तरफ से हाल में संकेत दिए गए कि लॉकडाउन को नहीं बढ़ाया जाएगा। लेकिन संक्रमण की स्थिति भारत में ऐसी ही रही तो अवधि बढ़ाने पर विचार किया जा सकता है।

कुछ राज्यों में लाॅकडाउन

-माना ये भी जा रहा है कि सरकार पूरे भारत को बंद करने के बजाय, उनको ख़ास राज्यों जहां कोरोना का आंकड़ा सबसे ज्यादा है, में धारा 144 जैसी स्थिति लागू कर सकती और अन्य राज्यों से लॉकडाउन हटा सकती है। हंलाकि राज्यों के बॉर्डर सील रहने की सम्भावना है।

ये भी पढ़ेंःयहां 1 महीने Lockdown: कोरोना के चलते लिया गया बड़ा फैसला, दिये सख्त आदेश

-केंद्र सरकार और राज्यों की सरकारें बड़े स्तर पर स्वास्थ्य योजना के तहत जागरूकता अभियान या डोर टू डोर जांच अभियान भी चलाया जा सकता है। कोरोना हेल्प लाइन नंबर या ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के जरिये संदिग्धों की पहचान कर कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोक सकती है। निशुल्क जांच की भी व्यवस्था कराई जा सकती है।

-सरकार वैक्सीन या कोरोना के इलाज के लिए बेहतर दवाइयों को बनाने पर ध्यान दे रही है। ऐसे में हो सकता है कि इस बाबत कोई बड़ा फैसला या एलान सरकार करें।

ये भी पढ़ेंःमर्सीडीज में दफनाया गया नेता: अनोखे तरीके से हुआ अंतिम संस्कार, तस्वीरें हिला देंगी

-हाल ही में तबलीगी जमात के कारण बढ़े कोरोना के मामलों पर भी सरकार सख्त रुख अपनाते हुए ऐसे कारगर उपाय करें, ताकि इस तरह के मामले भारत में दूसरे न हो। धार्मिक स्थलों और आयोजनों पर सरकार कुछ वक्त के लिए पाबंदी लगाए रह सकती है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story